love story

उसने कहा कि वर्जिनटी टेस्ट दो, मैं पास हो गई तो मुझे धंधेवाली कहने लगा – राशि की रियल लव स्टोरी

राशि को प्यार पर भरोसा नहीं था लेकिन एक लड़का उसकी जिंदगी में प्यार बनकर आया। बाद में वो राशि का भरोसा तोड़ गया। राशि ने जहां से शुरुआत की थी, उस जाहिल प्रेमी ने उसे वहीं पर लाकर छोड़ दिया। पढ़िए एक लड़की की दर्दभरी रियल लाइफ प्रेम कहानी।

Hi, मैं फरीदाबाद से राशि हूं। मैंने जब 12वीं पास की तो कॉलेज में गई। मैं राजपूत हूं और पढ़ने में खुद को अच्छा मानती हूं। मेरे ब्वॉयज और गर्ल्स दोनों फ्रेंड्स हैं। मुझे शुरू में प्यार में कोई इंट्रेस्ट नहीं था, शायद राजपूत फैमिली के माहौल की वजह से। मैं दबंग टाइप गर्ल हूं और अपनी बात टू द प्वाइंट कहती हूं। अगर मेरी गलती नहीं होती तो मैं किसी के आगे झुक नहीं सकती और मेरी सबसे बड़ी वीकनेस है कि मैं बहुत हेल्पिंग हूं।

मेरी एक सहेली के पास अनजान लड़के का फोन आया। वो उसे कॉल और मैसेज करके परेशान कर रहा था। मेरी फ्रेंड ने मुझसे कहा कि मेरी हेल्प करो, पता लगाओ कि कौन है। पता लगाने के चक्कर में मेरी उस लड़के से फोन पर बात होने लगी। उसने मुझे सब सच बता दिया कि वो कौन है। हम दोनों में दोस्ती हो गई।
rashi real love story
—–
धीरे-धीरे मैं उसे पसंद करने लगी। वो डिफेंस में जॉब करता था और जब मैं फर्स्ट ईयर में थी तो वो ट्रेनिंग कर रहा था। हरियाणा का जाट था वो। वो फरीदाबाद मुझसे मिलने आया था। हम दोनों मिले तो एक दूसरे को बहुत पसंद करने लगे। एक बार मैंने फेसबुक पर उसके मैसेज पढ़े तो नाराज हो गई क्योंकि उसने किसी को गंदी गालियां दी थी और मुझे हमेशा कहता था कि मैं गाली नहीं देता।

