Tag Archives: शमा शायरी

शायरी – ये खामोश दर्द, ये खामोश आह

love shayari hindi shayari


ये बंजर सी जमीं, ये बंजर आस्मा
ये बंजर सा शमा, ये बंजर दास्तां

काली सी घटा, काली सी हवा
है काले वक्त पे कुदरत के निशां

ये खामोश दर्द, ये खामोश आह
है खामोश इश्क, बेबस है जुबां

एक कली खिली मगर टूट गई
उसे लग गई शहर की आंधियां


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – ये तेरा गम है जो हमको मरने नहीं देता

love shayari hindi shayari

तन्हाई की दीवारें हैं उल्फत के महल में
हुस्न का शम्मा जला है दीवाने के दिल में

कुछ देर सोच ले ऐ मेरे दर्द के खुदा
सिर्फ ज़फा ही क्यूं मेरे लिए तेरे दिल में

ये तेरा गम है जो हमको मरने नहीं देता
आंखों में रोशनी है जब तू है मेरे दिल में

बहारों का शमा सा, खुशबू का झोंका सा
ख्वाबों का धोखा सा है उजड़े हुए दिल में

उल्फत- प्यार
जफ़ा- जुल्म

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – मुझको तो मेरी हया रोकती है

love shayari hindi shayari

मैं भी यहीं हूं, तू भी यहां है
क्या खबर कि मुश्किल कहां है

तेरी निगाहें कुछ कह सी रही हैं
ये तो फकत मेरे दिल ने सुना है

मुझको तो मेरी हया रोकती है
वरना मैं पूछूं, तू रहता कहां है

कब से खड़ी हूं, कुछ तो कहो ना
तेरे लिए यह अच्छा शमा है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – छुपते हैं बेवफा जब मुस्कुराहटों के पीछे

love shayari hindi shayari

अंधेरी तन्हाई में हम तबसे बुझ रहे हैं
गैरों के घर में जबसे शम्मे जल रहे हैं

छुपते हैं बेवफा जब मुस्कुराहटों के पीछे
देखिए किस अदा से दो होठ हिल रहे हैं

गिरते हैं ठोकरों से और चोट भी खाते हैं
पथरीले रास्तों पे हम फिर भी चल रहे हैं

कमसिन सी एक पुरवाई बन गई है आंधी
ये किसकी आह है जो मौसम बदल रहे हैं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – नादान सी अदाओं की नुमाइश ना करो

love shayari hindi shayari


मुझको एक नजर देख पलकें गिरा लिया
शमा जलाकर तूने एक पल में बुझा दिया

नादान सी अदाओं की नुमाइश ना करो
तेरे इन तमाशों ने दर्द को जगा दिया

सूनी पड़ी राहों में तुम क्या खोज रहे थे
जो हमको आते देखकर खुद को छुपा लिया

हम आज हैं तेरे दर पे, कल ना रहें शायद
क्यूं ऐसे मुसाफिर से ये दिल लगा लिया


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – आंसू भी छलक आए हैं मजबूर की तरह

love shayari hindi shayari

आंखों से चमकती हुई एक नूर की तरह
आंसू भी छलक आए हैं मजबूर की तरह

शब के अंधेरों में कोई शमा यूं जली
जुल्फों को सजाती हुई सिंदूर की तरह

सावन कहीं से आके बरसेगा जाने कब
दिल दर्द से जलता है तंदूर की तरह

दुनिया तुझे दांतों तले पीसेगी एक दिन
तुम बन चुके हो इश्क में अंगूर की तरह

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – रात गहरी हुई बस्ती बड़ा सुनसान हुआ

love shayari hindi shayari

रात गहरी हुई बस्ती बड़ा सुनसान हुआ
ऐसे माहौल से ही दिल मेरा गुलफाम हुआ

इन अंधेरों में गजल मैं किसपे लिखता
बड़ी मुश्किल से शमा का इंतजाम हुआ

तुम तसव्वुर से निकलकर रूबरू आओ
अब हकीकत ही जिंदगी का इम्तहान हुआ

क्या सुनाऊं मैं तुम्हें ये जरा खुलके बोलो
तेरी खामोशी से अब मैं तो परेशान हुआ

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जी तो करता है मेरे सामने तुम बैठी रहो

prevnext

जी तो करता है मेरे सामने तुम बैठी रहो
अपनी इन दर्द भरी आँखों से मुझे देखती रहो

मैं खुद डूब जाऊँ तेरी इन निगाहों में
और तुम खामोशी से मुझमे खोयी रहो

ये उदासी तेरी सूरत पे बहुत सजती है
चाहता हूँ कि तुम यूँ ही जरा प्यासी रहो

तेरे नूर से मेरे दिल में शमा जलती रहे
और तुम सामने बैठी रहो, बस बैठी रहो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दीवाना तेरी दुनिया में कुछ दिन का मेहमान है

love shyari next

दिल जख्मी है, जिस्म खाक है और जेहन परेशान है
दीवाना तेरी दुनिया में कुछ दिन का मेहमान है

एक समंदर सैलाबों का, जलता हुआ एक सहरा सा
एक पैकर में शोला-शबनम, तेरी आंखों की शान है

हालत दुश्मन क्या समझेगा, जाने कब शमा बदलेगा
मौत के दर पे मैं खड़ा हूं, कैद में मेरी जान है

चांद सुलगता पत्थर है, रात का आलम बंजर है
मेरे लम्हों के मंजर में कोई सुबह न शाम है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – दर्द टूटा है बड़ी जोर से आहें भरके

love shayari hindi shayari

दर्द टूटा है बड़ी जोर से आहें भरके
आह निकली है बड़ी देर से सजदा करके

दीद तेरी ही हुई थी, हिज्र तुमसे ही मिले
इश्क तो रह गया है मौत का नगमा बनके

शमा, मेरे हाल पे मेरे तू नाराज न हो
तू देख खामोशी से एक परवाना जलते

मौत जब आ ही गई तो गिला क्या करें
जिंदा रहते तो तेरे गम को सदमा कहते

सजदा- इबादत, सिर झुकाना
दीद- दर्शन, to see
हिज्र- जुदाई

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – तू भी तस्वीर के मानिंद चुप रहती है

love shayari hindi shayari

तू भी तस्वीर के मानिंद चुप रहती है
मेरी खामोशी भी तेरी तरह कुछ कहती है

रात ही रात बिखरी है मेरे आंगन में
जाने किस घर में मेरी शमा जलती है

कोई गुमनाम सलीबों पे चढ़ जाता है
कोई बदनाम तहखाने में ही मरती है

आज सावन भी सुनाता है तेरी चिट्ठी
कोरे बादल में तू आंसुओं को रखती है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari