Tag Archives: आंधी शायरी

शायरी – सावन आया हर रातों में

love shayari hindi shayari


आग ये कितनी दूर जली है
हमपे ये लौ बरस रही है

दूर निगाहों से होकर भी
वो आंसू मुझे परोस रही है

हिलता नहीं है एक भी पत्ता
कोई आंधी तरस रही है

सावन आया हर रातों में
दुख की घटा गरज रही है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – ऐसा लगता है मुझे तू रातभर सोयी नहीं

love shayari hindi shayari

ऐसा लगता है मुझे तू रातभर सोयी नहीं
खा कसम मेरी कि तू रातभर रोयी नहीं

बन गयी है जुल्फें तेरी उजड़ी-उजड़ी सी बहार
आंधियों में घिर के भी तू चमन से गई नहीं

ये तेरा उदास चेहरा, ये तेरी गमगीन आंखें
आने से पहले जरा तू आईने में झांकी नहीं

हूं मैं हैरां देखकर कि क्या ये तेरा हाल है
इश्क में मुझपे कभी ऐसी कयामत आती नहीं

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – वो मुसाफिर भी किसी मोड़ पे भला क्यूं रूकता

love shayari hindi shayari

वो मुसाफिर भी किसी मोड़ पे भला क्यूं रुकता
जिसके पैरों में न जंजीरें थी, वो भला क्यूं रुकता

कहीं माजी के इशारे पे मैं पीछे न मुड़ा
छूटे लम्हों की राहों पे आखिर मैं क्यूं चलता

दश्त में खौफ था फैला किसी आंधी का
ऐसे माहौल में एक पत्ता भी भला क्यूं हिलता

सामने आते ही जिसके मैं आईना बन गया
फिर मुझे खुद में उसके सिवा कोई क्यूं मिलता

(माजी- अतीत)

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – इन गुलाबों में पलता है खुशबू सा कोई

love shyari next

दर्द दुनिया में सहकर चले जाना है
अपनी किस्मत पे रोकर चले जाना है

खोजते रह गए लेकिन मुहब्बत न मिली
तेरे दर से भी गुजरकर चले जाना है

उड़ रहे सूखे पत्तों को मुसाफिर न कहो
आँधियों में इसे उड़कर चले जाना है

इन गुलाबों में पलता है खुशबू सा कोई
तेरे हाथों में जिसे टूटकर चले जाना है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari