Tag Archives: आशना शायरी

शायरी – तेरा दिल मेरा आशना तो हो

love shayari hindi shayari


राज ए उल्फत का तजरबा तो हो
तेरा दिल मेरा आशना तो हो

चांद निकलेगा रोज मेरे घर में
हुस्न जैसा कोई आईना तो हो

कितने पानी में हैं, हम नापेंगे
आंसुओं से मेरा सामना तो हो

मेरी तन्हाई की रौनक बढ़ जाएगी
उनको आने की तमन्ना तो हो

राज ए उल्फत – मोहब्बत के राज
आशना – यार, परिचित


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी – किस तरह मैं अपने ही दिल को बेवफा लिखूं

love shyari next

कौन से लफ्ज़ में मैं दर्द की सदा लिखूं
किस तरह मैं अपने ही दिल को बेवफा लिखूं

इन अंधेरों की खामोशी में है रूह मेरी
और उजालों में दिखे जिस्म को जनाजा लिखूं

साज के रोते हुए सुर मुझे कुछ कहते हैं
इन सुरों को मैं किसी नज्म का आईना लिखूं

सात रंगों को लिखता हूं मैं इंद्रधनुष
सैकड़ों जख्म की रंगत को आशना लिखूं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दिल के हर जज़्बात का गम आशना है इस कदर

love shyari next

कानों में है गूंजती दिन-रात यूं तेरी सदा
सुन नहीं पाया दुनिया से आती हुई कोई हवा

दिल के हर जज़्बात का गम आशना है इस कदर
दर्द ही देता है मुझको मुस्कुराने की दवा

बेवफा है दुनिया में सजता हुआ हर आईना
जो उस चमक में खो गए वो भूल गए अपनी वफा

हो गया आसान कितना जीना अब तन्हाई में
मुश्किल में थी जब जिंदगी, वो कह गए अलविदा

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जबसे खबर हुई कि मेरा दिल आशना है

prevnext

जबसे खबर हुई कि मेरा दिल आशना है
तबसे हम बेचैन हुए तेरे हर पल की खबर के लिए

कई दिन हो गए तुमसे मुहब्बत किए हुए
पर तरसते रहे अब तक तेरी इक नजर के लिए

तेरे साये से दूर हूं कि तेरी रुसवाई न हो
यही करता है हर आशिक अपने दिलबर के लिए

अश्क तो बह रहे हैं तन्हाई में जीते हुए
कोई मरहम तो अब बता दे तू खूने-जिगर के लिए

©RajeevSingh