Tag Archives: गुलशन शायरी

किसी से दिलबर का रिश्ता जोड़ने के लिए

shayari latest shayari new

जिस हसीं गुलाब से गुलशन में प्यार किया
तुमने उसी नाजुक बेजुबान पर वार किया

किसी से दिलबर का रिश्ता जोड़ने के लिए
उसे टूटा हुआ गुलाब देकर इजहार किया

कैसा प्यार है जो फूल की जिंदगी छीनता है
दुनिया में क्यों सबने बेरहम कारोबार किया

मुरझा गया एक दिन तो फेंक दिया उसको
फूल पर सितम जमाने ने कितनी बार किया

©rajeevsingh           शायरी

shayari green pre shayari green next

 

Advertisements

शायरी – एक नदी की चाहत तो उस रेगिस्तां को भी है

love shayari hindi shayari

समंदर से प्यार करना कोई नदी छोड़ पाती नहीं
रेगिस्तां की तरफ भूलकर भी कभी वो जाती नहीं

एक नदी की चाहत तो उस रेगिस्तां को भी है
मगर प्यासे की प्यास कोई भी बुझाती नहीं

जहां कांटें ही हैं, फूलों का खिलना मयस्सर नहीं
वहां रेतों को सींच, कोई गुलशन बसाती नहीं

जिधर पानी अथाह, उसी के दामन को थामेगी नदी
इधर पानी नहीं, ये कमी तो कभी भर पाती नहीं

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – फिर भी तुम पास हो, ये कैसी जुदाई है

love shayari hindi shayari

मेरी बर्बादी किस हद पे उतर आई है
बेरहम याद है और रात ये हरजाई है

आग इक हमने इस सीने में सुलगाई है
दूसरी आग भी जमाने ने अब लगाई है

कई बरसों से हम तुमसे मिले ही नहीं
फिर भी तुम पास हो, ये कैसी जुदाई है

हमने उसको ही नजाकत से अपनाया है
वो कली जो किसी गुलशन में मुरझाई है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – प्यार के अहसास पर मर मिटा है दिल

love shyari next

सफर वहीं तक है जहां तक तुम हो
नजर वहीं तक है जहां तक तुम हो

हजारों फूल देखे इस गुलशन में मगर
खुशबू वहीं तक है जहां तक तुम हो

चांद और सूरज भी आके यही कहते हैं
रोशनी वहीं तक है जहां तक तुम हो

प्यार के अहसास पर मर मिटा है दिल
जिंदगी वहीं तक है जहां तक तुम हो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – है इश्क एक गुनाह तो ये गुनाह कर लिया

love shayari hindi shayari

है इश्क एक गुनाह तो ये गुनाह कर लिया
तेरे दर्द से इस दिल को तबाह कर लिया

गम बहुत हैं जिंदगी में इसलिए जानेमन
खामोशी से ही प्यार बेपनाह कर लिया

मेरी नजर में हर जगह तुम ही बसी हो
जर्रे-जर्रे को इस मंजर का गवाह कर लिया

गुलाब के कांटों से भी रिश्ता रहा अपना
गुलशन में रहके सबसे यूं निबाह कर लिया

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – फूल बनकर तू खिलेगी जिस गुलशन में

love shayari hindi shayari

जीते जी मेरे आशियाने में कमी क्या होगी
बस तू नहीं आएगी, और कमी क्या होगी

फूल बनकर तू खिलेगी जिस गुलशन में
उस चमन में कांटों की कमी क्या होगी

ऐ सनम तू भी तो पत्थर दिल निकली
मेरे आंसुओं से भी तुझमें नमी क्या होगी

किसी को कभी एक बार इश्क जो होगा
फिर जिंदगीभर जख्मों की कमी क्या होगी

©RajeevSingh # love shayari

 

शायरी – हर आदमी में वफा हो ऐसा हो नहीं सकता

love shayari hindi shayari

हर आदमी में वफा हो ऐसा हो नहीं सकता
गुलशन का हरेक फूल खुशबू दे नहीं सकता

तुम मुझसे मुखातिब हो ऐसे क्यूं देखते हो
क्या मेरे सिवा तुमको कुछ और नहीं दिखता

मेरा दर्दो-बयां सुनकर ऐसे वो हंस पड़े
जैसे रोने का उन्हें कभी मौका नहीं मिलता

सब साथ चल पड़े थे मगर राह तो कई थे
हर मोड़ पे बिछड़ा हुआ फिर साथ नहीं चलता

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – कागज पे लिखी बातें भी दिल तोड़ देती हैं

love shayari hindi shayari

बंद कर दूं ये दरवाजे, लगा दूं ये खिड़कियां
फुरसत है, उन्हें यादकर ले लूं मैं हिचकियां

हमने बनाए जाने कितने सपनों के महल
हिज्र के तूफान ने उजाड़ दी है बस्तियां

कागज पे लिखी बातें भी दिल तोड़ देती हैं
उनकी खतें पढ़के निकलती है सिसकियां

तेरी यादों के गुलशन में बैठा मैं कई पहर
आंखों से उड़ती रही अश्कों की तितलियां

हिज्र- जुदाई
अश्क- आंसू

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – प्यासे ही रह गए यहां दिलरूबाओं के सनम

love shayari hindi shayari

भूले नहीं है दर्द को हमसाया समझ के हम
जाएंगे हम जहां-जहां वहां चलेंगे दर्दो-गम

कितनी उदास सी फिजा, कितना वीरान आस्मा
गुलशन में चारों ओर है रोता हुआ मेरा चमन

दुनिया के रेगिस्तान से कोई उम्मीद क्या करें
प्यासे ही रह गए यहां दिलरूबाओं के सनम

दो बरस का हादसा उम्रभर होता रहा
घायल सी तन्हाइयों में अब चोट खा रहे हैं हम

शायरी – देखता हूं मैं हर जगह पे बरसते आंसू

love shayari hindi shayari

अपने हाथों से पोछेंगे हम अपने आंसू
जाने कैसे ये रूकेंगे मेरे बहते आंसू

कितना सुन्दर सा लगता है मेरा गुलशन
जब हरेक डाल पे हैं फूल से खिलते आंसू

मेरा जमीं आस्मा तो अब एक हुआ
देखता हूं मैं हर जगह पे बरसते आंसू

मशविरा मत दो मुझको मुस्कुराने की
तुम नहीं जानते मेरे पास हैं हंसते आंसू

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – वफा का आईना जब तेरी नजर से गुजरा

love shayari hindi shayari


इश्क की आबरू हमने बचा लिया अक्सर
चिरागे-दिल से मुकद्दर जला लिया अक्सर

कौन चाहेगा कि खुद मौत को पीते जाएं
दर्द ने सबको शराबी बना दिया अक्सर

वफा का आईना जब तेरी नजर से गुजरा
तूने अपना हसीं चेहरा छुपा लिया अक्सर

करीब रहते हैं जो रातभर इस कलेजे में
चांद वो दिन में हमने बुझा दिया अक्सर

फूल जितने भी मायूस होके टूट चुके थे
उनसे अपना गुलशन सजा लिया अक्सर

गुनाह मैं पूरी तसल्ली से किया करता हूं
तेरा खंजर इस सीने पे चला लिया अक्सर


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – वो इश्क क्या करे जो रस्मों को निभाते हैं

love shayari hindi shayari

दुनिया के पत्थरों का ऐतबार न करो
आईने के टूटने का इंतजार न करो

वो इश्क क्या करे जो रस्मों को निभाते हैं
उस बेवफा का तूम भी दरकार न करो

जो फूल मुरझा गए दुनिया के गुलशन में
बेदर्द निगाह से उसका दीदार न करो

हौसला रख जीने का ऐ मेरे गमे-दिल
तुम यूं मौत की तमन्ना सौ बार न करो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जिसने न कभी इश्क का है लुत्फ उठाया

love shayari hindi shayari

नाजुक से कई राज गजलों में लिखते हैं
नादान सी ये बातें दिल को छू लेते हैं

हंसते हैं कई फूल गुलशन में जवां होके
दुनिया की उंगलियों में वो टूट कर रोते हैं

जिसने न कभी इश्क का है लुत्फ उठाया
वो रात को बिस्तर में आराम से सोते हैं

आसान नहीं है मगर हमने ये किया है
आशिक के जनाजे को कांधे पे ढ़ोते हैं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari