All posts by Rajeev Singh

Thank you for visiting this site. Read real life love stories and my shayari.

इस पेज से मेरी फ्रेंड को नई लाइफ और हिम्मत मिली – ज्योति की स्टोरी

मैं लखीमपुर खीरी से विकास हूं। मेरी दोस्त की स्टोरी पेज पर शेयर हुई थी जो नीचे है। पोस्ट होने के बाद जो भी सुझाव और कमेंट मुझे मिले, वो मैने अपनी दोस्त से शेयर की और उसे अपनी लाइफ में आगे बढ़ने के लिए बोला क्योंकि जिस हाल में वो जी रही थी वहां न ही उसका कोई भविष्य था, न ही उसकी मासूम बच्ची का।

उसकी ससुराल में उसे किसी का भी सपोर्ट नहीं था पर जब उसकी स्टोरी मैंने एडमिन राजीव को भेजी तो उन्होंने पोस्ट की। उस पर बहुत सारे साथियों के अच्छे सुझाव आए। मैंने अपनी दोस्त को वो सारे कमेंट ओर सुझाव दिखाए, जिसे पढ़कर उसके अंदर भी हिम्मत जगी कि वो भी ज़माने की सारी दीवारों को तोड़कर आगे बढ़ सकती है।

उसने अपनी ज़िंदगी में आगे बढ़ने का फैसला करके अपने खराब पति और ससुराल को छोड़ दिया है और एक ब्यूटी पार्लर ओपन किया है जिससे कि वो खुद का और अपनी बच्ची का भविष्य तय कर रही है।

पेज एडमिन जी का और सारे रीडर्स का बहुत-बहुत धन्यवाद।

Advertisements

वो कहती है कि तुम मुझे टाइम नहीं देते इसलिए रिश्ता तोड़ रही हूं – तरूण की लव स्टोरी

मेरा नाम तरूण है। मैं राजस्थान से हूं। एफबी पर छह साल पहले लखनऊ की एक लड़की से मेरी दोस्ती हुई। हम लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में रहे और 6 सालों में बस 4 बार एक दूसरे से मिल पाए। हमारी बातें फोन से होती थी। मैं उसे प्यार करने लगा था लेकिन पूछने से डरता था। एक दिन मैंने हिम्मत करके पूछ लिया तो उसने कहा कि एक लड़का है जिसको वो लव करती है। ये सुनकर मेरा दिल टूट गया लेकिन फिर भी मैं उसका दोस्त बने रहना चाहता था।

कुछ दिन बाद पता नहीं क्या हुआ कि उन दोनों की लड़ाई हो गई। मैं दोनों को समझाता था कि ये ठीक नहीं है, आप लोग अलग मत हो लेकिन वो हो गए। वो बहुत टूट चुकी थी तो मैंने उसे संभाला था। ऐसे ही दिन बीतते रहे। फिर मैंने उसको प्रपोज किया था डरते डरते तो उसने एक्सेप्ट भी कर लिया। वो बोलती कि वो भी मुझे बहुत प्यार करने लगी है।

tarun real love story1

मैं बहुत खुश था। हम बहुत प्यार करते थे एक दूसरे से को। मैं आपको बता दूं कि मैं राजस्थान में रहता हूं और वो लखनऊ में रहती है। हम इन छह सालों में सिर्फ चार बार मिले हैं। हमारे बीच लड़ाई भी होती थी लेकिन मना लेते थे हम एक दूसरे को। हम दोनों ही शॉर्ट टेंपर्ड हैं और जल्दी गुस्सा होते हैं। जब लड़ाई होती थी तो चार पांच दिन बात नहीं करते थे।

2017 के पहले महीने से ही उसका बिहेव चेंज होने लगा। उसको कई फर्क नहीं पड़ता। मैं गुस्सा होऊं या कुछ भी बोलूं तो जवाब देती है कि मुझे बात नहीं करनी, मुझे अभी कहीं जाना है। हर बात में उसे कहीं जाना होता है। मैं उसे बहुत प्यार करता हूं तो उससे दूर नहीं रह पाता था। उसको बहुत समझाता कि इतना गुस्सा मत हुआ करो, ज्यादा गुस्सा ठीक नहीं है लेकिन वो नहीं मानती।

मुझे दुख इस बात का भी है कि उसने कभी हमारी रिलेशनशिप को लेकर खुशी नहीं जताई कि हां मैं तुम्हारे साथ बहुत खुश हूं। अभी इसी साल मार्च में हमारी लड़ाई हुई, वजह ये थी कि मैं दिन में बात नहीं कर पाता। मैं जॉब करता हूं तो रात को ही समय निकाल पाता हूं। वो गुस्सा हो गई और जून से हमारी बात बंद हो गई। मैं उसे वाट्सएप और फेसबुक पर फॉलो करता रहता था। वो रात को दो तीन बजे तक ऑनलाइन रहती थी लेकिन मुझसे कोई बात नहीं करती थी तो बुरा लगता था।

मैं उस पर खुद से ज्यादा ट्रस्ट करता हूं, ये नहीं है कि उस पर शक है मुझे। इस साल अगस्त में मेरा बर्थडे आया तो मैंने सोचा कि शायद मुझे विश करे। मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उसको मैसेज और कॉल किया लेकिन उधर से कोई रिस्पॉन्स नहीं। मैंने उससे बहुत रिक्वेस्ट किया कि मुझे बात कर लो तब उसने बात की और कहा कि अब हमारे बीच कुछ नहीं है, तुम आगे मूव ऑन करो।

मैं ये सुनकर पागल सा हो गया। मैंने बहुत मिन्नतें कीं, बहुत रोया लेकिन वो नहीं मानी। मैं अभी भी उसे बहुत प्यार करता हूं, मैं उससे शादी करना चाहता था लेकिन उसने कहा था कि तुम्हारी अगर सरकारी नौकरी लगेगी तब ही कुछ हो सकता है नहीं तो मेरी फैमिली राजी नहीं होगी, जबकि हमारी कास्ट एक ही है।

मेरे बहुत रिक्वेस्ट करने के बाद उसने कहा कि हम दोस्त बने रह सकते हैं। मैं राजी हो गया लेकिन मैं उसे बहुत प्यार करता था इसलिए ये भी करने को तैयार हो गया। अभी कुछ दिन पहले उसने बताया कि वो एक लड़के से रेस्टूरेंट में मिली और फ्रेंडशिप होने के बाद उसे उससे प्यार हो गया। उसने कहा कि मैं उसे प्यार करती हूं।

उसने मेरे साथ ऐसा किया जबकि मैं इतने सालों में उसके अलावा दूसरी लड़की के बारे में सोचा तक नहीं। अब आप ही बताओ कि क्या 6 साल का प्यार इनसान कुछ ही दिन में भूल सकता है। मैं उसको बहुत प्यार करता था, प्यार करता हूं, प्यार करता हूं और करता रहूंगा लेकिन मुझसे अब ये फ्रेंडशिप का खेल नहीं खेला जा रहा। मैं बहुत दुखी रहता हूं।

उसकी हमेशा यही शिकायत रही कि तुम मुझे टाइम नहीं देते ही नहीं, मैं मांगती हूं लेकिन तुम्हारे पास समय ही नहीं है। अब आप लोग ही बताइए इसका ये मतलब तो नहीं कि हम किसी और के पास चले जाएं। क्या यही प्यार है जिसके लिए मैंने इतने सपने देखे थे।