Tag Archives: जुदा शायरी

shayari -तुझसे दूर होकर दिल बड़ा उदास है

shayari latest shayari new

तेरी प्यास शायरी इमेज

तुझसे दूर होकर दिल बड़ा उदास है
ना तो तुम हो और ना ही सुकूं पास है

क्या थी खबर कि हम जुदा हो जाएंगे
अब अकेली हूं और जिंदगी हताश है

तुम्हें अपना मान कर चले थे तेरे साथ
तुम भुला चुके और मुझे तेरी तलाश है

अपने तरसे दिल को कैसे समझाएं हम
तेरे बिन जी नहीं लगता, ऐसी प्यास है

©rajeevsingh                                     shayari

shayari green pre shayari green next

Advertisements

शायरी – जुदा होकर ये दिल तुमसे और जुड़ गया है

new prev new next

दुनिया में भले न हो मेरा कहीं ठिकाना
तेरे दिल के करीब हो मेरा ये आशियाना

मेरी तरफ जानेजां गुनाहों की नजर फेरो
हर बार जुर्म करो तुम और भरूं मैं जुर्माना

जब सदियां बीत गईं तेरा इतंजार करते
फिर वक्त का ही आशिक बना तेरा दीवाना

जुदा होकर ये दिल तुमसे और जुड़ गया है
अब जख्म ही दे रहा है मुसकाने का बहाना

©RajeevSingh

शायरी – शायद दोनों जुदा हो जाएं

love shayari hindi shayari


एक शहर में कितने घर हैं
तेरे घर हैं, मेरे घर हैं

तेरे अपने और मेरे अपने
सारे पत्थर, हम दो सर हैं

चार दीवारें, छत की दुनिया
बंदिश रस्मों के बिस्तर हैं

शायद दोनों जुदा हो जाएं
तुझमें-मुझमें बस ये डर है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

हिंदी गजल- तेरा मासूम सा चेहरा बड़ा ही बेवफा था

love shayari hindi shayari


शराबों में नशा था
यहां कुछ तो वफा था

जो दिखती बर्फ जैसी
उसे छूकर पका था

तेरा मासूम सा चेहरा
बड़ा ही बेवफा था

तुम्हीं पे दिल था आया
मगर तुमसे जुदा था


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – इश्क में दिल मेरे ये तो होना ही था

love shayari hindi shayari

आसमां देखने में खता हो गई
चांदनी आज मुझसे खफा हो गई

मेरे कदमों ने जिसपे भरोसा किया
राह अक्सर वही बेवफा हो गई

जिंदगी ऐसे मंजर दिखाती रही
मुझमें रोने की ताकत दफा हो गई

इश्क में दिल मेरे ये तो होना ही था
एक खुशी थी जो हमसे जुदा हो गई

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – आप मिलती तो मैं खुद से ना जुदा होता

love shayari hindi shayari


आपने अपना नामो-निशां छोड़ा होता
तो मेरे खत का लिफाफा नहीं कोरा होता

ये हकीकत है कि आप सा कोई ना मिला
आप मिलती तो मैं खुद से ना जुदा होता

मुझे पता है मेरी रूह में बस आप ही हैं
काश! आपकी रूह में मेरा भी पता होता

बह रही है जमीं पे चांदनी की नदी
तैरते साये का कोई तो किनारा होता


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – कुछ भी नहीं मिलेगा मुझे तेरी दुआ से

love shayari hindi shayari

किसको खुदा कहेंगे कोई मेरा खुदा नहीं
है कोई भी खुदा तो वो मुझसे जुदा नहीं

शायर तो मुहब्बत के सिवा कुछ नहीं चाहे
लेकिन जमाने के किसी दिल में वफा नहीं

कुछ भी नहीं मिलेगा मुझे तेरी दुआ से
लगती है बेकसों को किसी की दुआ नहीं

वो हंसके बुझा देती है मेरे सीने में लगी आग
आंसुओं से कभी दामन उसका जला नहीं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जो अपनी मुहब्बत का मैं अंजाम जानता

