Tag Archives: मरहम शायरी

शायरी गजल- जख्म तो सब देते हैं मगर

love shayari hindi shayari


जिंदगी में इतने गम हैं
मरा नहीं, ये क्या कम है

तुझे अपने सीने में रखेंगे
जब तलक सांसों में दम है

जख्म तो सब देते हैं मगर
कोई नहीं मेरा मरहम है

तुमको खोकर मैंने जाना
हर खुशी एक वहम है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तुमसे रिश्ता है कैसा, आईना जानता है

love shayari hindi shayari

दर्द ही एक मरहम है इस दिल के लिए
और आंसू ही जीवन है इस दिल के लिए

जिस मुसाफिर को तुम पागल समझ बैठे हो
वो दीवाना बन गया है इस दिल के लिए

तुमसे रिश्ता है कैसा, आईना जानता है
उसमें एक अक्स है तेरा इस दिल के लिए

किसी बेबस की तरह मैं नहीं जी पाता हूं
जब गजल लिख नहीं पाता इस दिल के लिए

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दिल का हर जख्म मिटाना था, मिटाया न गया

love shyari next

दिल का हर जख्म मिटाना था, मिटाया न गया
कोई मरहम जो लगाना था, लगाया न गया

मेरे माथे पे तेरे नाम की लकीरें न बनीं
फिर कभी भी कोई नाम लिखाया न गया

उँगलियाँ काट दूँ अपनी मगर ये हालत है
तुझे छूने की हसरत को भुलाया न गया

मेरी कमजोर जुबाँ ने तुमसे कुछ न कहा
हमसे अपने ही लबों को हिलाया न गया

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तेरी खामोशी किसी सदमे की निशानी है

prevnext

तेरी खामोशी किसी सदमे की निशानी है
तेरी आंखों में गहरे जख्म का पानी है

जो गुलाबी बदन में दर्द को भर दे
उस कांटे का एक नाम बस जवानी है

इन खुली जुल्फों में आवारगी सी लगती है
तेरी बिखड़ी लटें तेरी तरह दीवानी है

रोग ऐसा है तो मरहम जाने क्या होगा
दिले-नादां की ये पीड़ भी अंजानी है

©RajeevSingh

शायरी – अब आप कत्ल भी कर दें तो कोई गम नहीं

new prev new shayari pic

आपकी अदाओं पर ये दिल कुरबान करते हैं
आपकी नजर ए इनायत को सलाम करते हैं

आप आईं मेरी तरफ इश्क का चिराग लेकर
हम आपके नूर से जज्बातों को जवान करते हैं

दिल में दबे जख्म हैं मरहम के इंतजार में
आप ही तो इलाज ए दर्द का इंतजाम करते हैं

अब आप कत्ल भी कर दें तो कोई गम नहीं
मोहब्बत में मर मिटने का हम ऐलान करते हैं

©राजीव सिंह शायरी