love images

हम दोनों को घरवालों ने अलग कर दिया लेकिन मैं आज भी उसे खोजती हूं – संजना की लव स्टोरी

सभी का साथ है फिर भी मैं तन्हा हूं। मैं आज भी उससे बहुत प्यार करती हूं। माता रानी उसको खुश रखे यही मेरी दुआ है।

मेरा नाम संजना है। बात उन दिनों की है जब मैं दसवीं में पढ़ती थी। हमारे किसी रिश्तेदारी की शादी में उससे मुलाकात हुई। पहले दोस्त हुए फिर प्यार। हम दोनों एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे। साथ में जीना और मरना चाहते थे लेकिन किसी को हमारा प्यार पसंद नहीं था। फिर भी हम मिलते रहे । हम हमेशा छुप-छुप कर मिलते रहे।

sanjana love story
—–
हम दोनों बीए सेकेंड ईयर में थे. घरवालों ने मिलने पर रोक लगा रखी थी लेकिन हम दोनों साथ जीना चाहते थे इसलिए घर से भाग गए। उसका गुनाह सिर्फ इतना था कि वो गरीब घर का था। हम कुछ दिन अपनों से दूर साथ रहे लेकिन घरवालों ने मेरे बीएफ के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट कर रखा था।
—–
उसकी सिस्टर के घर हमदोनों तीन-चार दिन साथ रहे। उधर घरवालों ने हमें खोज लिया और वादा किया कि हमारी शादी कराएंगे लेकिन सबकुछ झूठ था। उन लोगों ने वादा इसलिए किया क्योंकि हम बालिग थे। घर आने के बाद मुझे बहुत दूर भेज दिया गया। हम अलग हो गए, हमेशा के लिए।
—–
मैंने उससे बात करने की बहुत कोशिश की लेकिन सारी कोशिश बेकार गई। उस पर दबाव था कि वो मेरी लाइफ से दूर हो जाए। एक दिन घरवालों ने मेरी शादी कहीं तय कर दी। हमें इमोशनल ब्लैकमेल करके शादी कर दी गई। बाद में पता चला कि उसकी भी शादी हो गई।
——
कई साल बीत गए हैं। मैं आज भी उसकी खुशी की दुआ करती हूं। वो जहां भी रहे, खुश रहे। मुझे जिंदगी में सबकुछ मिला लेकिन उसे नहीं भूल पाई। मेरी चाहत है कि एक बार उससे मिलूं लेकिन हमें आज तक पता नहीं कि वो कहां है। शायद वो भी मेरे बारे में यही सोचता हो।
——-
सभी का साथ है फिर भी मैं तन्हा हूं। मैं आज भी उससे बहुत प्यार करती हूं। माता रानी उसको खुश रखे यही मेरी दुआ है।

Advertisements

Leave a Reply