Tag Archives: जिंदगी शायरी

shayari – अपनी आंखों में कुछ सपने सजाए थे

shayari latest shayari new

तुम जिंदगी में शायरी इमेज

अपनी आंखों में कुछ सपने सजाए थे
इस छोटे दिल में चंद अरमां बसाए थे

ना थी खबर कुछ हमें कि इस तरह से
बिखर जाएंगे वो जो आशियां बनाए थे

काश हम खुद को रोक लेते उसी पल
जिस वक्त तुम जिंदगी में चले आए थे

वो समझेगा कभी मेरे दिल की आरजू
इसी उम्मीद में हमने जीवन बिताए थे

©rajeevsingh                                                 shayari

shayari green pre shayari green next

Advertisements

शायरी – वो सामने बैठी है चाय की दुकान में

new prev new next

हम इधर खड़े हैं किराए के मकान में
वो सामने बैठी है चाय की दुकान में

सोचता हूं कभी उनकी राह रोक लूं
डर है कि पहुंच न जाऊं श्मशान में

इशारा तो करता हूं मगर देखती नहीं
कैसे कहूं कि मिलो बगल के बगान में

कोई नहीं आई है अब तक जिंदगी में
यही दर्द रहता है दिल ए परेशान में

(अपने मुहल्ले में बगान यानि पार्क के बगल में चाय की दुकान से प्रेरित गजल)

©rajeevsingh

शायरी – जिंदगी का बिखर जाना अब आम बात है

love shayari hindi shayari

जिंदगी का बिखर जाना अब आम बात है
किसी मोड़ पर मर जाना अब आम बात है

खुशियों की खोज में लोग निकलते हैं शहर में
वहां से मातम लेकर आना अब आम बात है

तेरी दुनिया में ऐ खुदा अब छोटी सी बात पर
खत लिखके जहर खाना अब आम बात है

प्यार के परिंदे जो कहीं उड़ते हुए दिख जाएं
उनका कत्ल कर जाना अब आम बात है

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – अजनबी तू क्यों दिल के करीब लगता है

love shyari next

जबसे देखा है तुमको, तू ही हबीब लगता है
अजनबी तू क्यों दिल के करीब लगता है

तेरे उदास चेहरे पे ये लबों की मुस्कुराहट
देखती हूं तो ये अहसास अजीब लगता है

मेरे पास आकर तुम दामन जो थाम लो
अब जिंदगी में यही अच्छा नसीब लगता है

तूने मेरी दुआ न सुनी तो मर जाऊंगी
तेरे बिन जीवन अब तो सलीब लगता है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – हम रोये तो ये जमाना समझ में आया

love shyari next

कभी अपनों ने, कभी दूसरों ने रुलाया
हम रोये तो ये जमाना समझ में आया

अपने मतलब के लिए इस्तेमाल करते हैं
कई इंसानों में हमने इस हुनर को पाया

प्यार में डूबी हुई अच्छी अच्छी बातें करके
वो न जाने कितनों का कत्ल कर आया

मगर कुछ लोग यहां ऐसे भी मिल जाते हैं
जिनको दूसरों पर अपनी जान लुटाते पाया

©RajeevSingh # muhabbat shayari

शायरी – तेरे आने के भरम से सांस लेता हूं

love shyari next

ये न पूछो कि मैं कैसे जिए जाता हूं
तेरे आने के भरम से सांस लेता हूं

तेरी उम्मीद अब नशा बन गई साकी
इश्क के मैखाने में सुबहो शाम पीता हूं

देखकर मेरी तरफ जमाना अब हंसता है
और एक मैं तेरी तस्वीर देख रोता हूं

कहां फिसलके आ गिरी है जिंदगी मेरी
आके संभालो कि राहों में गिर पड़ता हूं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari