Tag Archives: कातिल शायरी

गम के तूफानों में डूबा, इश्क का है साहिल कहां

shayari latest shayari new

दिलरुबा शायरी इमेज

गम के तूफानों में डूबा, इश्क का है साहिल कहां
वो तो है सागर सा गहरा, मैं उसके काबिल कहां

खेलता रहता हूं अक्सर ख्वाहिश के खिलौनों से
टूटता है जब खिलौना, जोड़ना फिर हासिल कहां

अपना दर्द किससे कहे वो, बहुत परेशां रहता है
शहर की भीड़ में सुननेवाला वैसा कोई दिल कहां

दुनिया में थोड़ा मर जाऊं, थोड़ी सांसे चलती रहे
मौत भी दे जो आधी अधूरी, है ऐसा कातिल कहां

@rajeevsingh                         शायरी

shayari green pre shayari green next

Save

Advertisements

शायरी – मुमकिन है वो साथ न आए

new prev new next

मुमकिन है वो साथ न आए
हाथ में उसका हाथ न आए

अब मुझको तुम भूल ही जाओ
उनके लबों पे ये बात न आए

तेरे बिना जो कट मरती हो
ऐसी कातिल ये रात न आए

प्यास बहुत है दिल में बाकी
दो दिन की बरसात न आए

©राजीव सिंह शायरी

शायरी – कातिल से मोहब्बत कर बैठे

love shayari hindi shayari

खुद ही से अदावत कर बैठे
कातिल से मोहब्बत कर बैठे

वही अपना न रहा इस शहर में
जिनके लिए हम सबसे लड़ बैठे

उनके चर्चे जब हरसू होने लगे
सारे इल्जाम मेरे सर वो धर बैठे

खोजें जीने का कोई और ठिकाना
मिलने लगे हैं ताने अब घर बैठे

अदावत –  दुश्मनी
हरसू – हर तरफ

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दर्द रहता है जिस दिल में

#100 लव शायरी

ये जुदाई सदाएं देती हैं

मेरे आंसू दुआएं देती हैं

सदाएं- पुकार

वो हमपे सितम ढाती हैं

हम उनकी बलाएं लेते हैं

  Continue reading शायरी – दर्द रहता है जिस दिल में

शायरी – आप जब तक मेरे कातिल हैं

love shayari hindi shayari

कोई बंदा गुनाह कर जाए
हमको कोई तबाह कर जाए

कश्तियां रेगिस्तां में तरसती हैं
कोई सागर आके भर जाए

जो खुदा बनके मुझमें बसते हैं
मेरी गलियों से वो गुजर जाए

आप जब तक मेरे कातिल हैं
हर गवाही से हम मुकर जाएं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तेरे इक नजर से हाय मैं बर्बाद हो गई

new prev new shayari pic

तू किस शहर से आया है ऐ दिल के बादशाह
अरमानों को जगाया है ऐ दिल के बादशाह

तेरे इक नजर से हाय मैं बर्बाद हो गई
मुझे इश्क में फना किया ऐ दिल के बादशाह

अब और न तड़पा मुझे ऐ मेरे कातिल
मर जाऊंगी मैं तेरे बिन ऐ दिल के बादशाह

ये महल लग रहा है मुझे सोने का पिंजरा
मेरे रूह को आजाद कर ऐ दिल के बादशाह

©राजीव सिंह शायरी

शायरी – पल दो पल ये साथ हमारा, एक मुसाफिर एक हसीना

love shayari hindi shayari

पागल-पागल सब कहते हैं, दीवाने तुम कहते हो
मुझपे सबने पत्थर फेंका, फूलें तुम बरसाते हो

पल दो पल ये साथ हमारा, एक मुसाफिर एक हसीना
आवारों की गर्दिश में तुम हुस्न की शमा जलाते हो

ये दुनिया मेरी कातिल है, तूने जान बचायी मेरी
मुज़रिम तेरे पीछे पड़े हैं, उनसे तुम टकराते हो

तुमने सागर को देखा है, हमने बस तुमको देखा
ठहरे अश्क में डूबी निगाहें, गहरे दर्द में जीते हो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – हो सकता है तेरे दिल में मेरे खातिर जगह न हो

love shyari next

हो सकता है तेरे दिल में मेरे खातिर जगह न हो
हो सकता है इसके पीछे, किसी तरह की वजह न हो

लो गुनाह कुबूल किया, फिर आशिक कहता है कि
दुनिया तेरी कचहरी में मेरे इश्क पे जिरह न हो

रात में शाम का बादल ही चांद का कातिल बनता है
सोचता हूं कि तेरे बिन अब इन रातों की सुबह न हो

तू है गैर के घर में और मैं हो गया जग से पराया
इश्क की दुनिया में किसी का अंजाम मेरी तरह न हो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari