Tag Archives: किनारा शायरी

शायरी – किसके सहारे जीना है, तन्हाई ही तमन्ना है

love shayari hindi shayari


किसके सहारे जीना है
तन्हाई ही तमन्ना है

हम इस पार, तुम उस पार
बीच में नदी को बहना है

लम्हा दिन महीना बरस
दुख के किनारे मरना है

आधे-अधूरे जीवन पूरे
तेरे बिन अब रहना है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी- उल्फत में जान निकल जाए

prevnext

गिरके ना ये फिर संभल जाए
उल्फत में जान निकल जाए

रूह का दीपक तो जला
ये जिस्म चाहे पिघल जाए

मर्जी हो तेरी तो आ जाओ
मेरा आशियां ये बदल जाए

कश्ती समंदर में कैसे रूके
किनारे से जो फिसल जाए

©RajeevSingh

शायरी – जुल्म करती है जब मुझपे तन्हाई

love shyari next

बेवफा हो गया है दर्द मुझी से
दूर का रिश्ता हो गया खुशी से

एक बादल का टुकड़ा उड़ता था
हमने बरसते देखा उसे बेबसी से

कोई कश्ती जब किनारे लगती है
वो ठहरती है कितनी खामोशी से

जुल्म करती है जब मुझपे तन्हाई
कत्ल करता हूं अपनी बेखुदी से

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – अजी हम मर गये थे आपके इशारे पे

love shayari hindi shayari

नजर में डूबके न आ सके किनारे पे
अजी हम मर गये थे आपके इशारे पे

गुजरती रात के आलम में चैन हो कैसे
निगाहें हैं टिकी उस चांद के नजारे पे

कहीं पे सब्र का पानी मिले तो मैं पी लूं
भटक रहा हूं मैं हर एक के चौबारे पे

मुझे भी दफ्न करो अपने दिल की तरह
कि रूह जीता रहे तेरे दर्द के सहारे पे

©RajeevSingh #love shayari

 

शायरी – आप मिलती तो मैं खुद से ना जुदा होता

love shayari hindi shayari


आपने अपना नामो-निशां छोड़ा होता
तो मेरे खत का लिफाफा नहीं कोरा होता

ये हकीकत है कि आप सा कोई ना मिला
आप मिलती तो मैं खुद से ना जुदा होता

मुझे पता है मेरी रूह में बस आप ही हैं
काश! आपकी रूह में मेरा भी पता होता

बह रही है जमीं पे चांदनी की नदी
तैरते साये का कोई तो किनारा होता


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – हमसे भी क्यूं रोज तुम आंखें चुराया करते हो

love shayari hindi shayari

सारी दुनिया से तो तुम खुद को किनारा करते हो
हमसे भी क्यूं रोज तुम आंखें चुराया करते हो

धोखा है हर शाम को सूरज का डूब जाना भी
ये कहकर तुम चांद पे ऊंगली उठाया करते हो

जंगल को भी हिला गया आंधियों का काफिला
कैसे तुम अपनी आहें सीने में छुपाया करते हो

फिर तुम रात की साज पे गाने लगे अपनी गजल
जब शहर सोता है तो तुम दीप जलाया करते हो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जो भी दुनिया में मुहब्बत पे जाँनिसार करे

prevnext

जो भी दुनिया में मुहब्बत पे जाँनिसार करे
ऐसे दीवाने से आखिर क्यूँ कोई प्यार करे

रेत प्यासा सा तड़पता है हर साहिल पे
कितनी सदियों से वो लहरों का इंतजार करे

बाँटते रहते हैं वफा वो कई किश्तों में
बेवफाई का यहाँ जो भी कारोबार करे

चाहता हूँ, तेरे दामन का किनारा तो मिले
दिल भी आख़िर ये फरियाद कितनी बार करे

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – मेरी मुंतज़िर निग़ाहों को हुस्न का रूप मिला

prevnext

जख़्म दर जख़्म हम पाते गए कुछ न कुछ
हर दर्द हर गम पे गाते गए कुछ न कुछ
जो मुझे एक पल की खुशी दे न सके
वो हर पल सितम ढ़ाते गए कुछ न कुछ

हर मंजिल पे एक किनारा दिखता था मगर
उसके बाद एक रोता समंदर भी रहता था
हम नहीं गए उस किनारे पे दिल के लिए
जहाँ आँसू न थे पहले से कुछ न कुछ

मेरी मुंतज़िर निग़ाहों को हुस्न का रूप मिला
मेरे बेकरार रूह को दर्द का धूप मिला
चाँद तो बस दूर से ही नूर को बिखराती रही
मगर देती रही बुझते चिराग को कुछ न कुछ

हमें अफसोस नहीं कि तुझे देखा नहीं जी भर के
तेरी तस्वीर तो तेरे आने से पहले सीने में थी
तू आके बस दरस दिखा के गुजर गई
अब उम्रभर तेरे बारे सोचना है कुछ न कुछ

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – वरना किनारों से ही दिल लगाते रहे हैं हम

love shyari next

देखें कि जमाने में क्या गुल खिलाते हैं हम
अब तक तो दर्द को ही उगाते रहे हैं हम

कश्ती के मरासिम से दरिया में आ गए
वरना किनारों से ही दिल लगाते रहे हैं हम

मुहब्बत की आग में जो जलके खाक हो चुके
उनमें भी कुछ धुएं को जगाते रहे हैं हम

नहीं जानता बेवफाओं से क्या रिश्ता हमारा
अब तक तो उनसे फासले बनाते रहे हैं हम

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

prev shayari next shayari

शायरी – मैं तो प्यासा हूं आखिर में वहीं जाऊंगा

love shyari next

बुझ रहे हैं अब आस्मां के सारे तारे
चांद जीता है अकेला जिनके सहारे

मैं तो प्यासा हूं आखिर में वहीं जाऊंगा
जहां खो जाते हैं पानी के सारे किनारे

कोई बतला दे कि मेरा गम जो खंजर है
क्यों लगते हैं मेरे दिल को इतने प्यारे

हर किसी आंख में बस मैं इतना खोजूं
कहीं दिख जा रे ओ दर्द के आंसू खारे

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari