Tag Archives: आंगन शायरी

शायरी – जो पल गुजारे हमने तेरी याद में

love shyari next

बेदर्द ये रातें और हिज्र के मौसम
खुद पर खामोशी से मनाते हैं मातम

दिल में उठा अभी आंसू के तूफां
नजरों के रहगुजर में आया है सावन

बस्ती में कहीं पर निशां नहीं तेरा
हम ढूंढ़ रहे हैं कबसे तेरा आंगन

जो पल गुजारे हमने तेरी याद में
हर पल मिला है तेरे दर्द का दामन

हिज्र- जुदाई

©RajeevSingh # love shayari

Advertisements

शायरी – होठों पे तराने हैं और आंखों में आंसू

love shayari hindi shayari

दिल ही दिल में रोते हैं दर्द तेरा लेकर
सबको ये पता है, तुमको नहीं खबर

होठों पे तराने हैं और आंखों में आंसू
बहारों के मौसम में नजरों में पतझड़

वो हो गयी गैरों के आंगन की इज़्जत
दीवाने जरा देख ले गौर से ये मंजर

भले ही जुदाई का तुमपे न हो असर
हम रोए तुझे देखकर, रोएंगे बिछड़कर

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – तेरे हाथों से जब छूट जाएंगे हम

love shayari hindi shayari

तेरे हाथों से जब छूट जाएंगे हम
आईने की तरह टूट जाएंगे हम

तेरे आंगन में कोई परिंदा नहीं
तेरे पिंजरे में आ रह जाएंगे हम

आज बारिश हुई है बड़े जोर की
ऐसा लगता है कि आज रोएंगे हम

बख्श दे मुझको जन्नत ऐ नाजनीं
तुझे पहलू में ले मर जाएंगे हम

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari