Category Archives: मुहब्बत शायरी

shayari – इश्क की सारी रस्में निभाकर बैठा हूं

shayari latest shayari new

बेवफा से वफा शायरी इमेज

देखिए यहां सब जी रहे हैं अपनी धुन में
और मैं खामोश तूफानों के अंदर बैठा हूं

सब तारीफ कर रहे हैं मेरी महफिल में
शायद शरीफ होने का गुनाह कर बैठा हूं

मतलब की दुनिया से दूर रहता हूं इतना
कि मैं सबको खुद से खफा कर बैठा हूं

दूसरों को नसीहत दिया करता था कभी
मगर खुद बेवफा से वफा कर बैठा हूं

दिल को तोड़ने वाली शायरी

मैंने मोहब्बत सिर्फ एक से की अब तक
इश्क की सारी रस्में निभाकर बैठा हूं

वो शायद कभी मिल नहीं पाएगी मुझे
मैं मुकद्दर में ये बात लिखवाकर बैठा हूं

मेरी बातों में बहुत मोहब्बत झलकती है
क्या कहूं, अपना दिल तुड़वाकर बैठा हूं

मुझे चैनो सुकून हासिल कहां जिंदगी में
मैं रातों में बड़ी देर तक जागकर बैठा हूं

दिल जलाकर शायरी इमेज

हो जाए शायद रोशनी मुझसे दुनिया में
इसलिए मैं अपना दिल जलाकर बैठा हूं

मुझे गिला किसी से नहीं, मेरे अपनों से है
वैसे तो दुश्मनों का भी भला कर बैठा हूं

इस दुनिया में ज्यादा शरीफ लोग रहते हैं
मैं यहां से निकलने का इरादा कर बैठा हूं

इस जहां में वो ना मिल सकी तो क्या हुआ
मैं सितारों में मिलने की वादा कर बैठा हूं

shayari green pre shayari green next

Advertisements

तुमसे जुदा होकर मेरे पास क्या रह जाएगा – शायरी फोटो

new prev new shayari pic

आंखों की शायरी इमेज
आंखों की ख्वाहिश है कि तुझे एक बार देखूं
तभी तेरे आशिक को जरा सुकून मिल पाएगा

prev shayari green next shayari green

शायरी – उसके सिवा क्या पाने को था

love shyari next

जीने का मजा उसी ने है दी
मरने की सजा उसी ने है दी

उसके सिवा क्या पाने को था
खोने की दुआ उसी ने है दी

खयालों से उठते हुए दर्द को
बढ़ने की दवा उसी ने है दी

देखकर जिसे मैं इबादत करूं
आंखों में खुदा उसी ने है दी

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दिल लगाना भी सजा होता है

love shayari hindi shayari


दिल लगाना भी सजा होता है
तेरे दर पे ये सिला मिलता है

मैंने क्या-क्या ना किए तेरे लिए
तुझे खोजूं तो गिला मिलता है

जब गुजरता हूं गली से तेरी
तेरा घर बंद किला मिलता है

बुत तो जिंदा रही खामोशी से
कोई मंदिर में जला मिलता है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – राह पे जब तू साथ न आया

love shayari hindi shayari


तेरा दामन मेरे हाथ न आया
तुझपे भी कोई दाग न आया

पीछे मुड़के अब क्या देखूं
राह पे जब तू साथ न आया

रख ली हथेली पे माथे को
दर्द को जब दिल झेल न पाया

मेरी आंखें तुमसे जुदा हैं
रात हुई पर चांद न आया


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – कैसे हो गई तेरी वफा कम

love shyari next

चांद ने मुझसे मुहब्बत की तो
सब तारे हो गए मेरे दुश्मन

मुझको कोई भी क्या देगा
देख चुके हैं सबका दामन

तुम अपनी नजरों से बताना
फूल पे आंसू हैं या शबनम

दिल में तेरे दर्द है फिर भी
कैसे हो गई तेरी वफा कम

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दिल में हर गम छुपा कर रखा है

love shyari next

दिल में हर गम छुपा कर रखा है
जख्म पे महरम लगा कर रखा है

ना गिर पाएंगे ये दर्द के शबनम
बड़ी मुद्दत से पलकों पर रखा है

कितनी बातें है तुमसे कहने के लिए
जैसे कोई खजाना जुबां पर रखा है

वफा की साज पे दिल के नगमे
तेरे खातिर ही कागजों पर रखा है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तुम जबसे दामन हमसे बचाने लगे

love shayari hindi shayari

तुम दामन जब हमसे बचाने लगे
दुनियावालों के लब मुस्कुराने लगे

खाक में मिले तो रोया इस कदर
आंसुओं को गिरने में जमाने लगे

जेब में खुदा के सिवा कुछ न रहा
फकीरों से हम नजर आने लगे

उस जगह मैं अब टिक पाता नहीं
जो तेरी याद को सुलगाने लगे

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – क्या इश्क मिटा पाएगी तेरी जुदाई

love shayari hindi shayari

लिबास में कबसे पहन ली बेवफाई
ऐ नाजनीं दिखा दी ये कैसी बेहयाई

दिल मेरा तोड़कर सुनो ऐ जानेवाले
क्या इश्क मिटा पाएगी तेरी जुदाई

मुझको तो अब कोई शिकवा नहीं है
नहीं सुनना है तेरी ये झूठी सफाई

दर्द हो चुकी है अब ये जिंदगी मेरी
जिंदा है सिर्फ मेरे रूह की तन्हाई

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – एक गुमसुम सी फूल के खातिर मैं कांटों पे सोया

love shayari hindi shayari

प्यासी निगाहें बरस गई, बरसी निगाहें तरस गई
सावन की आई बारिश में कितनी नदियां टूट गई

मेरे सागर में एक कश्ती तूफानों से डरती थी
सैलाबों से लड़ते-लड़ते वो भी एक दिन डूब गई

एक गुमसुम सी फूल के खातिर मैं कांटों पे सोया
लेकिन वो खुद से रूठी थी, हमसे भी रूठ गई

बाली उमर में बुझता चिरागां शम्मे को दर-दर ढूंढे
वो बुझा उसकी गली में, जब वो शम्मा बुझ गई

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – हर आदमी में वफा हो ऐसा हो नहीं सकता

love shayari hindi shayari

हर आदमी में वफा हो ऐसा हो नहीं सकता
गुलशन का हरेक फूल खुशबू दे नहीं सकता

तुम मुझसे मुखातिब हो ऐसे क्यूं देखते हो
क्या मेरे सिवा तुमको कुछ और नहीं दिखता

मेरा दर्दो-बयां सुनकर ऐसे वो हंस पड़े
जैसे रोने का उन्हें कभी मौका नहीं मिलता

सब साथ चल पड़े थे मगर राह तो कई थे
हर मोड़ पे बिछड़ा हुआ फिर साथ नहीं चलता

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – मैं तो तेरी हर अदा पे कविता लिखता

मैं तो तेरी हर अदा पे कविता लिखता

काश हमको संग जीने का मौका मिलता

 

दिल में पड़े सभी गांठ खुल ही जाते

अगर तेरी उंगलियों का सहारा मिलता

 

मेरे जज्बात हैं मासूम बच्चों की तरह

ये रोते नहीं जब आंचल का किनारा मिलता

 

वो चांदनी जब निकल आती मेरे आंगन में

हमको अपने घर में भी उजाला मिलता

शायरी – छुप सकी है क्या कोई हु्स्न किसी शायर से

मैं अपनी आह में जिंदा हूं एक मुद्दत से

मुझे मिला है बस दर्द अपनी किस्मत से

 

पी लिया जहर मगर जान बच गयी थी मेरी

गम ही बस दिल में रहे, मौत न हुई मुद्दत से

 

एक तमन्ना है जिसे गाके, सुनाऊंगा तुझे

ये गजल लिखके रखी हैं हमने मुद्दत से

 

छुप सकी है क्या कोई हु्स्न किसी शायर से

तुम नकाबों में भले रह रही हो मुद्दत से