Tag Archives: भरम शायरी

शायरी – मैंने कुछ इस तरह से खुद को संभाला है

love shayari hindi shayari

मैंने कुछ इस तरह से खुद को संभाला है
तुझे भुलाने को दुनिया का भरम पाला है

अब किसी से मुहब्बत मैं नहीं कर पाता
इसी सांचे में एक बेवफा ने मुझे ढाला है

कौन मेरे सीने में उठा दर्द मिटा पाएगा
जब ये दिल ही इस जख्म का रखवाला है

कोई कयामत मुझे कभी डरा नहीं पाती
खुदा ने इस कदर मुसीबत में मुझे डाला है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी – मैं पराया सही पर आज भी तू मेरी है

love shayari hindi shayari

कोई इंसाफ न होना था, न होगा कभी
जुर्म ये माफ न होना था, न होगा कभी

मेरे इजहार से पहले तू जुदा हो गई
तुमपे इल्जाम जो लगना था, न होगा कभी

देख ले आज भी तेरे ही भरम बाकी हैं
मेरे जैसा तेरा दीवाना, न होगा कभी

मैं पराया सही पर आज भी तू मेरी है
आखिरी रिश्ता टूट जाए, न होगा कभी

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari