Category Archives: यादें शायरी

शायरी – जो भी खोया था वो याद आया

love shayari hindi shayari


जिसको पाया था उसे भूल गया
जो भी खोया था वो याद आया

मुझे जो बातें उनसे कहनी थी
उनके जाने के बाद याद आया

अपनी हर सांस की आहट पे
मुझे आठों पहर वो याद आया

ये गजल जब भी पढ़ी हमने
उनके आने का सबब याद आया


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी – तू ही तू मुझको याद आया

love shyari next

जहां भी देखा गम का साया
तू ही तू मुझको याद आया

ख्वाबों की कलियां जब टूटी
ये गुलशन लगने लगा पराया

दरिया जब-जब दिल से निकला
एक समंदर आंखों में समाया

मेरे दामन में कुछ तो देते
यूं तो कुछ नहीं मांगा खुदाया

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – कैसे सहूं इस दर्द को मुझको जरा बताओ ना

कैसे सहूं इस दर्द को मुझको जरा बताओ ना

अपनी तरह ये जिंदगी जीना मुझे सिखाओ ना

 

तुम किस तरह सहती हो, दिन-रात जीवन के सितम

सीने में दुख सहेजकर जीती हो कैसे ऐ सनम

दिल में छुपे क्या राज हैं मुझको जरा सुनाओ ना

 

अपनों ने तुमको गम दिये, दुनिया तेरी बनी दुश्मन

हजार जख्म खाके भी खामोश क्यों हो ऐ सनम

मेरे सामने भी उदास हो, नजरें उठा मुसकाओ ना

कैसे सहूं इस दर्द को मुझको जरा बताओ ना

शायरी – जब कभी महसूस होता है सीने में दर्द सा

खोना था जिसको आंखों से, खो गया सो खो गया

आंसू तो फिर मिल जाएंगे, बह गया सो बह गया

 

जिंदगी के रास्तों में चांद ठहरा था फलक पर

हम भी तन्हा थे रातों में, वो भी तन्हा रह गया

 

जब कभी महसूस होता है सीने में दर्द सा

सोचता हूं फूल में कांटा कहां से आ गया

 

कोशिश की बुझने की तो आप आके जला गए

दिल मेरा जलता रहा, आपका साया खो गया

शायरी – सीने में शीशा है टूटा तो वो आग से क्यूं न पिघले

दिल से जीने से बेहतर तो अच्छा था मैं मर जाती

दर्द को पीने से बेहतर तो अच्छा था जहर पी जाती

 

अपनों की जंजीरों से तो घायल हो गए पांव कलाई

इसको तोड़के दुनिया में मैं आखिर किसके घर जाती

 

सीने में शीशा है टूटा तो वो आग से क्यूं न पिघले

बहते आंसू से छाती की जलन नहीं है बुझ पाती

 

कितने बरस की सजा है जिसको काटके जाऊंगी मैं

जीते जी दुख ने जलाया, काश चिता भी मिल जाती

शायरी – सर उठाओ मेरे महबूब कि मेरा चांद निकले

love shayari hindi shayari

आज खो बैठे हो क्यूं अपनी पहली सी नजर
कैसा गम है जिसमें बदली है गहरी सी नजर

मेरी आंखों में जरा देखो तो मैं भी देखूं
क्यूं भला अश्क में डूबी है ठहरी सी नजर

सर उठाओ मेरे महबूब कि मेरा चांद निकले
तू करीब आके जला दे मेरी बुझती सी नजर

इस तरह चुप न रहो, मुझसे कुछ तो बोलो
कब तलक यूं छुपाओगे ये बहती सी नजर

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – तेरे चेहरे की उदासी ने हमें बर्बाद किया

love shayari hindi shayari

इसका अफसोस है कि हम तुझे पा न सके
दिलरुबा तेरी पनाहों में सर छुपा न सके

ये अंधेरा मेरी आंखों में सिमट आया है
तेरे इस दर्द में हम दीपक जला न सके

तेरे चेहरे की उदासी ने हमें बर्बाद किया
तेरे आंसू से हम खुद को बचा न सके

अब तो तन्हा हुआ हूं उम्रभर के लिए
पर तेरी आहट इस दिल से मिटा न सके

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – दिले-नादां और कितनी दूर जाएगा

love shayari hindi shayari

दिले-नादां और कितनी दूर जाएगा
किस शहर में तेरा दर्द मिल जाएगा

जिन चिरागों से रोशनी खफा है अभी
उस बुझे दिल को चांद न मिल पाएगा

अब ये फुरकत के सदमे न सह पाएंगे
तेरे बिन जिंदगी खाक में मिल जाएगा

हर हकीकत से जुदा हूं मैं दुनिया में
बेखुदी तुमसे खयालों में ही मिल पाएगा

फुरकत – जुदाई

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – बस यही सोचके तुम्हें याद किया करता था

love shayari hindi shayari

वो भी क्या रातें थी जब खूब जगा करता था
क्या खबर थी कि मैं खुद से दगा करता था

जो हकीकत भी नहीं था, फसाना भी नहीं
मैं कहीं बीच की मंजिल पर रहा करता था

फासलों में भी कई तार थे जुड़ने के लिए
बस यही सोचके तुम्हें याद किया करता था

कुछ शिकायत थी तुमसे भी, खुद से भी
जाने कुछ दर्द था, गजल में लिखा करता था

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari