पंजाब से शिवानी की रियल लाइफ स्टोरी – Real life story shivani from Punjab

Hi, मैं आरती हूं। आज मैं आपको अपनी दोस्त शिवानी की कहानी बता रही हूं। उसकी पढ़ाई लिखाई शहर में हुई थी लेकिन उसकी शादी गांव में कर दी गई। जून 2015 में उसकी शादी हुई थी। पहली बार वो ससुराल गई तो सब ठीक ही रहा। जब नवंबर में गई तो उसने दिन-रात सबकी सेवा की। सबसे पहले जागती और सबसे लास्ट में सोती थी।

shivani love story
—-
बस शहर की लड़की थी इसलिए वह खेती नहीं जानती थी। लेकिन उसने हार नहीं मानी। उसने वो हर काम किया जो उसने इससे पहले किया न था। सबको खिलाती थी और जब खाना कम पड़ता तो पानी पीकर कहती थी कि खा लिया।
—–
उसके पति ने उसे मारना-पीटना शुरू कर दिया। कहता कि खेतों में काम करनेवाली लड़की चाहिए थी उसे। वो रोज मार खाती और गाली सुनी। एक दिन उसके पति ने रात में खूब मारा। फिर शिवानी ने यह बात फोन पर अपने भाई को बताई।
—–
भाई आया और शिवानी को समझाकर चला गया। अब शिवानी पर उसके ससुराल में सब हंसने लगे। वे कहने लगे कि देख तेरा भाई कुछ नहीं कर पाया। फिर शिवानी ने अपनी तकलीफों को भाई को बताना बंद कर दिया, ये सोचकर कि इससे भाई और पापा को दुख होता होगा।
—-
फिर वो कुछ महीने बाद मायके चली गई। पति ने फोन करके कहा कि अगर तू रोज मार खाएगी और खेतों में काम करेगी तो रखूंगा, नहीं तो तलाक दे दूंगा। शिवानी को रोज उसका पति फोन कर आत्महत्या के लिए उकसाने लगा। उसे दिन में कई बार फोन आने लगे। वो कहता कि मरी नहीं, जा छत से कूद जा, जहर खा ले।
—-
शिवानी ने अपने पति का इंतजार किया कि शायद वो सुधर जाए लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उसके पति ने उस पर झूठा इल्जाम लगाकर तलाक देने के लिए दबाव डालने लगा। इसके बाद शिवानी ने पति पर केस कर दिया। 21 मार्च को उसके पति का फोन आया है कि वह दूसरी शादी करने जा रहा है। वह लव मैरिज कर रहा है।
—-
शिवानी अब बर्दाश्त नहीं कर पा रही कि उसके पति ने इस्तेमाल कर उसे छोड़ दिया और अब शादी करने जा रहा है। शिवानी को तो आज भी यकीन नहीं हो रहा कि उसके पति ने उसे धोखा दिया। उसके सारे सपने तोड़ दिए।
—-
रिश्ता जिसे वो भगवान से भी बढ़कर मानती थी, उसका पति घटिया इनसान निकला। मैं जानती हूं कि वो उन लड़कियों में से नहीं है जो आज एक से शादी, कल दूसरे से शादी करती है। वो पूरी लाइफ अकेले ही जी लेगी पर शादी नहीं करेगी। शिवानी ने दिल से पत्नी का रिश्ता निभाया पर उसके पति ने उसको सामान समझकर फेंक दिया।
—-
मेरी दोस्त शिवानी का रो-रोकर बुरा हाल है। वो समझ नहीं पा रही कि वह क्या करे? और मैं भी समझ नहीं पा रही कि अपनी दोस्त के लिए क्या करूं? क्या कानूनी लड़ाई लड़कर शिवानी के रिश्ते को बचा पाएगी? अगर वह लड़ाई जीतकर पति के साथ फिर से रहती है तो क्या यह रिश्ता उसे सुख दे पाएगा? बहुत सारे सवाल हैं, जिसका जवाब सोचने में जिंदगी उलझकर रह जाती है।

Advertisements

कमेंट्स यहां लिखें-

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s