——
मैंने उससे बात करना बंद कर दिया तो उसने अपने चेस्ट पर ब्लेड से काटकर मेरे नाम पर पहला लेटर आर लिख लिया। वो बहुत रोते हुए बोला कि तुमसे बहुत प्यार करता हूं, तुम्हारे बिना रह नहीं सकता। मुझे भी उस पर बहुत ट्रस्ट हो गया। हमारी लाइफ में सब अच्छा चल रहा था। वो बहुत केयर करता था।
——-
उसने अपनी फैमिली से भी मुझे मिलाया। उसके घर में सब मुझे पसंद बहुत करते थे और शादी के लिए रेडी थे। मेरे घर में भी सब उसे पसंद करते थे क्योंकि उसका नेचर काफी अच्छा था लेकिन शादी नहीं कर सकते थे क्योंकि वो जाट था और मैं राजपूत। इस बीच मेरी लाइफ में बहुत बड़ा तूफान आया।
——-
एक एक्सीडेंट में उसकी सिस्टर की डेथ हो गई। उसके बाद वो टूट सा गया। मैंने उसे और उसकी मम्मी को बहुत संभाला। उसकी मम्मी बीमार रहने लगी थी और वो कहती कि मैं शादी करके आ जाऊं। इस बीच मेरे का पापा का एक पड़ोसी था जो दुश्मनी रखता था। वो मुझसे 15 साल बड़ा था। उसने मेरे बीएफ और मेरी फैमिली को बोला कि मेरे साथ उसका फिजिकल रिलेशनशिप है और उसके पास इसका वीडियो है।
——-
पड़ोसी ने झूठ बोला था इसलिए वो कुछ दिखा नहीं पाया। मेरी फैमिली को उसकी बातों पर यकीन नहीं हुआ क्योंकि वो जानते थे कि मैं कैसी हूं लेकिन मेरे बीएफ को ट्रस्ट नहीं हुआ। उसने कहा कि तुम सही हो तो प्रूव करो। तुम वर्जिन हो, इसका मेडिकल टेस्ट करा लो। उसने कहा, मेरे साथ फिजिकल रिलेशन बनाओ, तब मैं डिसाइड करुंगा कि तुम सही हो या नहीं।
——-
मैं उसके प्यार में इतनी पागल थी कि इस बात के लिए भी रेडी हो गई और उसकी बात मानकर मैंने प्रूफ दे दिया और मैं पास हो गई। वो बहुत खुश हुआ और हमारी रिलेशनशिप फिर से ठीक हो गई। उसके बाद उसने कहा कि शादी कर लो मेरे साथ क्योंकि यह जरूरी है, मम्मी बहुत बीमार रहती है। उसने मेरी फैंमिली को बोला लेकिन मेरे मां-पापा ने मना कर दिया क्योंकि इंटर कास्ट मैरिज वो नहीं चाहते थे।
——-
इस बीच मेरे दादाजी एक्सपायर हो गए और मेरे पापा ने साफ मना कर दिया कि लोग क्या कहेंगे कि बाप के मरते ही किसी भी कास्ट में शादी कर दी। उन्होंने साफ मना किया, मेरा कोई भाई नहीं है, हम दो बहनें हैं बस। पापा को ये न लगे कि बेटी पैदा कर गलती कर दी, उनकी इज्जत के लिए और मम्मी के लिए मैंने उसको शादी से मना कर दिया कि तुमसे शादी नहीं करुंगी।
——–
वो मेरा वेट नहीं कर सकता था क्योंकि उसकी मम्मी बीमार रहती थी। उसने मम्मी पापा की पसंद की लड़की से शादी कर ली उसके बाद मैं बहुत रोई। वो भी रोया। हम दोनों ने डिसाइड किया कि शादी हो गई तो क्या, प्यार तो हमेशा रहेगा। उसने बहुत लंबे वादे किए थे लेकिन शादी के कुछ ही दिन बाद वो मुझे गंदी गंदी गालियां देने लगा। बोला तू वर्जिन नहीं है, तेरे पहले से रिलेशन थे उस लड़के के साथ।
——–
उसकी वाइफ ने भी बहुत कुछ सुनाया। मैंने कुछ नहीं कहा। फिर थोड़े दिन बाद मुझसे माफी मांगने लगा। बोला, सॉरी तू मेरे साथ फिजिकल रिलेशन बना ले, मैंने साफ मना कर दिया और कहा कि तेरी शादी हो चुकी है, तू  उसके साथ खुश रह लेकिन उसने फिर मुझ पर इल्जाम लगाया कि मुझे कोई और मिल गया है और यार बना लिया है।
——-
हमेशा उसने मेरी इनसल्ट की। आज उसका एक बेटा है फिर भी मुझे फोन करके ताने मारता है। अब मैंने अपना नंबर चेंज कर लिया है। अपने मम्मी पापा का सहारा बन रही हूं क्योंकि मेरा कोई भाई नहीं है और पापा बहुत बीमार रहते हैं। मैं उसको आज भी भुला नहीं पाती हूं। कोई ऐसे दर्द कैसे दे सकता है, वो सब वादे भूल गया, यहां तक कि उसने मुझे धंधेवाली तक कहके गाली दी।
——
खुद कॉल करता और अपनी वाइफ को कहता कि मैं उसको परेशान कर रही हूं। उसकी वाइफ ने मेरे मम्मी पापा तक को कॉल करके गाली दी। जो इनसान मुझे ये कहता है कि मैं तेरे मम्मी पापा का बेटा हूं, उसने अपनी वाइफ से गाली दिलवाई। उसकी वाइफ अनपढ़ है, जो कहता है, उसकी बात मानती है। आज वो बंदा इतना पागल है कि मेरी फ्रेंड्स को कॉल करके फ्लर्ट करता है।
——
उसकी इस हरकत से मेरा बहुत कुछ बर्बाद हुआ है। मैं टूट गई हूं। किसी पर भरोसा नहीं करती, बस अब अपनी फैमिली और कैरियर पर फोकस कर रही हूं। लोग ऐसा क्यों करते हैं, भरोसा जीतकर भरोसा तोड़ते हैं। मेरी लाइफ नर्क बन गई। मैं अच्छी स्टूडेंट थी, मुझे अपना कॉलेज ड्रॉप करना पड़ा उसकी वजह से।
——
उसने बहुत बार कोशिश की कि मैं सुसाइड कर लूं लेकिन मुझे जीना था। अपने मम्मी पापा के लिए मैंने हार नहीं मानी। मैंने दुबारा जिंदगी शुरू की और अपना कॉलेज, ग्रेजुएशन कंप्लीट की। अब एमबीए कर रही हूं, साथ में जॉब भी क्योंकि हाल में मेरे पापा को हार्ट अटैक आया था। कभी-कभी लगता है कि मैं लड़का होती तो अच्छा होता।
——
मेरे पैरेंट्स मेरे लिए लड़का देख रहे हैं लेकिन मुझे शादी के नाम से ही डर लगता है। पता नहीं मेरी लाइफ में कभी दुबारा किसी का प्यार मिलेगा भी या नहीं। उसके जाने के बाद मेरा प्यार पर से भरोसा टूट चुका है। उसके आने से पहले भी मुझे प्यार पे ट्रस्ट नहीं था। जहां से मैंने शुरुआत की थी, उसने मुझे वहीं पहुंचा दिया।

Advertisements

Leave a Reply