friendship shayari

हिंदू लड़की से मुझे प्यार है, मैं मुस्लिम हूं, मेरे घरवाले कह रहे रिश्ता तोड़ो वरना झगड़ा होगा

मेरा नाम हसन है। मैं मध्य प्रदेश से हूं। अभी 24 साल का हूं। मेरे पड़ोस में एक हिंदू लड़की रहती है जो मुझसे बेहद प्यार करती है। कुछ महीने पहले उसने मेरा फोन नंबर मांगा था जो मैंने उसे दे दिया। हमारी बात शुरू हुई और हमारी दोस्ती प्यार में बदल गई। मेरे बिना वो एक पल नहीं रहती थी।

कुछ दिनों पहले मेरे घरवालों को हम दोनों के रिश्ते के बारे में पता चल गया। उस लड़की के घरवाले काफी लड़ाई-झगड़ा करते हैं और काफी खतरनाक हैं इसलिए इज्जत के डर से मेरे घरवालों ने मुझे उससे बात करने से मना कर दिया है। मैंने उससे बात करना बंद किया तो उसका रो-रोकर बुरा हाल हो गया।

hasan love story

वो बहुत बीमार रहती है। उसे मुझसे बहुत प्यार है और मैं उसको हर्ट नहीं करना चाहता पर मेरे घरवाले उससे बात करने और रिश्ता रखने से मना कर रहे हैं क्योंकि अगर लड़की के घरवालों को पता चल गया तो बहुत बड़ा झगड़ा हो जाएगा और इज्जत भी चली जाएगी।

अब मुझे ये समझ नहीं आ रहा है कि क्या करूं? उस लड़की से बात करके उसका सहारा बनूं या फिर अपने घरवालों की बात मानकर उसे मरता छोड़ दूं। मैं सोच-सोचकर पागल होता जा रहा हूं और वो भी उधर पागल हो रही है।

पेज एडमिन राजीव की बात
हसन जी, आपके घरवाले वही कह रहे हैं जो आज की दुनिया में प्रैक्टिकल बात है। मैं हिंदू हूं लेकिन हिंदू-मुस्लिम धर्म वाली बात को दिमाग से निकालकर प्रैक्टिकल बात ही कहूंगा। दरअसल, इज्जत सिर्फ आपके घर की नहीं जाएगी, उस लड़की के घर की इज्जत भी जाएगी। दूसरी बात, अगर वो बीमार है तो ठीक हो जाएगी। अगर वो सुसाइडल है तो उसके घरवालों को उसे संभालना चाहिए। अगर आप इस रिश्ते में और आगे बढ़ेंगे तो वाकई बवाल होगा….जैसा कि आपके घरवाले कह रहे हैं।

आपने कहा कि आप अपनी गर्लफ्रेंड को हर्ट नहीं करना चाहते तो अभी तत्काल बर्दाश्त कर लीजिए। धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएगा। जब यहां दो जातियों के प्रेम-संबंध में बवाल होता है तो आप तो दो अलग धर्म के हैं। मैं ये नहीं कह रहा है कि बवाल से आप डर जाएं या प्यार करनेवाले प्यार करना छोड़ दें लेकिन प्यार का मतलब ही होता है कि सामने वाले की भलाई किसमें है, हम वो काम करें। फिलहाल, लड़की की भलाई इसी में है कि आप दूर हो जाएं।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.