Tag Archives: मुफलिस शायरी

शायरी – और आज भी वो मेरे बुरे हालात से अंजान है

love shayari hindi shayari

सर्दी की ठिठुरती रात में फुटपाथ पर अरमान है
दिलबर मुझसे दूर किसी और पे मेहरबान है

हर कदम पे जिंदगी में दर्द के निशां छोड़ते रहे
जिस रास्ते से मैं गया वो आज भी सुनसान है

वो रोज देखते हैं हमें मुफलिसों के लिबास में
और आज भी वो मेरे बुरे हालात से अंजान है

दुनिया की भीड़ में जिसे तलबगार न मिला
इस अक्ल के बाजार में ये दिल बड़ा नाकाम है

©RajeevSingh #love shayari

Advertisements

शायरी – जान में भी तू ही बसी है

love shayari hindi shayari

खोने भर को जान बची है
जान में भी तू ही बसी है

एक कफन मुफलिस को दे दो
तुमको आंचल की क्या कमी है

तेरी उल्फत भी अब मुझको
आखिरी मंजिल पे ला चुकी है

अब जगाना न मुझे आके
बरसों बाद तो आंख लगी है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – चल पड़ा हूँ किधर, जाने कौन शहर

prevnext

चल पड़ा हूँ किधर, जबसे छूटा है घर
और बिछड़ा है मेरा हसीं हमसफर
चल पड़ा हूँ किधर, जाने कौन शहर

अपने साये से रुखसत हुआ था कभी
जब दीये बुझ गए मुफ़लिसी में सभी
अब अंधेरे में रहता हूँ आठों पहर
चल पड़ा हूँ किधर, जाने कौन शहर

कोशिशें की बहुत, हौसले थे मगर
हो गया चाक मेरा ये नाज़ुक जिगर
फिर भी मिल न सका इश्क में रहगुज़र
चल पड़ा हूँ किधर, जाने कौन शहर

सागर से उठे थे धुएँ की तरह
फिर हवा में उड़े पंछियों की तरह
और घटा बनके एक दिन बरसी नज़र
चल पड़ा हूँ किधर, जाने कौन शहर

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – जो सुन ना सकी मेरी खामोश सदा

prevnext

ना बंदिशों में है, न मकानों में है
मेरा अंजाम बस आज़ाद पनाहों में है

दिल आँसू भी बहाए तो कोई बात नहीं
हँसी तो बेवफाओं के गुनाहों में है

जो सुन ना सकी मेरी खामोश सदा
वो नाजनीन मेरे दिल की दरगाहों में है

हम तो मुफ़लिस ही रहे मुसलसल
दोजख तो आज भी सैरगाहों में है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – इस दिल को ये मंजूर है, तू खुश रहे हर हाल में

love shyari next

कहता हूं मैं ये बात भी तेरी भलाई के लिए
न चुन तू टूटी चूड़ियां अपनी कलाई के लिए

इस दिल को ये मंजूर है, तू खुश रहे हर हाल में
मुझसे न तू ये इश्क कर दर्दे-जुदाई के लिए

दुनिया पे मैं एक दाग हूं, तन्हा सा नाशाद हूं
जज़्बात में जीता हूं बस दिल जलाई के लिए

मुफलिस के दामन से तुझे मिलेगा क्या भला
तू मान जा धनवान से अपनी सगाई के लिए

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari