iit love story1

गोपाल जी, वो आपसे प्यार प्यार नहीं करती थी लेकिन उसने आपके दिल का ख्याल रखा….

गोपाल जी, आपकी स्टोरी ये है कि आईआईटी में दो साल के कोर्स के दौरान आपको एक क्लासमेट से प्यार हुआ। आपने उसको चिट्ठी लिखी लेकिन कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला। अंत में आपको पता चला कि उसका ब्वॉयफ्रेंड है। आपकी कहानी पढ़कर मुझे अपने कॉलेज के दिन याद आ गए। दरअसल कॉलेज में अक्सर ये होता है, खासकर मास्टर्स डिग्री में जिसमें हम उस समय एडमिशन लेते हैं जब जवानी का एक पीरियड गुजर चुका होता है।

अक्सर मास्टर्स डिग्री तक आते-आते लड़के या लड़की लव और ब्रेकअप जैसी चीजों से गुजर चुके होते हैं क्योंकि अमूमन यह सब जवानी की दहलीज पर कदम रखते ही या यूं कहें कि इंटर करने के समय से ही प्यार की कहानी बननी शुरू हो जाती है। कइयों की कहानी तो स्कूल में ही बन चुकी होती है। खैर, आपके साथ वही हुआ। लड़की पहले से किसी के साथ रिलेशनशिप में थी तो जाहिर है कि वो आपके प्रेम निवेदन का जवाब ना में दे सकती थी लेकिन उसने ऐसा नहीं किया?

iit love story

आपकी सारी चिट्ठियां उस तक पहुंची थी लेकिन उसने आपसे झूठ बोला कि वो चिट्ठियां उसको नहीं मिली। दरअसल वो आपका दिल नहीं तोड़ना चाहती थी और उसने आपकी फीलिंग्स का ख्याल रखा। इसका दूसरा पहलू भी होता है कि उसे आपके साथ ही दो साल क्लास में रहना था तो जरूरी था कि यह समय अच्छे से गुजर जाए। अगर वो आपके प्रपोजल का जवाब न में देती तो हो सकता था कि आप निराश होते या आप पर कोई साइड इफेक्ट पड़ता जिसका असर उस तक भी जा सकता था।

रिलेशनशिप कॉम्पिलेकेट न हो और कॉलेज में जिंदगी आसानी से चलती रहे इसलिए उस लड़की ने सेफ रास्ता चुना। इससे आपके दिल को ठेस भी नहीं लगी, आप खुद में ही सोचकर रह गए और आप समझ भी गए कि वो क्या चाहती है। आपने भी समझदारी से काम लिया, उसके इशारों को समझा और उसके साथ दोस्त जैसा व्यवहार किया भले ही आपके अंदर उसके लिए प्यार पलता रहा।

जब कॉलेज के दिन खत्म हो जाते हैं तो यह प्यार और भी दुख देना शुरू करता है क्योंकि हम जुदा हो चुके होते हैं। कॉलेज में तो रोज आप उसको देखते होंगे तो आपकी भावना खुश होती होगी लेकिन वहां से निकलने के बाद अब आपकी नजरों के सामने नहीं तो दर्द बढ़ना लाजिमी है। वक्त के साथ आपके जख्म भर जाएंगे। आप जिंदगी में चलते रहिए। यह प्यार आपकी जिंदगी में एक सुखद याद बनकर जिंदा रहेगा।

गोपाल की लव स्टोरी पढ़िए

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.