हम दोनों ने दूसरे से शादी की लेकिन जुदा नहीं हो पाए- झारखंड से गौतम की लव स्टोरी

मैं गौतम धनबाद, झारखंड का रहनेवाला हूं। आज से 5 साल पहले एक लड़की से मेरी पहली मुलाकात फेसबुक के जरिए हुई थी। मेरे ही शहर की थी। वो मुझे कहती थी कि तुम मुझे बहुत पसंद हो और दिन-रात मैसेज करती रहती थी। लेकिन मैं यह रिश्ता दोस्ती तक सीमित रखना चाहता था इसलिए मना कर दिया। मैंने कहा कि मुझे प्यार में यकीन नहीं है तो उसने पिछले ब्वॉयफ्रेंड की बात बतलाकर कहा कि अब वो खुद बहुत अकेला फील करती है। उसने मुझे इमोशनल कर दिया अपनी बातों से।

love story jharkhand
—-
मैं इतना इमोशनल हो गया कि फिर एक दिन अपने प्यार का भी इजहार कर दिया। इस तरह हम दोनों एफबी फ्रेंड से लवर बने। इसके बाद फोन पर हम दोनों की घंटों बातें होने लगीं। हम दोनों इसके बाद मिलने लगे। मुलाकातों के बाद हम दोनों का प्यार और बढ़ता ही गया। यहां तक कि उसने पुराने ब्वॉयफ्रेंड के साथ हुए फिजिकल रिलेशन की बात भी बता दी। मैं उसे दिल से प्यार करता था क्योंकि वो मेरी लाइफ में पहली लड़की थी जिसने मुझे मेरी कमियों के साथ एक्सेप्ट किया था।
—-
फिर उसने एक दिन मेरे सामने शादी करने का ऑफर रखा और कहा कि वो अपने पैरेंट्स को मना लेगी। हम दोनों अलग कास्ट के थे इसलिए चाहते थे कि हम दोनों ही पैरेंट्स की सहमति से ही शादी करें। उसने मुझे अपनी मम्मी से कॉल और वीडियो चैटिंग के जरिए बात भी करवाई तो वो कुछ बोली नहीं। बाद में मुझे मेरी गर्लफ्रेंड ने कहा कि उसके पैरेंट्स उसकी शादी के लिए अपने ही कास्ट में रिश्ता खोज रहे हैं तो मैंने भी इस रिश्ते को आगे न बढ़ाते हुए उससे कहा कि अपने पैरेंट्स की खुशी में ही अपनी खुशी देखो।
—–
पर वो मुझे ही पसंद करती रही और एक दिन उसने मुझे मिलने के लिए बुलाया। आज भी उस दिन को याद करके मैं अंदर से कांप उठता हूं क्योंकि जब मैं उससे मिलने खुशी खुशी जा रहा था तो रास्ते में मेरा एक्सीडेंट हो गया। मुझे बहुत चोट आई थी और करीब 12 दिन हॉस्पिटल में बेहोश रहा। उसे भी मेरे एक्सीडेंट की खबर मिल चुकी थी और वो मेरे ठीक होने की दुआ करती और मुझे मैसेज भी करती थी पर रिप्लाई ने दे पाता था।
—–
मुझे पूरी तरह ठीक होने में लगभग दो महीने लग गए और इतने दिनों में ही उसकी शादी उसके ही कास्ट के एक लड़के से फिक्स हो गई। ठीक होने के बाद जब मैंने फेसबुक खोला तो उसने मुझे ये बात बताई तो मुझे बहुत दुख हुआ पर मैं चाहकर भी कुछ नहीं कर सका। पर उसने शादी से पहले मुझसे एक बार मिलना चाहा और मैं उससे मिला भी। हम दोनों ही अपनी बेबसी पर मिलकर बहुत रोए पर कोई गलत कदम नहीं उठाया।
—-
जाते जाते उसने मुझे भी शादी करके घर बसा लेने को कहा जिससे मैं खुश रहूं और मैंने भी उसकी और अपने पैरेंट्स की खुशी को देखते हुए अपने ही कास्ट की लड़की से शादी कर ली। मैंने अपनी लव स्टोरी अपनी वाइफ को भी सुनाई तो उसने यही कहा कि जो हुआ उसे भूल जाओ। पर मैं उसे भूल नहीं पा रहा और वो मुझे अभी बहुत याद आती है। फेसबुक पर हम दोनों आज भी कभी कभी एक दूसरे से बात करके एक दूसरे का हाल चाल पूछ लेते हैं पर पता नहीं क्यों वो मुझे बहुत याद आती है।

आज मेरा भी एक बेटा है और उसको भी एक बेटा है। अपनी अपनी फैमिली में खुश भी हैं पर मैं उसके साथ बिताए हुए दिन को भुला नहीं पा रहा। वो बहुत याद आती है। मुझे अपनी लाइफ बेकार लगती है। जिसकी खुशी के लिए हम आज भी उसकी हर बात मानने को तैयार हैं वो अब मुझसे बात भी नहीं करना चाहती। वो ऐसा क्यूं कर रही है या मैं समझ नहीं पा रहा हूं? अपनी लाइफ से बिल्कुल निराश हो गया हूं।

Advertisements

Leave a Reply