मैं हिंदू हूं और वो मुस्लिम, क्या हम दोनों प्यार नहीं कर सकते – यूपी से काजल की लव स्टोरी

मेरा नाम काजल है। मैं यूपी में एक छोटे से शहर से हूं। मेरा एक मुस्लिम लड़के से 10 साल से प्यार का रिश्ता है। यह बहुत अच्छा रिश्ता है क्योंकि मुझे लाइफ में उसके जैसा कोई इनसान नहीं मिल सकता लेकिन पता नहीं हम दोनों की किस्मत में क्या लिखा है, हम शादी करना चाहते हैं पर उसको डर है कि मेरे घरवाले उनको जान से मार देंगे। उसको अपने घरवारों की चिंता है, उसके मां-पापा नहीं हैं, बस बहनें हैं, जिनकी शादियां हो चुकी हैं और वे अपने-अपने घर में हैं।

काजल लव स्टोरी
——
हम दोनों ने बहुत इंतजार किया है एक दूसरे का। वो मुझसे बहुत प्यार करते हैं लेकिन डरते हैं कि अगर मेरे घरवालों ने उसके साथ बुरा किया तो क्या होगा? बहुत तकलीफ में है वो भी, मैं भी। कुछ समझ नहीं आ रहा। मेरे दोस्त की बहन की शादी में वो 10 साल पहले मिला था। फिर हम कॉल पर बात करते थे। पता नहीं चला कि कब हम दूसरे को प्यार करने लगे। आज हम एक दूसरे को खोने से डरते हैं।
——
मुझसे वो शुरू से ही शादी करना चाहता है लेकिन वो चाहता है कि इससे उसको या उसके घरवालों को कोई परेशानी न हो। वो अच्छा इनसान है, इसलिए 10 सालों से रिश्ता चल रहा है। वो कभी किसी को तकलीफ नहीं देता। मेरे घरवालों को मेरे रिश्ते के बारे में पता है। मेरे घर में पापा नहीं है। सिर्फ मेरी बुजुर्ग मां है। मेरी दीदी है जो जीजा के घर रहती है और उनको हमसे कोई मतलब नहीं है। मेरी मां इस रिश्ते के खिलाफ है लेकिन वो ऐसी नहीं है कि अगर हमारी शादी होगी तो वो उसका बुरा करेंगी।
——
मेरे ऊपर शादी का प्रेशर रहता है। मां लड़का देखती है लेकिन जो भी रिश्ता आता है, तब खुद कुछ ऐसा होता है कि रिश्ता पक्का नहीं हो पाता। ये शायद ऊपरवाला करता है। पर अब टाइम बहुत हो चुका है। मैं उसके साथ अपनी लाइफ बिताना चाहती हूं। मैं किसी और से शादी नहीं कर सकती। मैंने इतने सालों से किसी और के बारे में सोचा ही नहीं। क्या हिंदू मुस्लिम प्यार नहीं कर सके। मेरी उम्र भी हो चुकी है इसलिए कई मुझसे शादी नहीं करना चाहते।
——-
मैंने अपनी उम्र और समय दोनों उसके इंतजार में गुजार दिया। और वो भी इंतजार कर रहा है। कोई तो रास्ता होगा। मेरे घरवाले ऐसे नहीं हैं कि वो शादी होने पर किसी को मारेंगे। बस रिश्ता तोड़ लेंगे मुझसे कुछ टाइम के लिए। इतना ही होगा। बाद में सब ठीक हो जाएगा।
—-
वो शादी करना चाहता है पर कहता है कि सब अच्छे से और कानून से हो जाए। वो धर्म परिवर्तन के लिए भी नहीं कह रहा। हम कोर्ट मैरिज करना चाहते हैं लेकिन वकील उनको डरा रहा है। मां राजी नहीं है पर इतना यकीन है कि शादी के बाद भी वो हमारे या उसके साथ गलत नहीं करेंगी। बुजुर्ग हैं, वो गुस्सा होंगी लेकिन उनको मैं अपना लूंगी, मना लूंगी। ये बात वो समझ नहीं रहा। डर रहा है।
—–
मैं उसको खोना नहीं चाहती हूं। जबसे योगी की सरकार आई है, वो और डर गया है। मैं उसको रोज बहुत समझाती हूं। पर समझता नहीं है। मैं चाहती हूं कि मुझे कोई वकील मिले जो उसको समझा सके कि डरने की जरूरत नहीं है। कोई है वकील, जो उनके डर को निकाल सके। अगर ऐसा कोई वकील हो तो मुझे बताएं।

Advertisements

One thought on “मैं हिंदू हूं और वो मुस्लिम, क्या हम दोनों प्यार नहीं कर सकते – यूपी से काजल की लव स्टोरी”

  1. mujhe yeh love story bohot pasand hai kajal kisi ki bhi wajah se apne pyaar ko mat chodna

Comments are closed.