Love sotry of ishita from bihar – बिहार से इशिता की लव स्टोरी

ये बात उस वक्त की है जब मैं 2011 में दसवीं का एग्जाम देकर पटना आई थी। वहां मैं अपनी फ्रेंड के घर रहती थी। उसका नाम निहारिका था, उसके ब्वॉयफ्रेंड का नाम रोहन था। वो दोनों एक-दूसरे से बहुत प्यार करते थे। उन दोनों से बात करते समय वे एक लड़के का जिक्र किया करते थे। वो रोहन का फ्रेंड था। मैंने उस लड़के के बारे में निहारिका से पूछा तो उसने बताया कि वह अच्छा इंसान है और उसकी एक जीएफ थी जिसकी शादी हो चुकी है, वो अपनी जीएफ से बहुत प्यार करता है और अकेला रहता है।

ishita love story
—-
मुझे उस लड़के के बारे में जानकर हैरानी हुई और मैं सोचने लगी कि पता नहीं वह कैसे रहता होगा? मैंने सुना था कि ब्रेक अप होने के बाद बहुत दर्द होता है। मैं अपने आप उसकी ओर अट्रैक्ट होती चली गई। मुझे लगता था कि मैं कुछ गलत कर रही हूं लेकिन मैं दिल से मजबूर हो गई। मैं हमेशा उसके बारे में सोचती रहती थी कि वह बहुत उदास रहता होगा। मैं सोचने लगी कि काश वो मेरी लाइफ में आ जाए तो मैं उसको खुश रखने की कोशिश करूंगी।
—–
मैं उससे प्यार करने लगी थी। वो निहारिका से मिलने घर आता था तो मैं उसे देखती रहती थी। वो मुझे जानता था लेकिन मुझसे कभी बात नहीं हुई थी उसकी। मैं भी उससे बात करने की हिम्मत नहीं कर पाई। 2012 में वो बीटेक करने के लिए पटना से बैंगलौर शिफ्ट हो गया। मैं उससे प्यार करती रही। निहारिका और रोहन मेरी सिचुएशन के बारे में जानते थे मगर उन लोगों ने मुझे कभी रोका-टोका नहीं।

