love story vaibhav

वो प्यार का दावा करती थी लेकिन अमीर का रिश्ता आया तो पलट गई – वैभव की लव स्टोरी

मैं झारखंड से वैभव हूं। अपनी अधूरी लव लाइफ आपलोगों से शेयर करना चाहता हूं। हम दोनों तीन साल से रिलेशनशिप में थे। सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा था। दोनों ही अपने रिश्ते को पूरी ईमानदारी से निभा रहे थे। हम दोनों एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे। एक पल भी एक दूसरे के बिना गुजारा नहीं था।

love story vaibhav
——
अचानक उसकी शादी फैमिली ने फिक्स कर दी। हम दोनों की कास्ट अलग थी। मैं एससी था और वो ओबीसी थी। अपनी फैमिली को मनाने की हम दोनों ने कोशिश की। मेरे फैमिलीवाले तो मान गए पर उसकी फैमिली नहीं मानी। वो लोग गांव में रहते थे, जहां इंटर कास्ट लव मैरिज पर प्रतिबंध है। साथ ही वो तीन बहनों में सबसे बड़ी थी। मैंने भी उसकी फैमिली से बात की तो वो लोग बिल्कुल नहीं माने और मुझे उसे भूल जाने को कहा।
—–
उसके मां-बाप ने उसे बहुत समझा-बुझाकर अपनी पसंद के लड़के से शादी के लिए राजी कर लिया। वो लड़का भी काफी अमीर था। वैसे मैं भी मेडिकल फाइनल ईयर का स्टूडेंट हूं और मेरे पास भी किसी चीज की कमी नहीं है। मैंने उस लड़की को बहुत कंविन्स किया कि हम कोर्ट मैरिज कर लेते हैं, बाद में फैमिली मान जाएगी पर पहले तो वो मान गई फिर एक दिन बाद उसने मना कर दिया।
——
वो अपनी मजबूरी का हवाला देने लगी कि अगर उसने कोर्ट मैरिज की तो गांववाले उसकी फैमिली को समाज से अलग कर देंगे और उसकी बहनों की भी शादी नहीं हो पाएगी। मैं उसे बहुत प्यार करता था इसलिए उसकी फैमिली और बहनों के लिए दिल पर पत्थर रखकर उससे अलग होने का फैसला कर लिया। ये मेरे लिए इतना आसान नहीं था क्योंकि वो मेरी जिंदगी थी और उससे ज्यादा मैंने आज तक किसी से प्यार नहीं किया।
——-
मैं बहुत टूट चुका था फिर भी हर दिन भगवान से उसकी खुशियां मांगता था। धीरे-धीरे उसका नेचर मेरे लिए बदलने लगा। शुरू में वो मुझसे बहुत प्यार करती थी क्योंकि घर में भी उसे ज्यादा प्यार मिला नहीं था। शादी से पहले वो होनेवाले पति के कॉन्टेक्ट में आई तो मेरे सामने उसकी तारीफ करने लगी थी। वो उसकी क्वालिटीज गिनाने लगी थी। मुझे महसूस होने लगा कि उसे अब मेरी फीलिंग्स की कोई कद्र नहीं है। वो अब आगे बढ़ने का मन बना चुकी है।
——
मैं भी कोशिश करने लगा कि उसे भूला दूं पर बहुत मुश्किल था। मुझे सबकुछ अजीब लग रहा था कि कैसे वो इतनी तेजी से मुझे भूलकर आगे बढ़ गई। मुझे तकलीफ होती थी पर मैं शादी से ठीक पहले उससे नाराज होना या लड़ना नहीं चाहता था इसलिए सब बर्दाश्त कर लिया।

मैंने उसे शादी से दस दिन पहले मिलने के लिए बुलाया तो वो तैयार नहीं हुई। उसका कहना था कि मैं टूट जाऊंगी तुमसे मिलकर। फिर भी मैंने रिक्वेस्ट किया और कहा कि इस जनम में ये हमारी आखिरी मुलाकात होगी, चली आओ। वो मिलने के लिए राजी हो गई।
——-
उस आखिरी मुलाकात में उसका व्यवहार मेरे लिए काफी अजीब था। मुझसे नजर भी नहीं मिला रही थी। जल्दी घर लौटने के लिए छटपटा रही थी। मैंने बहुत रिक्वेस्ट की थी कि आखिरी बार जीभर के देख लेने दो तो कुछ शांत हुई और फिर थोड़ी देर बात हुई तो बोली कि अब तुम मेरी लाइफ में नहीं हो और तुम बहुत पीछे छूट चुके हो। उसकी बात सुनकर मैं अंदर से अचानक बुरी तरह से टूट गया।
——
फिर वो चली गई। मुझे बहुत बुरा लगा कि बिछड़ते वक्त भी उसकी आंखों में कोई आंसू नहीं थे। मैं अंदर ही अंदर बहुत रो रहा था। मैंने उसे गुलाब दिया तो उसने लेने से मना कर दिया और मुझे इस बात पर काफी गुस्सा आया तो मैंने उस गुलाब को वहीं फेक दिया और उसको घर ड्रॉप कर दिया। उसने मुड़कर भी मुझे एक बार नहीं देखा। फिर आज तक उसने मुझे कॉल तक नहीं किया। और न ही मेरे बारे में किसी कॉमन फ्रेंड से पूछा।
——
उसकी शादी हुए एक महीने हो चुके हैं और वो बहुत खुश भी है। एक वक्त था कि मैं उसकी खुशी के लिए दुआ करता था पर आज उसकी खुशी में मैं बहुत इनसिक्योर फील कर रहा हूं कि कैसे उसने इतनी जल्दी नए रिश्ते को खुशी से एक्सेप्ट कर आगे बढ़ गई जबकि आज भी मैं उसके लिए रोता हूं।

प्यार तो उसने मुझसे बहुत किया था पर वो कैसे इतनी जल्दी मुझे भूल गई, मुझे यकीन नहीं होता। मैं आगे बढ़ने की कोशिश कर रहा हूं पर बहुत मुश्किल हो रहा है। प्लीज गाइड मी फ्रेंड्स।
——
मैं आप सबसे पूछना चाहता हूं कि क्या कोई सच्चा प्यार करनेवाला इतनी जल्दी प्यार को भुला सकता है। उसने शादी से पहले ही उस रिश्ते की खूबियां निकाल कर मेरे प्यार की कीमत छोटी कर दी और जाते जाते भी प्यार के दो बोल नहीं बोली जिससे मैं और भी टूट चुका हूं।

समझ नहीं आता कि मैं उसकी मजबूरी समझूं या फिर उसकी मौकापरस्ती जो उसने मौका देखते ही अपना फ्यूचर ब्राइट देखकर चलती बनी। मैं उससे बहुत प्यार करता हूं, कभी उस पर शक नहीं कर सकता पर इस बार बहुत कंफ्यूज्ड हूं। कहीं मैं उसके बारे गलत तो नहीं सोच रहा? आप बताइए कि उसने ऐसा क्यों किया?

Advertisements

Leave a Reply