love shyari next

जो अपनी मुहब्बत का मैं अंजाम जानता
तो तुमको मैं खुदा नहीं, इंसान मानता

मुझे बेरहम दुनिया में वफा की तलाश थी
वरना किसी बेवफा को क्यूं दिलो-जान मानता

दुखती है रग तो क्या करूं, कोई दवा नहीं
तू रहती तो ये दुख तेरा अहसान मानता

तू जुदा हुई तो ये हुआ, मेरे साथ तेरा दर्द है
जीवन को मैं गम के बिना बेजान मानता

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – इश्क तन्हा ही रहता है बेजुबां बनकर

love shayari hindi shayari

जल रहा है मेरी नजरों में मेरा वो खुदा
चांद बुझता ही नहीं होकर सूरज से जुदा

इश्क तन्हा ही रहता है बेजुबां बनकर
और आशिक भी होता है हर बयां से जुदा

आज टुकड़ों में बंटे हैं हम बादल की तरह
आज दरिया भी हो जाएंगे आंखों से जुदा

मेरी सदियां मेरे माजी से खफा रहती हैं
काट ली हमने भी एक उम्र रहके तुमसे जुदा

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – मेरा आगोश तेरे साये से लिपट जाता है

love shayari hindi shayari

मेरा आगोश तेरे साये से लिपट जाता है
कई रातों से ये ख्वाब टूट जाता है

जब तलक हैं जुदा, पूनम भी अमावस है
चांद कतरों में निगाहों से बह जाता है

मुझे गुलशन की गुलाबें तो नसीब नहीं
यूं भी पतझड़ में कांटा ही रह जाता है

बस्तियां गम की बसाता हूं हर रोज मगर
इश्क की आग में हर आशियां जल जाता है

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – उस नाज पे, उस हुस्न पे जांनिसार हों हर जनम में हम

love shayari hindi shayari

कभी दिल्लगी कभी संगदिली, कितने सितम तुमने किए
कभी की वफा, कभी थी खफा, कितने करम तुमने किए

उस हुस्न के दीदार पे जांनिसार हों हर जनम में हम
जो रूह बनके जुदा हुई, इस जनम में जां उसने लिए

ये इश्क का इंसाफ है, कि तेरी हर खता मुआफ है
इस गुनाह को कुबूल कर खुद को सजा हमने दिए

ये चांद भी तेरे नूर का एक मिसाल है इस जहां में
हम रातभर यूं ही जागकर तुझे देखकर जीते गए

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – ऐ मेरे दोस्त, मेरे दर्द पे तू क्यों मर गया

love shayari hindi shayari

मेरी दुनिया कभी आबाद खुदा कर देता
अपने अहसास से भी जुदा वो कर देता

सारा मंजर उसके हुस्न की रानाई है
काश सबको वो ऐसी इश्क की नजर देता

ऐ मेरे दोस्त, मेरे दर्द पे तू क्यों मर गया
इससे पहले तू मुझे थोड़ी सी जहर देता

उस मालिक ने मेरे पैरों को इतने कांटे दिए
कि कभी सोचा नहीं फूलों की रहगुजर देता

(रानाई – सौंदर्य)

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जब तलक दर्द मेरे दिल से नहीं मिट जाएगा

new prev new shayari pic

जब तलक दर्द को वो महसूस न कर पाएगा
तब तलक जमाना मेरी उदासी पे मुस्कुराएगा

दरिया की तलाश में चलता हूं जलते रेतों पर
दुनिया के रेगिस्तां में प्यासा दिल मर जाएगा

इस सवाल में उलझा रहता हूं मैं आठों पहर
तुमसे जुदा होकर मेरे पास क्या रह जाएगा

आंखों की ख्वाहिश है कि तुझे एक बार देखूं
तभी तेरे आशिक को जरा सुकून मिल पाएगा

©rajeevsingh              प्यार शायरी

prev shayari green next shayari green