Tag Archives: जनम शायरी

शायरी – तेरे आने से मैं अपना चमन भूल गई

love shayari hindi shayari

तेरे आने से मैं अपना चमन भूल गई
जो निभाना था घर से, वो वचन भूल गई

सात जनमों की भला कौन खबर रखे
तेरी दहलीज पे जब मैं ये जनम भूल गई

क्या जमाना भी करेगा हमसे शिकवा
जब जमाने के कीए सारे सितम भूल गई

दीवानी होकर तेरे पास चली आई हूं
तुमको देखा तो दिल की लगन भूल गई

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी – ओ मुझे तन्हा छोड़ के जाने वाले, आखिरी दास्तां सुनते जाओ

love shayari hindi shayari

ओ तन्हा छोड़ के जाने वाले आखिरी दास्तां सुनते जाओ
तू खुदा तो नहीं था मगर उम्र गुजरी तेरी इबादत करते

इस दिल को समझाऊंगी कि तुमको याद न किया करे कभी
ऐ दिल, फूल गले ना लगाए तो कांटों को नहीं चूमा करते

आजकल में कहीं मिल जाओ तो तुम बस इतना ही करते
मेरी टूटी-उलझी राहों को सीधा कर गांठ लगाया करते

अगर सौ बार जनम लूं धरती पे बस यही ख्वाहिश है मेरी
काश! हर जनम में तुम ही मेरी मैयत को जरा कांधा देते

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – आप क्यों इस प्यार को कहती हैं पहला-पहला

love shayari hindi shayari

उदास रात का मंजर है कितना धुंधला-धुंधला
देखिए इश्क का मौसम है कुछ बदला-बदला

मायूस अंधेरे के साये में जी रहा हूं तन्हा
जाने कब चांद दिखेगा मुझे उजला-उजला

इस जमाने के गुलशन को गौर से देखा
मुझे हर फूल मिला घर में मसला-मसला

हम तो कहते हैं आपसे है जनम का रिश्ता
आप क्यों इस प्यार को कहती हैं पहला-पहला

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दर्दे जुदाई हम सह न सके

 

new prevnew shayari pic

दर्दे-जुदाई हम सह न सके
तेरे बिना हम रह न सके

किस्मत में था इस जनम में
जीकर भी जिंदा रह न सके

कोशिश की तुझे भूलने की
याद किए बिना रह न सके

अपनी खबर न जमाने की
पर तुमसे बेखबर रह न सके

©RajeevSingh

prev shayari greennext shayari green