love story pic1

वो मेरी बात नहीं मानती, कहती है मेरे ऊपर दिमाग न लगाओ, विराट की स्टोरी

मेरा नाम विराट है। गरिमा से दोस्ती है। मैं उससे बहुत प्यार करता हूं लेकिन वो मुझे अपना दोस्त ही मानती है। हम लोग चार साल से एक दूसरे के साथ हैं, चाहे कितनी भी लड़ाई हो जाए पर हम लोग एक दूसरे से बात किए बिना नहीं रह सकते हैं।

अब वो बदली-बदली सी लग रही है। पहले मैं जिस बात को करने से मना करता था, वो नहीं करती थी लेकिन अब वो मेरी बात नहीं मानती है। कहती है कि ये मेरी लाइफ है, मैं चाहे जैसे जीऊं, तुम्हें क्या इससे मतलब। उसने मुझसे बात करना भी कम कर दिया है।

noida love story1

पहले जो भी बात हुआ करती थी वो हमें बताया करती थी पर अब कुछ भी नहीं बताती है। जब मैं कुछ पूछता हूं तो वो कहती है कि तुम अपने काम से काम रखो, फालतू का मेरे ऊपर दिमाग न लगाओ और बात करने से मना कर देती है।

अब बताओ दोस्तों, हम क्या करें…जो हम फिर से उसे पा सकें, वो पहले की तरह हमसे बात करे, हमारे साथ रहे, हमसे लड़ाई नहीं करे, हमारे साथ खुश रहे..

पेड एडमिन राजीव की बात

गरिमा अपनी जगह सही है। आप पजेसिव मत बनिए। रिश्ते की सीमा को समझिए। गरिमा अपनी जिंदगी के फैसले लेना चाहती है, इसमें आपको दखल देने की जरूरत नहीं। वो सही कह रही है कि आप उसकी जिंदगी के लिए ज्यादा दिमाग मत लगाइए। ऊपरवाले ने हर किसी को अपनी जिंदगी पर लगाने के लिए पर्याप्त दिमाग दिया है। आप भी अपना दिमाग अपनी जिंदगी को बेहतर बनाने में और फैसले लेने में लगाएं। आप जो जिद किए बैठे हैं, उसका एक ही समाधान है कि आप जिद छोड़ दें।

पेज रीडर्स की सलाह

Advertisements

कमेंट्स यहां लिखें-

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s