Tag Archives: दिल छूनेवाली कहानी

वो मैरिटल रेप की शिकार है, कहती है कि मेरे साथ भाग चलो- रवि की लव स्टोरी

मेरा नाम रवि है, मैं राजस्थान से हूं। अभी 22 साल का हूं। मेरे गांव की एक लड़की मेरी जाति की थी और मेरी क्लासमेट थी। आठवीं क्लास से हम दोनों एक-दूसरे को पसंद करने लगे थे। दसवीं तक आते-आते फोन पर बात होने लगी थी। हम दोनों इतना प्यार करने लगे थे कि एक-दूसरे के बिना रह नहीं पाते थे। जब बात नहीं हो पाती थी तो खाना भी नहीं खाते थे। हमारे प्यार को आठ साल हो गए और कभी प्यार कम नहीं हुआ।

2017 में उसकी शादी घरवालों ने किसी और से कर दी। मां-बाप ने जहर खा लेने की धमकी दी थी। उस पर दबाव बनाकर उसकी शादी ऐसे लड़के से कर दी गई जो अब उसके साथ बहुत ज्यादती करता है। वो उसके साथ जबर्दस्ती करता है। वो मेरे सामने आई तो बहुत रोई और बोली कि मैं तुम्हारे साथ रहना चाहती हूं। मैं उसे रखना भी चाहता हूं लेकिन क्या करूं वो तो अब शादीशुदा है।

ravi love story

उसने अपने मां-बाप को मना किया कि वो ससुराल नहीं जाना चाहती तो उन्होंने कहा कि तुम हमको बदनाम करने पर तुली हुई हो, समाज में हमारा नाम खराब करेगी। उसके मां-बाप उसे गालियां देते हैं और हर बार जबर्दस्ती ससुराल भेज देते हैं। जब कभी वो आती है तो कहती है कि एक दिन वहां एक साल जैसा लगता है। इधर मेरे भी दिन उसके बिना बड़ी मुश्किल से कटते हैं। मैं भी नहीं रह पाता हूं।

वो मिलती है तो मुझसे कहती है कि इस जिंदगी से तो मर जाना अच्छा है, पर मैं उसे समझाता हूं कि सब ठीक हो जाएगा। वो बोलती है कि हम दोनों भाग चलते हैं। उसकी बड़ी बहन भी हमारे प्यार को सपोर्ट करती है। वो कहती है कि जब कुछ हल न निकले तो दोनों भाग जाओ। अब ऐसे में मैं क्या करूं, कुछ समझ में नहीं आ रहा….

पेज एडमिन की सलाह

रवि जी, बचपन से साथ रहते-रहते बड़े होने पर प्यार का रिश्ता अक्सर बन ही जाता है। इसमें समस्या तब आती है कि जब मां-बाप इज्जत के नाम पर लड़की की शादी किसी और से कर देते हैं। लड़की आपसे प्यार करती है तो वो पति के साथ बीवी का रिश्ता नहीं रखना चाहती होगी। ऐसी लड़कियों के साथ मैरिटल रेप होता है जो कि सही नहीं है।

अब लड़की पति के साथ रहना नहीं चाहती लेकिन उसका साथ देनेवाला कोई नहीं। वह जाएगी कहां? या ससुराल या आपके पास…आप दोनों भागेंगे तो पुलिस केस, लड़ाई-झगड़े के लिए भी आप और आपके घरवालों को तैयार रहना होगा। एक तरफ समाज, दूसरी तरफ आप दोनों।

अगर लड़की आपका साथ दे तो आप कदम उठा सकते हैं। अगर वो ससुराल में पति के साथ नहीं रहना चाहती तो कोई उसे जबर्दस्ती नहीं रख सकता लेकिन अगर कोई कदम उठाइएगा तो हर हाल में आप दोनों को एक-दूसरे का साथ देना होगा। हो सकता है कि आपको अपने घरवालों से भी लड़ना पड़े।

Advertisements

एक लव स्टोरी जो आपकी आंखें खोल देंगी…यही है सच्चा प्रेम

मैं पेज एडमिन राजीव हूं। बिहार के कोसी इलाके की एक रियल लाइफ स्टोरी बताना चाहता हूं जिसे सुनकर मुझे लगा कि आपलोगों से शेयर करूं। आपने कबीर का वो दोहा तो सुना होगा…पोथी पढ़ि-पढ़ि जग मुआ, पंडित भया न कोय, ढाई आखर प्रेम का पढ़े सो पंडित होय। अपने आसपास की जिंदगी में मैंने भी देखा कि यह बात सच है।

एक अनपढ़ महिला की शादी आज से करीब 30 साल पहले एक पढ़े-लिखे पायलट से हुई थी। 1990 में शादी का वही हाल था कि लड़के-लड़कियों का रिश्ता मां-बाप तय कर देते थे। पायलट के मां-बाप गांव में रहते थे और वहीं पास के गांव में उन्होंने बेटे की शादी कर दी थी। पायलट पत्नी को लेकर वहां चला आया जहां वह जॉब करता था।

rajeev real life story

पायलट अपनी अनपढ़ पत्नी से नाखुश और दुखी रहता था। वजह सिर्फ एक कि वो पढ़ी-लिखी नहीं थी। एक बेटी हुई और पायलट ने कुछ सालों बाद पत्नी को उसके मायके में लाकर छोड़ दिया और फिर अगले कई सालों तक पलटकर नहीं देखा। बेटी को पायलट ने अपने साथ ही रखा। इधर गांव में उसकी पत्नी 15 साल तक पति का इंतजार करती रही।

उधर पायलट भी अपनी बेटी के साथ जिंदगी जीता रहा। पायलट के मां-बाप गांव में बुजुर्ग हो गए और वहां अन्य बेटों ने उनको नहीं रखा तो उन दोनों को पायलट अपने पास ले आया लेकिन उनको संभालना काफी मुश्किल काम था। उसे फिर अपनी पत्नी का ख्याल आया। 15 साल बाद वह मायके में रह रही पत्नी को साथ ले गया। उस अनपढ़ महिला ने सास-ससुर और पति का प्रेमभाव से इतना केयर किया कि आज वही पायलट पति अपनी अनपढ़ पत्नी के साथ खुश है। उसे घुमाने के लिए जगह-जगह ले जाता है।

पायलट ने पोथी पढ़ी लेकिन ढाई आखर प्रेम का पाठ नहीं पढ़ा। अनपढ़ महिला ने पोथी नहीं पढ़ी लेकिन प्रेम करना उसे आता था। फिर भी पायलट की कमबुद्धि की वजह से दोनों के वे कीमती 15 साल बर्बाद हो गए जब वो एक-दूसरे के साथ दांपत्य जीवन हंसी-खुशी बिता सकते थे। अब सोचिए कि दोनों ने कितना दुखी जीवन जिया…सिर्फ इस वजह से एक पढ़ा-लिखा इंसान अनपढ़ इंसान की इंसानियत को नहीं समझ सका…

हिंदू लड़की से मुझे प्यार है, मैं मुस्लिम हूं, मेरे घरवाले कह रहे रिश्ता तोड़ो वरना झगड़ा होगा

मेरा नाम हसन है। मैं मध्य प्रदेश से हूं। अभी 24 साल का हूं। मेरे पड़ोस में एक हिंदू लड़की रहती है जो मुझसे बेहद प्यार करती है। कुछ महीने पहले उसने मेरा फोन नंबर मांगा था जो मैंने उसे दे दिया। हमारी बात शुरू हुई और हमारी दोस्ती प्यार में बदल गई। मेरे बिना वो एक पल नहीं रहती थी।

कुछ दिनों पहले मेरे घरवालों को हम दोनों के रिश्ते के बारे में पता चल गया। उस लड़की के घरवाले काफी लड़ाई-झगड़ा करते हैं और काफी खतरनाक हैं इसलिए इज्जत के डर से मेरे घरवालों ने मुझे उससे बात करने से मना कर दिया है। मैंने उससे बात करना बंद किया तो उसका रो-रोकर बुरा हाल हो गया।

hasan love story

वो बहुत बीमार रहती है। उसे मुझसे बहुत प्यार है और मैं उसको हर्ट नहीं करना चाहता पर मेरे घरवाले उससे बात करने और रिश्ता रखने से मना कर रहे हैं क्योंकि अगर लड़की के घरवालों को पता चल गया तो बहुत बड़ा झगड़ा हो जाएगा और इज्जत भी चली जाएगी।

अब मुझे ये समझ नहीं आ रहा है कि क्या करूं? उस लड़की से बात करके उसका सहारा बनूं या फिर अपने घरवालों की बात मानकर उसे मरता छोड़ दूं। मैं सोच-सोचकर पागल होता जा रहा हूं और वो भी उधर पागल हो रही है।

पेज एडमिन राजीव की बात
हसन जी, आपके घरवाले वही कह रहे हैं जो आज की दुनिया में प्रैक्टिकल बात है। मैं हिंदू हूं लेकिन हिंदू-मुस्लिम धर्म वाली बात को दिमाग से निकालकर प्रैक्टिकल बात ही कहूंगा। दरअसल, इज्जत सिर्फ आपके घर की नहीं जाएगी, उस लड़की के घर की इज्जत भी जाएगी। दूसरी बात, अगर वो बीमार है तो ठीक हो जाएगी। अगर वो सुसाइडल है तो उसके घरवालों को उसे संभालना चाहिए। अगर आप इस रिश्ते में और आगे बढ़ेंगे तो वाकई बवाल होगा….जैसा कि आपके घरवाले कह रहे हैं।

आपने कहा कि आप अपनी गर्लफ्रेंड को हर्ट नहीं करना चाहते तो अभी तत्काल बर्दाश्त कर लीजिए। धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएगा। जब यहां दो जातियों के प्रेम-संबंध में बवाल होता है तो आप तो दो अलग धर्म के हैं। मैं ये नहीं कह रहा है कि बवाल से आप डर जाएं या प्यार करनेवाले प्यार करना छोड़ दें लेकिन प्यार का मतलब ही होता है कि सामने वाले की भलाई किसमें है, हम वो काम करें। फिलहाल, लड़की की भलाई इसी में है कि आप दूर हो जाएं।

दूसरी लड़की से शादी तो फॉर्मेलिटी है, मेरी बीवी तो तुम ही हो- मेघना की लव स्टोरी

मैं बिहार से मेघना हूं। एक लड़के से बहुत ज्यादा प्यार करती हूं। उसने एक दिन ऐसे ही मेरी मांग में सिंदूर डाल दिया और बोला कि आज मैंने तुमसे शादी कर ली, आज से तुम मेरी बीवी हो। मैं उस पर इतना ज्यादा भरोसा करती हूं कि कुछ भी करने से पहले उससे पूछती हूं। सच में वो मेरा पति है।

इस शादी के डेढ़ साल बाद भी हम दोनों के घरवाले और दुनिया को हमारे रिश्ते के बारे में कुछ भी मालूम नहीं है। हम दोनों की शादी दुनिया के सामने नहीं हो सकती। इस बीच उसकी इंगेजमेंट किसी और से हो गई है और मेरी भी सगाई किसी और लड़के से हो चुकी है।

meghna love story

वो कहता है कि फॉर्मेलिटी निभाने के लिए किसी और लड़की से शादी कर रहा हूं, मेरी बीवी तो तुम ही हो। सच में, मुझे भी पूरी दुनिया से ज्यादा, खुद से ज्यादा उसपे भरोसा था लेकिन उसने मेरा भरोसा तोड़ दिया। मुझे पता चला कि वो कई लड़कियों से फेसबुक पर चैट करता है। मैंने जांचने के लिए एक लड़की के नाम से फेक आईडी बनाई और उससे चैट किया तो बात सही निकली।

मैंने उसको कई बार कसम दी थी कि तुम किसी और से बात करोगे तो मैं मर जाऊंगी। उसने कसम खाई भी थी लेकिन उसने कसम को तोड़ दिया। उसने जबसे मुझसे शादी की तबसे लेकर आज तक जाने कितनी लड़कियों से बात की। मुझे उससे नफरत होने लगी है।

हमने उससे पूछा कि क्यों मेरे साथ ऐसा किया तो वो बोल रहा है कि मैंने तुमको धोखा नहीं दिया। वो झूठ बोलता रहा, मैं यह सब सोचकर पागल होती जा रही हूं। वो ऐसा कैसे कर सकता है। मैं उससे बहुत प्यार करती थी, बहुत भरोसा किया था। मैं उससे अब बात नहीं कर रही हूं लेकिन मैं उसके बिना नहीं रह सकती।

मैं उससे दूर जाकर भी नहीं जी पा रही हूं और उसके पास भी अब नहीं जा सकती। प्यार और नफरत के बीच फंस गई हूं। मेरे साथ उसने ऐसा क्यों किया, यकीन नहीं होता है कि वो ऐसा कैसे करता रहा और मुझे पता भी नहीं चला। वो जिससे शादी कर रहा है, उससे भी खूब बात करता है, मुझे यकीन नहीं हुआ। क्या करें, आगे कुछ समझ नहीं आ रहा, वो मेरा पति है…

बेस्ट फ्रेंड के लिए लिखी गई दिल को छूनेवाली बात…रमेश की स्टोरी

मेरा नाम रमेश रावत है। मैं उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले से हूं। मेरी एक बेस्ट फ्रेंड है मीता रावत। मुझे बहुत प्यार करती है और हमेशा मिस करती है। मैं भी उसे बहुत प्यार करता हूं और बहुत मिस करता हूं। हम एक-दूसरे को बहुत प्यार करते हैं लेकिन बेस्ट फ्रेंड की तरह, लवर की तरह नहीं। वो कहती है कि हम ये दोस्ती कभी नहीं तोड़ेंगे। हम हमेशा बेस्ट फ्रेंड रहेंगे।

वो मेरी हर बात मान लेती है और कहती है कि कभी नशा मत करना, बहुत बेकार चीज है, किसी भी लड़की के साथ गलत मत करना और अपना ख्याल रखना। वो हमेशा मुझे गलत रास्ते पर जाने से रोकती है और मैं भी उसे जिंदगी में सही रास्ते पर चलने के लिए गाइड करता हूं। हम दोनों एक दूसरे के गाइड हैं।

ramesh love story

मैं खाना न खाऊं तो खुद भी खाना नहीं खाएगी। मैं मजाक में कहूं उसे कि खाना मत खाओ तो वो सच में खाना नहीं खाएगी। बहुत अच्छी है वो। मेरी सबसे अच्छी दोस्त है वो। वो मुझे अपने घर का मेंबर समझती है और मैं भी उसके अपने घर का सदस्य समझता हूं। वो मुझसे अपने घरवालों से ज्यादा प्यार करती है।

सुबह उठकर मेरे लिए दुआ करेगी कि मेरे सबसे अच्छे दोस्त को हमेशा खुश रखना और अपने लिए कुछ नहीं मांगेगी। भगवान से मेरे लिए और अपने परिवार के लिए मांगेगी। वो कहती है कि मुझे कुछ नहीं चाहिए, मुझे भगवान ने इस दुनिया का सबसे अच्छा दोस्त दिया है और क्या चाहिए मुझे….

वो कहती है कि मेरी शादी भी हो जाएगी तब भी तुम ही रहोगे मेरे बेस्ट फ्रेंड, हसबैंड की अपनी जगह होगी और हम दोनों हमेशा अच्छे दोस्त। कहती है कि तुम मेरी खुशी हो। मैंने एक बार सोचा कि उसे अपना गर्लफ्रेंड बना लूं फिर मुझे ये विचार अच्छा नहीं लगा क्योंकि प्यार में सिर्फ नाकामी हासिल होती है और कुछ नहीं…

मैं उसे गर्लफ्रेंड बनाता तो शायद हम एक दिन एक-दूसरे से अलग हो जाते इसलिए नहीं बनाया। वो कहती है कि बीएफ-जीएफ में खुशी कम और दुख ज्यादा होते हैं इसलिए उसने भी मुझे ब्वॉयफ्रेंड नहीं बनाया।

मैं आप सबसे एक बात पूछना चाहता हूं कि क्या लवर ही एक दूसरे से प्यार कर सकते हैं? हम दोनों तो बेस्ट फ्रेंड हैं और लवर से भी ज्यादा एक दूसरे से प्यार करते हैं। क्या गर्ल और ब्वॉय बेस्ट फ्रेंड नहीं बन सकते हैं? अगर हमेशा पॉजिटिव सोचो तो गर्ल और ब्वॉय बेस्ट फ्रेंड बन सकते हैं।

इस दुनिया में लवर ही एक दूसरे को ज्यादा प्यार नहीं करते, मेरी बेस्ट फ्रेंड मीता तो मुझसे बहुत ज्यादा प्यार करती है। मुझे कभी भूल मत जाना मीता…

हम दोनों एक दूसरे से टूटकर प्यार करते हैं लेकिन कास्ट अलग है – अमिता लव स्टोरी

मैं लखनऊ से अमिता हूं। मैं ओबीसी कास्ट की हूं और जिस लड़के से प्यार करती हूं वो जनरल कास्ट का है। वो मुझसे बहुत प्यार करता है। हम दोनों एक दूसरे की बहुत इज्जत करते हैं और केयर भी। पिछले सात साल से हम दोनों रिलेशनशिप में हैं पर अब मेरे घरवाले मेरी शादी कराने में लग गए हैं। जैसे ही कोई लड़का मिल जाएगा, वो मेरी शादी कर देंगे।

मेरे अपने लवर के साथ हसबैंड वाइफ जैसे रिश्ते हैं। बस शादी नहीं हुई है हमारी, बाकी सारे रिश्ते हैं हमारे बीच। वैसे जब उसने प्रपोज किया था तभी उसने कह दिया था कि हो सकता है कि हमारी शादी न हो पाए। उसने कहा था कि मेरे घरवाले मानेंगे तभी मैं शादी कर पाऊंगा, अगर नहीं कर पाऊं तो मुझे माफ कर देना। पांच साल प्यार करने के बाद हम दोनों के फिजिकल रिलेशन बने लेकिन फिर भी हम दोनों का एक दूसरे से प्यार कम नहीं हुआ।

nisha love story

अपने घर में उसने मम्मी से बातों-बातों में कहा कि शादी अपनी मर्जी से करूंगा चाहे वो ओबीसी कास्ट की हो या किसी और कास्ट की। यह सुनकर उसकी मां बहुत गुस्सा हो गई और कहने लगी कि ऐसा करोगे तो जानते हो कि क्या होगा, आज के बाद फिर ऐसी बात मत बोलना कि किसी और कास्ट में शादी करोगे। वो कहता है कि शादी नहीं कर पाएगा लेकिन मेरे बिना रह भी नहीं पाएगा। मैंने उससे यह कहा है कि जब तक मेरी शादी किसी और से नहीं हो जाती तभी तक तुम्हारे साथ रहूंगी, उसके बाद तुमको छोड़ दूंगी।

मैंने कहा कि अगर तुमको घरवालों की इतनी फिक्र है तो मेरा भी घर है, मेरा भी हसबैंड होगा, जिम्मेदारी होगी, मैं किसी का घर बर्बाद नहीं करूंगी। मैंने उससे कह तो दिया लेकिन मैं जानती हूं कि उसके सिवा मैं किसी और से शादी नहीं कर सकती। उसने मुझसे कहा कि तुम अभी ही मुझे छोड़ दो तो आगे तकलीफ नहीं होगी क्योंकि मैं तुम्हारा साथ जिंदगीभर नहीं दे पाऊंगा। मैंने गुस्से में कह दिया कि आज से ही तुमको छोड़ रही हूं, बात नहीं करूंगी तो कहने लगा कि आखिरी बार गले लगा लो। हम अलग हो गए थे उस दिन।

लेकिन पता चला कि उसकी तबियत बहुत खराब हो गई। हम फिर मिले तो रोकर कहने लगा कि मैं मर जाऊंगा तुम्हारे बिना, तुम हमसे दूर मत होना, चाहे तुम्हारी शादी किसी और से हो जाए, मुझसे बात करती रहना। मैं उसकी बात सुनकर बहुत उलझ गई हूं। उसके घरवाले किसी कीमत पर नहीं मानेंगे और वो मेरे बिना किसी कीमत पर जी नहीं पाएगा। वो कहता है कि मेरे बिना वो जिंदा लाश बन जाएगा और इस बात को मैंने कई बार फील भी किया है कि मेरी बहुत केयर करता है और उसकी सांस मेरे साथ ही चलती है।

मेरे बारे में वो इतना सोचता है कि मुझे जरा सा भी कुछ होता है तो वो परेशान हो जाता है इसलिए मैं उसके लिए अपनी बहुत केयर करने लगी हूं। लेकिन मुझे समझ नहीं आता कि आगे क्या किया जाए? कभी सोचती हूं कि छोड़ दूं उसे अभी ही वरना आगे चलकर तकलीफ होगी। कभी सोचती हूं कि अभी से फ्यूचर के बारे में सोचकर क्यों रोएं क्योंकि अगर वो छूट गया तो अभी से ही मेरी जिंदगी बर्बाद हो जाएगी।

हम दोनों के बीच का प्यार धीरे-धीरे बढ़ता ही जा रहा है। मैं किसी दूसरे लड़के के साथ शादी करके रहने के बारे में सोचती हूं तो मुझे घिन आती है, मन करता है कि जिस दिन किसी और ने मुझे छुआ भी, उस दिन मैं खुद को काट डालूंगी। बिना पसंद की शादी होना मतलब रेप होने जैसी फीलिंग आती है।

मेरे लिए खुशी नाम की चीज है तो वो है मेरा प्यार। मां बाप को तो उम्रभर साथ रहना नहीं है, साथ रहता है वो जिसे हम जीवनसाथी चुनते हैं पर पता नहीं कब तक मेरा जीवन है और कब तक मेरा साथी साथ है? कास्ट की वजह से हमारी शादी नहीं हो सकती…काश दुनिया में सिर्फ इंसान नाम की कास्ट होती तो जिंदगी कास्ट की वजह से बर्बाद नहीं होती….