Tag Archives: आहें शायरी

शायरी – जो सजा देती हैं, वो यादें ले जाओ

love shayari hindi shayari

इल्तजा है मेरी, तुम ये आहें ले जाओ
जो सजा देती हैं, वो यादें ले जाओ

मेंहदी रचाना है तुझे अपने बदन पर
आकर मेरे जिगर का खून ले जाओ

ये चिट्ठी, तस्वीरें और इश्क की सौगातें
तुम सब दिखावे का सामान ले जाओ

माफ किया तुमको मेरी नादां वफा ने
तुम खुश रहो बस ये दुआ ले जाओ

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी – हमसे भी क्यूं रोज तुम आंखें चुराया करते हो

love shayari hindi shayari

सारी दुनिया से तो तुम खुद को किनारा करते हो
हमसे भी क्यूं रोज तुम आंखें चुराया करते हो

धोखा है हर शाम को सूरज का डूब जाना भी
ये कहकर तुम चांद पे ऊंगली उठाया करते हो

जंगल को भी हिला गया आंधियों का काफिला
कैसे तुम अपनी आहें सीने में छुपाया करते हो

फिर तुम रात की साज पे गाने लगे अपनी गजल
जब शहर सोता है तो तुम दीप जलाया करते हो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दर्द टूटा है बड़ी जोर से आहें भरके

love shayari hindi shayari

दर्द टूटा है बड़ी जोर से आहें भरके
आह निकली है बड़ी देर से सजदा करके

दीद तेरी ही हुई थी, हिज्र तुमसे ही मिले
इश्क तो रह गया है मौत का नगमा बनके

शमा, मेरे हाल पे मेरे तू नाराज न हो
तू देख खामोशी से एक परवाना जलते

मौत जब आ ही गई तो गिला क्या करें
जिंदा रहते तो तेरे गम को सदमा कहते

सजदा- इबादत, सिर झुकाना
दीद- दर्शन, to see
हिज्र- जुदाई

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – बरस रहे हैं इश्क के बादल

new prev new shayari pic

दिल से जो निकलती हैं आहें
तुमको ही देती हैं रोज सदाएं

बरस रहे हैं इश्क के बादल
आओ हमदोनों इसमें नहाएं

उतना ही क्यों दूर जाती हो
हम तुम्हारे जितने पास आएं

तन्हा सफर को मंजिल मिले
कभी तो पूरी हो ऐसी दुआएं

©rajeevsingh             शायरी

prev shayari green next shayari green