Tag Archives: कोरा कागज

शायरी – बह गए आंसू कतरा-कतरा

love shayari hindi shayari


खत का ये छोटा सा टुकड़ा
लाया है महबूब का दुखड़ा

सहमी-सहमी उंगलियों से
बह गए आंसू कतरा-कतरा

लिखा तो बहुत कुछ उसने
लेकिन हर्फ है बिखरा-बिखरा

कोरा कागज, कितनी बातें
बहता सागर, प्यासा गहरा


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी – इश्क का अच्छा इम्तहान रहा

love shayari hindi shayari


रातभर रास्ता सुनसान रहा
पर तेरे आने का इम्कान रहा

कोरा कागज ही जमा कर आया
इश्क का अच्छा इम्तहान रहा

छीनने वालों को ही छोड़ दिया
आशिकों पर ये इल्जाम रहा

मैं तो जीता रहा गुनाहों में
तेरी कैद पाने का अरमान रहा


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दो बरस की बात थी, गुमनाम सी मुलाकात थी

new prev new next

इक अजनबी मोड़ पे,  इश्क के जोर पे
कुछ देखा न सुना, मैंने तुमको था चुना

दो बरस की बात थी, गुमनाम सी मुलाकात थी
वो मोड़ है आज भी, इश्क का जोर आज भी

मैं उस मोड़ पे रुका, जाने क्या दिल में उठा
कुछ देखा न सुना, एक नज्म मैंने बुना

कोरे कागज पे लिखा, हमने तेरी हर अदा
बस यही काम है, शायरी मेरी पहचान है

तू शायरी की जान है, बस तेरा ही नाम है
और क्या कहूं, यही मेरा आखिरी अंजाम है

©RajeevSingh