sahil real love story

वो खुद समय नहीं दे पाती थी, लेकिन जब मैं बिजी हुआ तो नाराज हो गई – साहिल की लव स्टोरी

मैं यूपी के आगरा से साहिल हूं। मैं अभी 24 साल का हूं और मेरी लव स्टोरी दस साल पहले शुरू हुई थी। हम दोनों एक ही शहर से हैं। इन दस सालों में हमारी रिलेशनशिप पहले से बेहतर हुई है। मैं 18 साल की उम्र से जॉब कर रहा हूं और प्यार के रिश्तों में उतार-चढ़ाव के दौरान जो मैंने महसूस किया उसकी सबसे अहम बात आप सबसे शेयर कर रहा हूं। मुझे गर्लफ्रेंड की जो भी बात गलत लगती है उसे मैं सीधे उसको बोल देता हूं चाहे उसको बुरी लगे या अच्छी, इस बात की परवाह नहीं करता कि वो मुझे छोड़ देगी। मैं खुशनसीब हूं कि अभी भी हम दोनों साथ हैं और आगे भी साथ रहें, इसकी तैयारी कर रहे हैं। मेरी गर्लफ्रेंड भी जॉब करती है लेकिन उसकी जॉब मेरे बाद लगी थी।

जॉब लगने से पहले हम दोनों बहुत बात करते थे। ये फुरसत के दिन थे जब जिंदगी की चिंताएं हमसे कोसों दूर थीं। रात को अक्सर जागते हुए बातें होती थीं लेकिन जब काम की जिम्मेदारी और समय की कमी हो जाती है तो पहले जैसी बात नहीं रह जाती। जब 18 साल में मैं जॉब पर जाने लगा तो ऑफिस से शाम को थक कर आता था तो मेरी किसी से ज्यादा बात करने की इच्छा नहीं होती थी। मैं आराम करना चाहता था। ऐसे में मेरी गर्लफ्रेंड शिकायत करती थी कि मैं उसको टाइम नहीं देता और रात को मुझे कॉल करके जगाती थी। एक तरह से मैं परेशान होता था। इस वजह से हमारे रिश्ते में दूरियां भी बनीं लेकिन रिश्ता चलता रहा।

sahil real love story

मैं उसको कहा करता था कि जब तेरी जॉब लगेगी तब तू समझेगी। संयोग ऐसा हुआ कि दो साल बाद उसकी भी जॉब लगी और उस वक्त मैं कुछ दिनों के लिए खाली था। मैं उसे रोज शाम को कॉल करता था लेकिन वो कहती थी कि मैं बहुत थक गई हूं तब मैं उसे याद दिलाता था कि किस तरह उसने मुझे परेशान किया था। वो जब जॉब करने लगी तो मुझे कम टाइम देने लगी। मैंने बुरा नहीं माना क्योंकि मैं जानता था और उसे भी समझाना चाहता था कि कोई जॉब से आने के बाद आराम करना चाहता है, पहले की तरह देर रात तक बात नहीं कर सकता।

अभी हाल में फिर ऐसा हुआ। किसी वजह से उसकी जॉब छूट गई और मैं जॉब करने के लिए आगरा से दिल्ली शिफ्ट हो गया। वो फिर मुझे बार-बार कॉल करने लगी। मैं कभी-कभार फोन उठा पाता हूं तो उसने फिर वही शिकायत शुरू कर दी कि मुझे टाइम नहीं देते। मुझे ये अजीब लगता है कि लड़कियां ये क्यों नहीं समझती कि काम करने की परेशानियों से गुजरने के दौरान प्यार की बातें करने के लिए समय निकालना बहुत मुश्किल होता है। काम करना प्यार करने से ज्यादा जरूरी है।

मैं समझता हूं कि इस समस्या से हर लड़का गुजरता है जब उसकी गर्लफ्रेंड शिकायत करती रहती है कि तुम मुझे टाइम नहीं देते। इसी डर से कई लड़के डरते रहते हैं कि कहीं उसकी गर्लफ्रेंड उसे छोड़ न दें और वो छोड़ भी देती है, किसी ऐसे के पास चली जाती है जो उसे टाइम देता हो लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि ऐसी लड़की प्यार नहीं टाइमपास करती है। मैं इस मामले में खुशनसीब हूं कि शायद मेरी गर्लफ्रेंड टाइमपास नहीं कर रही वरना वो मुझे छोड़कर चली गई होती। प्यार करने का मतलब ये नहीं है कि हम घंटों बात करते रहें। जिंदगी में और भी बहुत सारे काम होते हैं।

शुक्र है कि वो अब फिर से जॉब पर लग गई है इसलिए मैं थोड़ा निश्चिंत रहता हूं लेकिन मैं जानता हूं कि जब वो खाली होगी तो फिर वही शिकायत लेकर बैठ जाएगी। पता नहीं लड़कियां क्यों नहीं समझती?

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.