Tag Archives: आशियां शायरी

शायरी – जो फूल उसकी जुल्फों तक नहीं पहुंच सका

love shayari hindi shayari

मुहब्बत के मुकद्दर में वो हसीं शाम कभी होती
सोचता हूं ये जिंदगी तो उसके नाम कभी होती

जो फूल उसकी जुल्फों तक नहीं पहुंच सका
उसे तोड़ने को वो दिल से परेशान कभी होती

मुझे पत्थर समझकर जो हमेशा तराशती रही
उस खुदा से हमारी दुआ सलाम कभी होती

जिसको देखा किए हर शब उल्फत के आइने में
वह अक्स हमारे आशियां की मेहमान कभी होती

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – इस रात के आलम में मेरा इश्क जानेजां

love shyari next

आ जाओ, अब मौसम भी मस्त हो चला
खड़ा है तेरी राह में देखो एक दिलजला

आंखों की रोशनी से एक चांद बनाएं
आशियां में तारों सा हम जाएं झिलमिला

आओ तुझे बाहों में भरके प्यार करूं मैं
मिट जाए दोनों की तन्हाई का सिलसिला

इस रात के आलम में मेरा इश्क जानेजां
तेरे हुस्न की आगोश में खोने को है चला

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – सोचकर तुमको ऐ हमदम, रो दिया, रो दिया

love shayarihindi shayari

अपना हर एक दर्द हमने, लिख दिया, लिख दिया
तुमने दिल जो-जो कहा, कर दिया, कर दिया

सुबह से शाम तलक और रात भर ये हुआ
सोचकर तुमको ऐ हमदम, रो दिया, रो दिया

मैं भला क्यूं जाउंगा, भीड़ भरी राहों पे
लाशों के जुलूस से मैं, डर गया, डर गया

बस्तियों से अब उजड़के आ गया तन्हाई में
इश्क के इस आशियां में, रह गया, रह गया

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – अंधेरी रात में तुम कभी ठोकर न खाओ

love shayari hindi shayari

सफर कट जाएंगे, बिछड़ के मर जाएंगे
तेरे बारे में लेकिन गजल कह जाएंगे

अंधेरी रात में तुम कभी ठोकर न खाओ
जहां पे तुम रहोगे, वहीं जल जाएंगे

न जुड़ पाया है हमसे ये टूटा आशियां भी
तेरे बिन ये हुनर हम कहां से पाएंगे

चले आए हैं लिखने इश्क की दास्तां हम
किताबों में ही हम-तुम संग रह जाएंगे

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – ऐ हुस्न तेरे दर्द में क्या-क्या न किए

love shayari hindi shayari

न बस्ती के रहे, न ही तेरे आशियां के रहे
हुस्न तेरे इश्क में हम अब कहीं के न रहे

कुछ रूह में जलता है, दिल में सुलगता है
बन सके न माहताब तो हम चिराग ही रहे

कितनी तमन्नाएं थीं मेरे ख्वाबों के दामन में
फुरकत के सिवा और कुछ न आखिर में रहे

ऐ रात न छीन मुझसे उनके दर्द के तोहफे
सब कुछ तो खो चुके हैं, चंद आंसू तो रहे

माहताब- चांद
फुरकत- जुदाई

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – तेरी जुल्फों में सजा गुलाब यही कहता है

love shayari hindi shayari


मेरी नम आंख से रोशन सा धुआं उठता है
सीने में कहीं मेरे गम का दीया जलता है

सामने आते हो पर पलकें उठाते हो नहीं
तेरी इस हया से मेरा दर्द जनम लेता है

ये आवाज मेरी दीवारों से टकराती रही
गम मेरा तन्हा ही आशियां में रह जाता है

मैं फूल हूं कोई अंधेरों में खिला हुआ
तेरी जुल्फों में सजा गुलाब यही कहता है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दीदार को प्यासी रही मेरी दो अंखियां

love shayari hindi shayari

दीवारों से घिरा है दिलबर का आशियां
दीदार को प्यासी रही मेरी दो अंखियां

किस अंजुमन में आके बुलबुल तू कैद है
इस बाग में सैयाद की है बेरहम दुनिया

रिश्तों के बंधन ने पहरे लगा दिए हैं
घुट-घुट के काटती हो यौवन की घड़ियां

ये कैसे हालात हैं तेरे गुलशन में ऐ खुदा
भंवरे को मिलती है यहां टूटी हुई कलियां

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तेरे पास आशिक के लिए कुछ नहीं बचता है

love shayari hindi shayari

सारी दुनिया में मेरा नाम जो भी सुनता है
पहले हंसता है फिर दीवाना मुझे कहता है

तुमको फुरसत ना मिली कर्ज को चुकाने से
तेरे पास आशिक के लिए कुछ नहीं बचता है

तोड़ ना पायी तुम पत्थर के इन दीवारों को
दिल तेरा आशियां के कब्र में ही मरता है

रुख हवाओं का जाने कब बदल जाएगा
मौसमे-बेवफाई में दिल का दीया जलता है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – मयक़दे में आके शराबी, बन गया रे बन गया

love shayari hindi shayari

जिसको भी चाहा रे तुमने, खो गया रे खो गया
जिसको भी अपना माना, छल गया रे छल गया

खोजने निकला था मैं एक आशियाँ सुकून का
मयकदे में आके शराबी, बन गया रे बन गया

अब न वो दुनिया रही, अब न वो रिश्ते रहे
अपनी तन्हाई में मुहब्बत मिल गया रे मिल गया

ये दरो-दीवार मुझको कैद ना रख पाएगी
रूह तो पंछी है कोई, उड़ गया रे उड़ गया

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – अब तो करीब आओ कि मुद्दतें हुए मिले

love shayari hindi shayari

तन्हाई की फिजा में आशियां की जिंदगी
दुनिया की जिंदगी से परेशां है जिंदगी

मुरझाया हुआ फूल है अब बुझा-बुझा
उजड़े हुए गुलशन में कांटा है जिंदगी

आखिर दिलों के दरम्यां होते हैं फासले
जहां दर्द ही दवा है और जहर है जिंदगी

अब तो करीब आओ कि मुद्दतें हुए मिले
जब तक तू मेरे पास है, दिलबर है जिंदगी

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – मेरी उदासियाँ भी सुनाएगी दास्ताँ

prevnext

महसूस करेगा वो मेरे दर्द की जुबाँ
मेरी उदासियाँ भी सुनाएगी दास्ताँ

पतझड़ की बारिशों में वो भीग गया है
अब धूप के लिए जलाएगा आशियाँ

लाएगा रंग इश्क ये उसमें इस तरह
अपनी चिता के वास्ते खोजेगा लकड़ियाँ

अपने ही लहू से लिखेगा मेरा नाम
अपने ही खंजर से तराशेगा ऊंगलियाँ

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – उन शाखों पे दिल ने आशियां बनाया

prevnext

ना होठ खुलते हैं, ना जाम मिलते हैं
इश्क के मयखाने में यही दास्तान मिलते हैं

उन शाखों पे दिल ने आशियां बनाया
जिनपे तिनकों के न कोई मकाँ मिलते हैं

मैं चल पड़ा हूं पगडंडियों पे अकेले
जहाँ ये जमीं न आसमान मिलते हैं

इस शहर में दिल का जीना बड़ा मुश्किल
यहाँ जख्म देनेवाले सरेआम मिलते हैं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दिल जैसा नशेमन था, टूटकर बिखर गया

love shyari next

तिनको का आशियां था, पल में उजड़ गया
दिल जैसा नशेमन था, टूटकर बिखर गया

ये फूल सुनाते हैं लोगों के जुल्म को
जो जिंदगी न दे सके, वह मौत दे गया

अब जाके कहां ढूंढे ऐ पेड़ तेरे छांव
तुझे काटकर यह बेरहम मकान बन गया

हम मांगकर पी लेते थे जिनके यहां शराब
वो मुझसे बिना पूछे मेरा खून पी गया

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari