वो टाइमपास करने के बाद मुझे बहुत रुला गया – सुहानी की प्रेम कहानी

मैं मेरठ से सुहानी हूं। हम लोग 2011 में एक मेडिकल कॉलेज में मिले थे। वो एमबीबीएस जूनियर डॉक्टर था। उस मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में मेरे भैया एडमिट थे तो मुझे भी दो तीन दिन वहीं साथ रहना पड़ा। वहीं से मेरे प्यार की शुरुआत हुई।

suhani love story
—–
उस समय मैंने 12वीं पास की थी और प्यार के बारे में ज्यादा नहीं जानती थी। उस जूनियर डॉक्टर ने मुझसे बात करनी शुरू की। मैं भी ऐसे ही बातें करती थी। फिर तीन दिनों के बाद हम लोग भैया को लेकर घर आ गए। उसने मुझे मिलने के लिए बुलाया और बोला कि मैं तुमसे प्यार करता हूं, अब शायद तुम्हारे बिना जी नहीं सकता।
—–
मेरे अंदर भी उसके लिए प्यार जाग गया था और मैं भी उससे मोहब्बत करने लगी। फिर मैंने उसको अपना सबकुछ समझ लिया। मैं भी उसके बिना रह नहीं पाती थी। मुझे पता था कि हम लोग कभी शादी नहीं कर पाएंगे क्योंकि मैं पहले ही समझती थी कि वो एक डॉक्टर है और मेरा कोई फ्यूचर नहीं है। सबकुछ समझकर भी मैं उसकी बातों में आ गई।
——
2015 तक सबकुछ ठीक था। फिर उसने मुझे बताया कि उसकी शादी घरवालों ने फिक्स कर दी है और जिसके साथ उसकी शादी होगी, वो लड़की भी डॉक्टर है। मैं खुश भी थी कि चलो, उसको एक मेडिकल लड़की मिल गई पर मैं अंदर से बहुत टूट गई थी।
——-
इसके बाद वो भी बहुत चेंज हो गया था। मैंने उसको कॉल किया तो एक दिन उसने नंबर ब्लॉक कर दिया। मैं बिल्कुल पागल सी हो जाती थी। एक बार तो पूरा दिन मैं हॉस्पिटल में वेट करती रही पर वो मुझसे मिलने नहीं आया। मैं सिर्फ उससे इतना कहना चाहती थी कि अगर उसको मेरे से प्यार था ही नहीं तो वो मुझसे झूठ क्यों बोलता था।
——-
ये थी मेरी अधूरी कहानी। मैं सिर्फ इतना कहना चाहती हूं कि अगर आप किसी से प्यार नहीं करते तो प्लीज किसी से झूठ भी नहीं बोलो, किसी की जिंदगी खराब नहीं करो। प्यार में हर कोई टाइम पास नहीं करता, किसी के टाइमपास के चक्कर में दूसरा सच्चा प्यार करनेवाला टूट जाता है।

—–
कभी-कभी वो मुझे कॉल करता है तो कहता है कि आज भी मैं तुमसे प्यार करता हूं पर अब जान गई हूं कि उसको मुझसे कभी प्यार था ही नहीं। उसने मुझे अपना बनाकर बहुत रुला दिया। मैं आज भी उससे बहुत प्यार करती हूं। उसको एक पल के लिए भी नहीं भुला पाई हूं। काश वो फिर से मेरी जिंदगी में चला आता।

Advertisements

Leave a Reply