Tag Archives: नादान शायरी

shayari – नहीं थी खबर कि इस तरह रुसवा करोगे हमें

shayari latest shayari new

मोहब्बत कर बैठी शायरी इमेज

नहीं थी खबर कि इस तरह रुसवा करोगे हमें
बस्ती में जाकर सबसे तुम बेवफा कहोगे हमें

एक ऐतबार पर खा चुकी अब तक इतने धोखे
देखती हूं कि कब तक ठोकरें लगाओगे हमें

मेरी जिंदगी में ये कैसी आग लगा गए हो तुम
खाक हो चुकी हूं और कितना जलाओगे हमें

दिल नादान था जो तुमसे मोहब्बत कर बैठी
कहां सोचा कि आखिर में ये सिला दोगे हमें

©rajeevsingh                                    shayari

shayari green pre shayari green next

Advertisements

शायरी – कैसी है आशिक की फितरत, क्या कहूं

new prev new shayari pic

कैसी है आशिक की फितरत, क्या कहूं
इसे सुकूने दिल से है नफरत, क्या कहूं

दिल लगाया तो अक्ल क्यों कम हो गई
नादानों सी हो गई है हरकत, क्या कहूं

जिंदगी का क्या होगा, कह नहीं सकता
किधर चली गई मेरी किस्मत, क्या कहूं

जमाने से वो आखिरकार इतनी डर गई
दे न सकी मिलने की मोहलत, क्या कहूं

©राजीव सिंह शायरी

जुदाई शायरी- तेरे बिन जिएं हम किस तरह

love shyari next
तेरे बिन जिएं हम किस तरह
और तू जिएगी किस तरह

उल्फत में जो हम खो चुके
वो फिर मिलेगी किस तरह

शम्मे जो लौ से घिर गए
कब तक जलेगी किस तरह

मैं तो शुरू से ही नादान हूं
पर तू समझेगी किस तरह

©RajeevSingh

शायरी – इतने नादान हो फिर भी दिल लगाते हो

love shayari hindi shayari

इतने नादान हो फिर भी दिल लगाते हो
इतने नाजुक हो, क्यूं पत्थर से टकराते हो

रु-ब-रु आती है वो तो छुप जाते हो
इतने प्यासे हो कि पानी से घबराते हो

आरजू पा ही गए तुम हुस्ने जानां की
तुम भी रातों में तन्हा सा गजल गाते हो

शोला भड़का है दिल के सनमखाने में
चिरागों की तरह खामोश नजर आते हो

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – नादान हसरतें आपके दिल और हमारे दिल में

love shayari hindi shayari

भूल से भी जिंदगी को नाराज न कीजिए कभी
लीजिए आ गई नशे में घुली रात अभी
नादान हसरतें आपके दिल और हमारे दिल में
फिर दूरियों में न गुजर जाए रात अभी

सूर्ख चादर सा फैला है गुलाबों की जमीं
ख्वाबों की महक से फिजा रोशन है अभी
शब पे छायी है हर तरफ मदहोश हवाएं
नींद से बढ़के जगने का हसीन पहर है अभी

कशमकश होती ही रहती है सदा दिल में आपके
सीधे-सीधे मेरी बातों को मान लीजिए अभी
खर्च कर दें आज हम अपनी सारी ख्वाहिशें
बंदिशों की दीवार गिराने का मौसम है अभी

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – नजर की लाज बच गई तुझे देखके ऐ जानेजां

love shayari hindi shayari

ईमान से वो गिर गए पर उठ गए बेईमान से
शैतान जो पर्दे में थे, वो पूजे गए इंसान से

पत्थर से पूछ बैठे हम आईनों के हाले-दिल
उनका जवाब आया कि लगते हो तुम नादान से

करवट बदलता रह गया ये रोशनी आठों पहर
सब देखो परेशान हैं जीवन की सुबहो शाम से

नजर की लाज बच गई तुझे देखकर ऐ जानेजां
वरना मैं तो नाराज था बेवफाओं के जहान से

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – नादान सी अदाओं की नुमाइश ना करो

love shayari hindi shayari


मुझको एक नजर देख पलकें गिरा लिया
शमा जलाकर तूने एक पल में बुझा दिया

नादान सी अदाओं की नुमाइश ना करो
तेरे इन तमाशों ने दर्द को जगा दिया

सूनी पड़ी राहों में तुम क्या खोज रहे थे
जो हमको आते देखकर खुद को छुपा लिया

हम आज हैं तेरे दर पे, कल ना रहें शायद
क्यूं ऐसे मुसाफिर से ये दिल लगा लिया


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जिसने न कभी इश्क का है लुत्फ उठाया

love shayari hindi shayari

नाजुक से कई राज गजलों में लिखते हैं
नादान सी ये बातें दिल को छू लेते हैं

हंसते हैं कई फूल गुलशन में जवां होके
दुनिया की उंगलियों में वो टूट कर रोते हैं

जिसने न कभी इश्क का है लुत्फ उठाया
वो रात को बिस्तर में आराम से सोते हैं

आसान नहीं है मगर हमने ये किया है
आशिक के जनाजे को कांधे पे ढ़ोते हैं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – अपना दिले-नादान लेकर हम जबसे शहर गए

love shayari hindi shayari

अपना दिले-नादान लेकर हम जबसे शहर गए
मीठी बातों की आड़ में सब धोखा कर गए

हर घर में एक दुकान है, रिश्ते बिकते हैं जहां
दिल की जगह में सब यहां रुपया पैसा भर गए

बाजार की भीड़ में हैं जगमगाते जिस्म बहुत
ये हसीं नजारे सबकी नजर को अंधा कर गए

अपना वतन मिला नहीं ऐसे शहर में कहीं
जिसकी तलाश में जीते जीते हम तन्हा मर गए

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari