Category Archives: तलाश शायरी

shayari -तुझसे दूर होकर दिल बड़ा उदास है

shayari latest shayari new

तेरी प्यास शायरी इमेज

तुझसे दूर होकर दिल बड़ा उदास है
ना तो तुम हो और ना ही सुकूं पास है

क्या थी खबर कि हम जुदा हो जाएंगे
अब अकेली हूं और जिंदगी हताश है

तुम्हें अपना मान कर चले थे तेरे साथ
तुम भुला चुके और मुझे तेरी तलाश है

अपने तरसे दिल को कैसे समझाएं हम
तेरे बिन जी नहीं लगता, ऐसी प्यास है

©rajeevsingh                                     shayari

shayari green pre shayari green next

Advertisements

शायरी – जिस गम ने जीना सिखाया, बस उसका तकाजा है

love shayari hindi shayari

जिस गम ने जीना सिखाया, बस उसका तकाजा है
कि दिल अब तक ढो रहा मुहब्बत का जनाजा है

उम्मीदों के फूल गुलशन में कबके मुरझा चुके
जो बचा है खिजां में वो कांटों का तमाशा है

सावन से कह दो कि मेरे आंगन में ना बरसे
यहां पहले से आंखों को बरसने में मजा सा है

मुंतजिर है तेरी राह देखता कबसे एक मुसाफिर
उसको तेरे हुस्न में सुकूं पाने का दिलासा है

©RajeevSingh #love shayari

खुदाई शायरी- तेरी बंदगी अब तेरी गली में

prevnext

मेरी जिंदगी अब तेरी गली में
तेरी बंदगी अब तेरी गली में

तेरे शहर में भटका बहुत हूं
ये आवारगी अब तेरी गली में

दिल से नजर तक तू छा गई
खोजूं मैं खुद को तेरी गली में

तू मेरे ख्वाबों की कमसिन परी
देखता हूं तुझे मैं तेरी गली में

©RajeevSingh

शायरी – इश्क और बंदगी के आंसू हैं

love shyari next

ये मेरी जंदगी के आंसू हैं
इश्क और बंदगी के आंसू हैं

लाल रंगत का भरम है वरना
मेरे खूं भी तो मेरे आंसू हैं

कोई आंचल पोछेगी एक दिन
इसी ख्वाहिश में बहते आंसू हैं

कोई मीठी सी खुशी क्या देगा
जो इतने सारे खारे आंसू हैं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तेरी आंखों से हमें इश्क हुआ

love shyari next

तुम तो आए भी, चले भी गए
एक दिल था उसे ले भी गए

तेरी आंखों से हमें इश्क हुआ
मेरी आंखों को अश्क दे भी गए

हमें मंजूर है रोना तन्हाई में
भीड़ में हम दर्द पी भी गए

अब तो कुछ न बचा दुनिया में
एक तुम थे, तुम खो भी गए

©RajeevSingh

शायरी – सभी बेगाने हैं, दुनिया में तेरा कोई नहीं

love shyari next

हिज्र के चांद आस्मा में तेरा कोई नहीं
ऐ मेरे रूह, आशियां में तेरा कोई नहीं

किस शहर में जाओगे तुम अकेले पंछी
सभी बेगाने हैं, दुनिया में तेरा कोई नहीं

कौन खाता है तरस इस चिरागे-दिल पे
बेवफा हैं सब, रोशनी में तेरा कोई नहीं

आज भी कोई सन्नाटा यहां पसरा है
ऐ मेरे रात, रास्तों में तेरा कोई नहीं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दर्द से अब निजात दिलाए कोई

love shayari hindi shayari

मुझे अपने पहलू में छुपाए कोई
दर्द से अब निजात दिलाए कोई

हमसफर मेरा जिस डगर पे है
उस मोड़ तक मुझे पहुंचाए कोई

मेरी जिंदगी में कोई रोशनी नहीं
मेरे घर में शम्मा जलाए कोई

जमाने की इतनी कड़ी धूप में
आंचल की छांव में बुलाए कोई

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – जख्मे दिल फिर दुखने लगे हैं

जख्मे दिल फिर दुखने लगे हैं

हम कतरा-कतरा मरने लगे हैं

 

हर मौसम अब लगता है सावन

रोज ही हम बरसने लगे हैं

 

जिनके लिए हम जगते हैं वो

गैरों के पहलू में सोने लगे हैं

 

टूट गया हाय दिल का आईना

आंखों से शीशे पिघलने लगे हैं

 

rosebud
ऐसे एहसास को तुम जवानी लिखो
rose-bud
इश्क हटा दोगे सीने से, आखिर क्या रह जाएगा

 

 

 

 

 

 

 

  1. तू मेरे शहर से भी गुजर जाएगा एक दिन
  2. दिल थाम कर जाते हैं हम राहे-वफा से
  3. कांटों के अंजुमन में खिलके बड़े हुए
  4. ये मुहब्बत भी कश्मीर बनके रह गई

शायरी – जाने कितने बरस भटकूंगी

love shayari hindi shayari

इस जनम में तुम मिले हो
मन के सूने अंबर में
चांद बनकर तुम खिले हो

जिन दिशाओं में हम चले हैं
तेरे साये साथ चले हैं
जिन नगरों में कोई नहीं है
वहां पे तेरे निशां मिले हैं
वीराने से इस जंगल में
तुम ही तो एक राह मिले हो
मन के सूने अंबर में
चांद बनकर तुम खिले हो

जिधर भी देखा, तुमको ही पाया
पर तेरी काया से मिल नहीं पाया
खोजा बहुत खुली नजरों से
दर्द किसी में नहीं था समाया
जाने कितने बरस भटकूंगी
जाने कहां तुम छुपे हो
मन के सूने अंबर में
चांद बनकर तुम खिले हो

शायरी – वो खामोशी से गम को दिखाती रही

साये में है मेरा कहीं हमसाया नहीं

जो खुदा हो गया, वो खुद आया नहीं

 

तूने अश्कों से ऐसी कहानी लिखी

जिसको पढ़के कोई रो पाया नहीं

 

वो खामोशी से गम को दिखाती रही

पर किया एक लफ्ज हमपे ज़ाया नहीं

 

यूं तो लिखता रहा उसपे अपनी गजल

उसको जाके कभी तो सुनाया नहीं

(ज़ाया- बर्बाद)

शायरी – तुम तो बड़ी हसीं हो, तुझे देखकर मैं खिंच गया

मैं कौन हूं जो बेसबब आया तेरे हुजूर में

तूने सच कहा ऐ अजनबी, मैं हूं किसी सुरूर में

 

तुम तो बड़ी हसीं हो, तुझे देखकर मैं खिंच गया

कुछ तो गुनाह है जिसे तूने देखा बेकसूर में

 

मेरी अदायगी है ये, तेरी हर सजा कुबूल है

ये जख्म भी इनाम है, मेरे इश्क के दस्तूर में

 

तुझे खोजना मेरा काम था, मुझे भूलना तेरा काम है

मंजिल मेरी मुझे मिल गयी, जी लूंगा इस गुरूर में

शायरी – तू पढ़के जरा देख ले मेरे इश्क का जुनूं

इस जिंदगी में मेरे जितने भी दर्द हैं

दिल के लिए तो ये दिलरुबा के कर्ज हैं

 

आंखों में ये मौसम कभी खुशगवार थी

पर आजकल इन आंखों में हर ख्वाब सर्द हैं

 

इन तारों ने हर रात मेरे दिल को समझाया

अपने ही अंधेरों में खुद जलना ही फर्ज है

 

तू पढ़के जरा देख ले मेरे इश्क का जुनूं

दीवाने का हर जज्बा गजलों में दर्ज है

शायरी – सोचकर तुमको ऐ हमदम, रो दिया, रो दिया

love shayarihindi shayari

अपना हर एक दर्द हमने, लिख दिया, लिख दिया
तुमने दिल जो-जो कहा, कर दिया, कर दिया

सुबह से शाम तलक और रात भर ये हुआ
सोचकर तुमको ऐ हमदम, रो दिया, रो दिया

मैं भला क्यूं जाउंगा, भीड़ भरी राहों पे
लाशों के जुलूस से मैं, डर गया, डर गया

बस्तियों से अब उजड़के आ गया तन्हाई में
इश्क के इस आशियां में, रह गया, रह गया

©RajeevSingh #love shayari