Tag Archives: ऐतराज शायरी

शायरी – जिसमें दर्द होता है, वो सच्चा प्यार करते हैं

prevnext

तन्हाइयों के गम आँखो से बहे जाते हैं
कुछ बात है दर्द में जो यूँ जीए जाते हैं
बहुत है तमन्ना कि एक मुस्कान चेहरे पे खिले
मगर तेरी उम्मीद में हम उदास हुए जाते हैं

सबको ऐतराज है दुनिया में मेरी फितरत पे
कि क्यूँ मैं तुमपे ये जाँनिसार करता हूँ
लोग कहते हैं कि सैकड़ों परियाँ हैं यहाँ
फिर जुदा होके क्यूँ तेरा इंतजार करता हूँ

दुनिया ये नहीं जानती कि जिनको दर्द होता है
वो जिस्म से नहीं, दिल से प्यार करते हैँ
और ऐसा दिल लाखों में किसी एक में रहता है
जिसमें दर्द होता है, वो सच्चा प्यार करते हैं

©RajeevSingh #love shayari

Advertisements

शायरी – अगर रूलाता हो दिल तो किसे सुकून मिले

prevnext

तू याद आए अगर तो किसे सुकून मिले
अगर रूलाता हो दिल तो किसे सुकून मिले

मुझे यकीन है कि मैं कभी न बोलूँगा
जुबाँ पे बात हो अटकी तो किसे सुकून मिले

तुम ऐतराज करोगे यही डर है मुझको
ये डर एक रोग बन जाए तो किसे सुकून मिले

दिल शायर की तरह है, इश्क है दर्द जैसा
फिर जवानी जो सताए तो किसे सुकून मिले

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तुम मेरे दिल में आ चुके, हम तेरे दिल से जा चुके

love shyari next

हम कितनी दूर आ चुके, तुम कितनी दूर जा चुके
तुम मेरे दिल में आ चुके, हम तेरे दिल से जा चुके

अब गैर कोई छू ले तुझे तो मुझे ऐतराज नहीं
तेरे इश्क में हम जिस्म की जरूरत को गंवा चुके

इस चांद को तुमसा कहूं तो बुरा लगेगा खुद मुझको
जबसे हमें तुम छोड़ गए, ये चिराग हम बुझा चुके

उसे कौन सा सफर कहूं जिसे हो नसीब न हमसफर
इस जिंदगी की राह को हम दर्द में डुबा चुके

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari