Tag Archives: फना शायरी

शायरी – जिसको दुनिया कभी अपना न सकी

new prev new next

वो समंदर भी जब बेवफा हो गया
तब किनारों से दिल भी खफा हो गया

जिसने चाहा नहीं, उसको चाहा बहुत
ऐसी चाहत पे आशिक फना हो गया

जिसको दुनिया कभी अपना न सकी
वह खुद के लिए आईना हो गया

दर्द को खोजता, आंखों में झांकता
सोचता हूं कि मुझको ये क्या हो गया

©RajeevSingh

शायरी – तेरे इक नजर से हाय मैं बर्बाद हो गई

new prev new shayari pic

तू किस शहर से आया है ऐ दिल के बादशाह
अरमानों को जगाया है ऐ दिल के बादशाह

तेरे इक नजर से हाय मैं बर्बाद हो गई
मुझे इश्क में फना किया ऐ दिल के बादशाह

अब और न तड़पा मुझे ऐ मेरे कातिल
मर जाऊंगी मैं तेरे बिन ऐ दिल के बादशाह

ये महल लग रहा है मुझे सोने का पिंजरा
मेरे रूह को आजाद कर ऐ दिल के बादशाह

©राजीव सिंह शायरी

शायरी – ऐ यार तुमसे जुदा हो गया हूँ

love shayari hindi shayari

फना हो गया हूँ, तन्हा हो गया हूँ
ऐ यार तुमसे जुदा हो गया हूँ

माज़ी के जितने तसव्वुर हैं मेरे
मैं सबसे अचानक खफा हो गया हूँ

दिल से शिकायत करें भी तो कैसे
मैं जिसके लिए शिकवा हो गया हूँ

तुमसे कहानी शुरू जो हुई थी
मैं आज उसकी इन्तहा हो गया हूँ

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – अपने सीने में तेरी तस्वीर को छुपा ही गई

love shyari next

कोई आहट सी आई तो मैं घबड़ा ही गई
अपने सीने में तेरी तस्वीर को छुपा ही गई

जांनिसारों की तरह दिल भी फना होता है
मैं भी एक दिन तुम्हीं में समा ही गई

तेरा इंतजार भी समंदर से बड़ा लगता है
ढ़ूंढ़ती हूं कि तेरी कश्ती कहां खो गई

दरो-दीवार और हया के सौ पर्दों में
इन घटाओं में छुपकर फिर चंदा रो गई

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – उस हुस्न के सितम हम कैसे बयां करें

prevnext

हमें मालूम है अंजामे-इश्क बुरा होगा
लेकिन इश्क हो गया तो क्यों इंतहा करें

ये दर्द है, इस दर्द पे काबू नहीं होता
अब नब्ज चले किसी तरह, ये दुआ करें

बेखुद सी हुई रातें, ओझल सी हुई दुनिया
अपने ही वजूद में हम खुद को फना करें

इजहार न कर सके जब अपनी जुबां से
उस हुस्न के सितम हम कैसे बयां करें

©RajeevSingh