Tag Archives: खामोश शायरी

शायरी – चिरागों को बुझाकर तुम भी रोती तो होगी

love shayari hindi shayari

ये दर्द अपने दिल में तुम रखती तो होगी
चिरागों को बुझाकर तुम भी रोती तो होगी

हम यूं रहे खामोश कि तुझे कह न सके
ये आस थी फक़त तुम आवाज तो दोगी

यूं ही नहीं देखा था तूने मुझे पलकें झुकाए
कहीं न कहीं दिल में कुछ हालात तो होगी

तेरे खयालों में जीते हैं हम ये सोचकर
कुछ न सही पर दर्द की बरसात तो होगी

©RajeevSingh #love shayari

 

Advertisements

शायरी – कोई खामोश मुहब्बत से पुकारे दिल को

prevnext

कोई खामोश मुहब्बत से पुकारे दिल को
अपनी सूरत को ख्वाब में दिखाए दिल को

वो उदासी का नगमा है, गज़ल के जैसी
इश्क के साज़ पे ये दर्द सुनाए दिल को

उसकी यादों से ख़यालें भी जवाँ होते हैं
इस जवानी का अहसास दिलाए दिल को

कब मिलेगी वो दुनिया में, किन गलियों में
कोई एक राह कभी वो बताए दिल को

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दर्द बेजुबां हो तो दिल क्या कहे

love shayari hindi shayari

दर्द बेजुबां हो तो ये दिल क्या कहे
आह खामोश हो तो ये लब क्या कहे

आरजू का हर एक अश्क आंखों में था
उसने देखा नहीं तो पलक क्या कहे

चाहतें मंद हैं बुझती लौ की तरह
रोशनी ही नहीं तो दीपक क्या कहे

कोई नहीं यहां अपना मेहरबां सा कोई
तन्हाई में अब मुझसे शब क्या कहे

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – कभी रोए तेरे खातिर, कभी चुप हुए तेरे खातिर

prevnext

कभी रोए तेरे खातिर, चुप हुए तेरे खातिर
कभी जलते तो कभी बुझते रहे तेरे खातिर

खर्च होने न दिया हंसी को अपने होठों से
अपनी खामोशी में सहेजते रहे तेरे खातिर

मेरी मंजिल वहीं है जहां पर तुम ठहरी हो
हर कदम पे हम मुंतजिर रहे तेरे खातिर

हो गया हूं मैं अजनबी सा खुद अपने लिए
खो गया हूं न जाने कहां पर तेरे खातिर

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari