Tag Archives: करीब शायरी

शायरी – तेरे दर्द पे जिसे रोते देखा

love shyari next

तब तेरा गम नसीब होता है
जब तू दिल के करीब होता है

तेरे दर्द पे जिसे रोते देखा
उसका मरना अजीब होता है

तेरी चारागिरी की राह तकता
वो इश्क का मरीज होता है

जिसके अंदर जुनूं है दुनिया में
उसके खातिर सलीब होता है

चारागिरी- इलाज

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दिलकश निगाहों से जरा बचकर दिखा दो तुम

love shayari hindi shayari

मेरी दिलकश निगाहों से जरा बचकर दिखा दो तुम
तुझे गर इश्क है हमसे, करीब आकर दिखा दो तुम

तेरे बाजू की ताकत में हमें इतना यकीं तो हो
कभी पहलू में हमको भी जरा भरकर दिखा दो तुम

मैं कितना सोचती हूं कि कभी दो बात तुमसे हो
तुझे क्या फिक्र है ये ही फकत कहकर दिखा दो तुम

कई उलझन हैं जीवन के जो हमसे ना सुलझ पाए
मेरे दिल की ये मजबूरी करीब आकर मिटा दो तुम

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – मैं आईना बनके उसका इंतजार करता हूं

love shayari hindi shayari

सबको इतना मैं दिल के करीब लगता हूं
इसलिए दुनिया को थोड़ा अजीब लगता हूं

आंधियां चलती हैं इश्क के जंगल में
मैं नशेमन की तरह गिरके टूट जाता हूं

हर घड़ी मुद्दत बढ़ती रही जुदाई की
धड़कनों को खामोश रहके मैं गिनता हूं

अभी सिला न मिला है मुझे पत्थर से
मैं आईना बनके उसका इंतजार करता हूं

(नशेमन- घोंसला)

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जाने कैसा जादू किया है तूने मुझपे ओ कातिल

prevnext

प्यार की कोई हद समझना, मेरे बस की बात नहीं
दिल की बातों को न करना, मेरे बस की बात नहीं

कुछ तो बात है तुझमें तब तो दिल ये तुमपे मरता है
वरना यूँ ही जान गँवाना, मेरे बस की बात नहीं

जाने कैसा जादू किया है तूने मुझपे ओ कातिल
खंजर को सीने से हटाना, मेरे बस की बात नहीं

जब तक ये यकीं न हो कि मुझे सीने से लगाओगे
तब तक तेरे करीब जाना, मेरे बस की बात नहीं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – इश्क में दो कदम भी बढ़ाना है मुश्किल

new prev new shayari pic

तेरे दिल तक ये बात ले जाना है मुश्किल
इश्क में दो कदम भी बढ़ाना है मुश्किल

आंख लड़े तो क्या, होठ हिले भी तो क्या
हाले दिल करीब आके बताना है मुश्किल

शहर की राहों में रोज मिल जाते हो तुम
तुमको किसी इशारे से बुलाना है मुश्किल

सोचता हूं बता दूं मगर अंजाम से डरता हूं
कशमकश से दिल का निकलना है मुश्किल

©rajeevsingh              shayari

prev shayari green next shayari green

i will love you forever shayari

red pre red nex

तन्हाई से निकलने की आदत नहीं रही
अब तेरी भी कोई जरूरत नहीं रही
लेकिन अगर तू कल करीब आ जाए
तो ये न कहूंगा कि मुहब्बत नहीं रही

Tanhayi Se Nikalne Ki Aadat Nahi Rahi
Ab Teri Bhi Koyi Jarurat Nahi Rahi
Lekin Agar Tu Kal Kareeb Aa Jaye
To Ye Na Kahunga Ki Mohabbat Nahi Rahi

©rajeev singh shayari