आशिक शायरी

तुझे भी प्यार है हमसे, तुम भले न कहो

तुझे भी प्यार है हमसे, तुम भले न कहो कोई इजहार है हमसे, तुम भले न कहो पूछता हूं तो तुम इतनी खफा होती हो कुछ तकरार है हमसे, तुम भले न कहो

प्यार की शायरी इमेज

तुझे भी प्यार है हमसे, तुम भले न कहो
कोई इजहार है हमसे, तुम भले न कहो

पूछता हूं तो तुम इतनी खफा होती हो
कुछ तकरार है हमसे, तुम भले न कहो

हमसफर बनने की तमन्ना मैं रखता हूं
मेरा इकरार है तुमसे, तुम भले न कहो

मेरी उजड़ी हुई दुनिया बसा दो दिलबर
यही दरकार है तुमसे, तुम भले न कहो

Written by @Rajeev Singh

Advertisements

Leave a Reply