मैंने रोहन से उसका नंबर मांगा और मैसेज किया। उधर से उसका कॉल आया था और मैंने अपना नाम बताया तो वह मुझे पहचान गया। हमलोगों की बात शुरू हो गई। उससे बात करके मैं बहुत खुश रहने लगी। मैंने 10 दिन बाद उससे पूछा कि क्या मैं उसकी लाइफ में आ सकती हूं तो उसने मना कर दिया। यह सुनकर मैं काफी उदास और परेशान हुई। मैं बहुत रोई। मैंने उससे कह दिया कि बात नहीं करूंगी। वो समझ गया था कि मैं उससे प्यार करने लगी हूं। 4-5 दिन बाद उसने कॉल किया और कहा कि आप मुझसे बात कर सकती हो मगर मैं प्यार नहीं कर सकता।
—————–
मैंने सोचा कि चलो, प्यार नहीं कर सकता लेकिन बात तो कर ही सकते हैं। मैं उससे बात करती थी। उसकी बहुत केयर करती थी। लेकिन कुछ दिन बाद वह काफी निजी बातें करने लगा। मैंने कहा कि मैं तुम्हारी लाइफ में नहीं आ सकती तो इस तरह की बातें भी नहीं कर सकती। वो जानता था कि मैं उससे बहुत प्यार करती हूं और वो कहता था कि मेरी इतनी केयर मत किया करो। मैं हमेशा हंसकर जवाब देती थी कि मुझे खुशी मिलती है तो वो कहता कि तुम पागल हो।
——
मैं सोचती थी कि मैं उसको इतना प्यार करूंगी कि वो खुद मुझसे प्यार करने लगेगा। लेकिन वो हमेशा कहता रहा कि वह मुझसे प्यार नहीं कर सकता। मुझे एक दिन ऐसी बात पता चली जिसको जानने के बाद मैं शॉक्ड रह गई। अपनी पहली जीएफ के साथ वह फिजिकल रिलेशन में रह चुका था। उसने मुझे भी फिजिकल होने को कहा लेकिन मैंने मना कर दिया। लेकिन मैं उससे प्यार करती रही, बात करती रही।
——–
वह जब भी पटना आता था तो मुझसे बाहर नहीं मिलता था। मुझे मिलने के लिए अपने कमरे पर बुलाता था। लेकिन मैं उसके कमरे पर जाकर भी ज्यादा देर तक नहीं रुकती थी। 10-15 मिनट में लौट आती थी। एक बार उसने मुझे कमरे में किस कर लिया तो मैंने बहुत गुस्सा किया लेकिन ज्यादा कुछ नहीं कहा। वो हमेशा फिजिकल रिलेशन बनाने की बात कहता था लेकिन मेरे मना करने पर कहता था कि आपकी मर्जी के बगैर हम कुछ नहीं करेंगे।
—-
वो हमेशा ऐसी ही बातें करता था। अपने बिहेव के लिए बार-बार सॉरी भी बोलता था। वो मुझे खुद से कॉल करके बात नहीं करता था। मैं बीमार हो जाऊं तो हालचाल तक नहीं पूछता था। बात करने पर हमेशा एडल्ट बात करता था। ऐसा ही करते-करते 2017 आ गया। वो मेरा फोन इग्नोर करता है। बात करने पर वो आज भी मुझे समझाता है कि मुझसे प्यार मत करो, टेंशन मत लिया करो, तुमको आगे प्रॉब्लम होगी, लाइफ में आगे बढ़ो, खुश रहा करो।
—-
इतने सालों में मुझे बहुत सारे ब्वॉयज ने प्रपोज किया लेकिन मैंने उसके अलावा कभी और किसी के बारे में सोचा ही नहीं। वो मेरी हर बात जानता है। मैंने उससे कुछ भी नहीं छुपाया। आज रोहन और निहारिका का ब्रेक अप हो चुका है लेकिन हम दोनों अब भी साथ हैं। वो सॉरी बोलता है, मेरी हालत देखता है तो समझाता बहुत है। मुझे रोता देखकर उदास हो जाता है। मैं अभी भी पूछती रहती हूं कि तुम मुझसे प्यार क्यों नहीं करते हो। इस सवाल का हां में जवाब में मुझे कभी नहीं मिला।
—–
मेरी शादी की बात चल रही है। उसको बोलती हूं तो वह कहता है कि शादी कर लो लेकिन उसकी बातों से उदासी झलकती है। वो कहता है कि मम्मी पापा की बात मानकर शादी करो। मैंने उससे पूछा कि क्या हमारी शादी नहीं हो सकती तो उसने कहा कि यह बहुत मुश्किल है। मैं पढ़ने में अच्छी हूं और आईएएस बनना चाहती हूं। मुझे यकीन है कि मैं आईएएस निकाल लूंगी तो वो कहता है कि यह इतना आसान नहीं है। मैं आईएएस की तैयारी बात करके घर में शादी टाल सकती हूं लेकिन वह शादी के लिए मना करता है तो टूट जाती हूं।

मैं रोने लगती हूं। समझ ही नहीं आता है कि वो क्या चाहता है? मुझे लगता है कि वो मुझसे प्यार करता है, ऐसा मेरा दिल कहता है। मैं पढ़ाई करती हूं लेकिन उसको लेकर परेशान रहती हूं। मैं चाहती हूं कि आईएएस निकालूं और उसको पा लूं। मैं क्या करूं कि मुझे पता चले कि वो भी मुझे चाहता है। क्या मुझे मेरा प्यार मिल सकता है? आप लोग बताओ प्लीज। हेल्प मी। मैं उसके बगैर जीने की सोच नहीं पाती। समझ नहीं आ रहा कि क्या करूं?

Advertisements