Tag Archives: प्रेमिका के पत्र

एक औरत के प्रेम पत्र- 5 – प्रिय क्या तुमको मेरा जन्मदिन याद है!

love shayari hindi shayari

प्रिय: मुझे ऐसा अहसास हो रहा है कि आज तुम कुछ न कुछ ऐसा करोगे जिसकी वजह से खास तौर से मुझे बहुत खुशी मिलेगी। मेरी सारी खुशियां तुम्हारे दामन में हैं।

यह बता नहीं सकती कि मैं तुम्हारी कितनी अहसानमंद हूं। तुमको यह अहसास होना चाहिए। मेरे जिस्म और रूह की सारी खुशियों के पीछे तुम्हारी इनायत है जो जाने-अंजाने में तुमसे मुझे मिले हैं।

मैं आज के दिन भी यही सोच रही हूं कि मर्दों में तुम सबसे ज्यादे अंजाने किस्म के हो क्योंकि तुमने मुझसे मेरी जिंदगी के बारे में कभी पूछा नहीं।

शायद तुमको यह कभी याद भी नहीं आएगा कि मैं इस धरती पर कभी पैदा भी हुई थी।

आज मेरा जन्मदिन है!

तुमने कभी पूछा नहीं, इसलिए मैंने भी कभी बताया नहीं; फिर भी यह दिन आ ही गया। क्या तुम इस बारे में जानते हो, क्या तुमने किसी और से इस बारे में कभी पूछा था?

अगर तुम जानते होते तो जरूर मुझे अपनी प्यार भरी बातों के साथ बधाई देते। मुझे लगा कि आसमान से सीधे तुम्हारे पास इस बात की खबर आएगी और तुम मुझे इस बात के लिए माफ करोगे कि मैने वह बात तुमसे छिपाए रखी जिसके बारे में तुमने कभी पूछा ही नहीं।

मैं तुमको अपने जन्मदिन की बधाई देती हूँ मेरे आशिक!

तुम्हारे लिए ही यह दिन आया है। क्या तुम आज खुश हो, मेरे मन में यह सवाल है?

मैं यह भी सोच रही हूँ कि क्या मैं तुमको आज शाम अपने घर के अंदर खामोशी से आते देख सकूंगी? क्या तुम आज आकर उन बिखरे हालात को ठीक कर दोगे जो दिनभर मेरे अंदर हलचल मचाते रहे?

अब मैं तुम्हारे लिए इस पत्र को मोड़कर रख रही हूं। हालांकि सूरज के निकले हुए काफी वक्त बीत चुका है। फिर भी मैं तुमको ‘गुड आफ्टरनून’ नहीं कह सकती क्योंकि हम दोनों के प्यार की डिक्शनरी में ऐसा कोई लफ़्ज है ही नहीं।

गुड नाइट। मेरे लिए अपनी उंगलियों को रोकना कितना कठिन है जो तुम्हारे लिए लिखते हैं। मैं तुमको इतनी बार चूमती हूँ कि मैं गिन नहीं पाती।

मेरे डियरेस्ट, मेरे स्वीटहार्ट, मैं तुम्हारी इबादत करती हूं। गुड नाइट।

जब तक मैं जिंदा हूं तब तक जितना महसूस करती हूं उससे कहीं ज्यादा तुमसे प्यार करना है।

love shayari hindi shayari

Advertisements

औरत के प्रेम-पत्र – 3 – तुम्हारे और मेरे प्यार में कितना अंतर है!

love shayari hindi shayari

मेरे प्रिय, मर्द और औरत का एक-दूसरे से प्यार में कितना अंतर होता है? क्या दुनिया में और कोई ऐसी चीज है जो इतनी अलग हो? मैं रोज अपनी रूमानी सुबह यही सोचते हुए बिताती रही हूं और तुम्हारे साथ इन अहसासों को बांटना चाहती हूं।

लेकिन अपनी जिंदगी के इस दर्द को तुमको दिखाना मेरे लिए इतना आसान नहीं है।

मैं यह क्या करती रही हूं? मेरे प्रिय, मैं अपने लिए एक ड्रेस सिल रही हूं और ड्रेस, जिसे दिल से तैयार किया गया हो, प्रेम-पत्र की तरह होता है। जब यह बन जाएगा तो तुम इसे देखकर इसकी तारीफ तो करोगे लेकिन यह नहीं जान सकोगे कि इस ड्रेस को बनाने में कितने राज छुपे हैं।

इसलिए मैं कहती हूं कि तुम्हारा प्यार और मेरा प्यार एक जैसा नहीं है।

सोचो, जब तुम मेरे लिए एक कोट लाओ और मुझसे कहो कि यह तुमने खुद अपने हाथों से मेरे लिए बनाया है तो मैं उसे देखकर कितनी दीवानी हो जाऊंगी !

एक दिन तुमने मुझे एक ड्रेस दिया था जिसे किसी दर्जी ने सिला था, फिर भी मैंने उसे चूमा था। यह तब की बात है जब हमारा प्यार शुरू हुआ था और हम दोनों एक-दूसरे से हाथ मिलाकर रह जाते थे

लेकिन, आज मैं तुमको अपने ड्रेस के बारे में बताऊंगी ताकि तुम इससे जुड़ी मेरी भावनाओं को जान सको। इस ड्रेस में बीच में एक खुली सी जगह है-जो बहुत ज्यादा खुली नहीं है- वहीं मेरा दिल धड़कता है।

हवाओं में लहराने वाली यह स्कर्ट थोड़ी लंबी हो गई है। मैंने इस ड्रेस में अपना सपना बुना है। कभी जब मैं तुमको गुड नाइट कहने के बाद दरवाजे से बाहर जाती रहूंगी तो देर तक तुम मुझे देखते रहोगे, इस ड्रेस के आखिरी छोर के गायब होने तक और यह तुम्हारी आंखों से ओझल होने तक तुमसे कहती रहेगी, ‘गुड बाय, गुड बाय, मैं तुमसे कितना प्यार करती हूं। देखो मुझे, मैं धीमे कदमों से जा रही हूं।’

चलो, ये तो मैंने तुमको अपने ड्रेस के बारे में बताया। तुम्हारे लिए मेरे प्यार का यह एक अहम हिस्सा है और तुमको इसमें कोई रुचि नहीं है? क्योंकि इसमें तुमको मैं वह सब नहीं दिखा सकी जिसे देखने की इच्छा तुम मर्दों को होती है।

क्या तुम्हारे पास ऐसा कुछ है जो मुझे बता सको; वे सारे जज़्बात जो मेरे लिए तुम्हारे मर्दाने मन में चलते रहते हैं?

तुम यहां सिर्फ कल आए थे और मैं बहुत चाहती हूं कि तुम आगे भी आते रहो। तुमसे खुश न रहने वाली लेकिन बहुत प्यार करने वाली तुम्हारी प्रेमिका।

love shayari hindi shayari