झारखंड से हीर की लव स्टोरी – love story of heer from jharkhand

2016 मेरे लिए हर मायने में स्पेशल रहा। करियर, फैमिली, फ्रेंडशिप और प्यार। किस्मत से इसी साल मेरी एक बहुत बड़ी कंपनी में जॉब लगी। हम पहली बार उनसे वहीं ऑफिस में मिले।

jharkhand love story

ऑफिस में कुछ दोस्त भी बने। मुझे कब उनसे प्यार हो गया, मुझे पता न चला। वो हमेशा मेरी हेल्प करते थे। एक बार जब मैंने डिप्रेशन में जॉब छोड़ दिया था तो उन्होंने ही मुझे समझाकर फिर से वापस लाया था।

वहां मेरी एक बेस्ट फ्रेंड थी जिसे मेरी फीलिंग्स के बारे में सब पता था लेकिन वह भी उनको लाइक करती थी।

जब मुझे यह रियलाइज हुआ तो मैंने अपनी उस फ्रेंड से इस बारे में पूछा पर उसने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं है। उसने कहा कि हम लोग जस्ट नॉर्मली बात करते हैं।

पर बाद में पता चला कि वो लोग हमेशा एक दूसरे के साथ समय गुजारते थे और मिलने का एक भी चांस नहीं छोड़ते थे।

फिर पता चला कि उनकी शादी फिक्स हो गई तो मैं यकीन नहीं कर पा रही थी। मैंने अपना गुस्सा अपनी फ्रेंड पर निकाला।

हमने इसके बाद कभी नहीं चाहा कि वे मेरे हो जाएं। शादी की खबर मिलने के बाद मैं उनसे कटकर रहने लगी क्योंकि मैं उनकी खुशी चाहती हूं, उनकी रिस्पेक्ट करती हूं और प्यार भी करती हूं। मैं उनको भुला नहीं सकती।
——
पर सबसे ज्यादा गम इस बात का है कि जिस फ्रेंड पर मैंने सबसे ज्यादा ट्रस्ट किया, उसी ने मेरी फीलिंग का मजाक बनाया। अब आप ही बताओ क्या मैंने अपनी फ्रेंड पर गुस्सा करके गलत किया..

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.