Tag Archives: आरजू शायरी

शायरी – इतने नादान हो फिर भी दिल लगाते हो

love shayari hindi shayari

इतने नादान हो फिर भी दिल लगाते हो
इतने नाजुक हो, क्यूं पत्थर से टकराते हो

रु-ब-रु आती है वो तो छुप जाते हो
इतने प्यासे हो कि पानी से घबराते हो

आरजू पा ही गए तुम हुस्ने जानां की
तुम भी रातों में तन्हा सा गजल गाते हो

शोला भड़का है दिल के सनमखाने में
चिरागों की तरह खामोश नजर आते हो

©RajeevSingh # love shayari

Advertisements

शायरी – मेरी उल्फत को बेवफाई का ही नाम दे दो

love shyari next

और कुछ न सही, मुझको ये इल्जाम दे दो
मेरी उल्फत को बेवफाई का ही नाम दे दो

जख्म और दर्द तुझे पाकर मिट सा गया
जानेवाले मुझे रोने का सामान दे दो

हम गुजरे हैं तेरी आरजू की गलियों से
मेरे ख्वाबों को टूट जाने का अरमान दे दो

बेखबर तू है तो मैं होश में क्यूं रहता हूं
ऐ मेरे दिल, मुझे मौत का फरमान दे दो

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – आहें दिल की आरजू हैं, दर्द ही तमन्ना है

love shyari next

आहें दिल की आरजू हैं, दर्द ही तमन्ना है
इश्क ही गुनाह मेरा, फिर सजा तो सहना है

मुश्किलों के इस दौर में दूर है मेरी दिलरुबा
ऐसी तन्हाई में मेरे मुश्किलों को बढ़ना है

तेरी आंखों के दरवाजे खुलते हैं बस मेरे लिए
लेकिन तेरे आशियां में गैरों को ही रहना है

लड़ जाऊंगा मैं दुनिया से लेकिन तू रुसवा होगी
दाग न तुझपे लगने देंगे, खुद से ही बस लड़ना है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दर्द बेजुबां हो तो दिल क्या कहे

love shayari hindi shayari

दर्द बेजुबां हो तो ये दिल क्या कहे
आह खामोश हो तो ये लब क्या कहे

आरजू का हर एक अश्क आंखों में था
उसने देखा नहीं तो पलक क्या कहे

चाहतें मंद हैं बुझती लौ की तरह
रोशनी ही नहीं तो दीपक क्या कहे

कोई नहीं यहां अपना मेहरबां सा कोई
तन्हाई में अब मुझसे शब क्या कहे

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – जख्म जब-जब दिल में मेरे इश्क में जल उठा

love shyari next

आईना देखा तो मेरा एक अलग ही रूप था
कल तलक जो अक्स था, आज वो इक दाग था

बस मेरी तू आरजू थी, चूड़ होकर रह गई
मैं भी शायद जिंदगी का एक टूटा ख्वाब था

मिट्टी का हर दर्द तो फूल बनकर खिल गया
मेरे सीने में भी गम का एक हसीन गुलाब था

जख्म जब-जब दिल में मेरे इश्क में जल उठा
आंख से पानी बहे, उस पानी में भी आग था

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – सौ बार टूटा दिल मेरा, सौ बार बिखरी आरजू

love shyari next

सौ बार टूटा दिल मेरा, सौ बार बिखरी आरजू
दुनिया में इज्जत ढ़ूंढ़ी तो सौ बार लुट गई आबरू

मुझसा ही तू उदास था, मुझसा ही तू बर्बाद था
मुझसे ही तुमको इश्क था, आया न तू मेरे रू-ब-रू

दिल पे मैं क्या गुमां करूं, जिसने मुझे बस दुख दिया
दुख में ही कटती रात है, दुख से ही होता दिन शुरू

अब तो जरूरत ना रही, तेरी भी ऐ मेरे खुदा
जब मौत से ही प्यार हो तो मैं किसी से क्यों डरूं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

 

शायरी – कुछ इस तरह से दर्द भी मेरे सीने में उठा करे

love shyari next

मेरे जीने की ये आरजू तेरे आने की दुआ करे
कुछ इस तरह से दर्द भी मेरे सीने में उठा करे

मैं अजीब सा एक शख्स हूं, उदास हूं, नाशाद हूं
हर आदमी इस जहां में, मुझे देखकर हंसा करे

तिनकों को जोड़-जोड़ के एक घर बनाया इस तरह
कि मैं भी इसमें रह सकूं, कोई चिड़िया भी रहा करे

अपने मजार पे सनम तेरा नाम मैं लिखवाऊंगा
तेरा नाम लेके कब्र भी सदियों तलक सदा करे

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दिल की जितनी भी परेशानी है

prevnext

दिल की जितनी भी परेशानी है
सब तेरी ही मेहरबानी है

आरजुओं का एक समंदर है
और आंखों में कितना पानी है

फूल भी और चुभन भी है
हुस्न की भी क्या जवानी है

चांदनी रात है सुलगती हुई
आज दिल में आग तो लगानी है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari