Tag Archives: समंदर शायरी

शायरी – दिल की जितनी भी परेशानी है

prevnext

दिल की जितनी भी परेशानी है
सब तेरी ही मेहरबानी है

आरजुओं का एक समंदर है
और आंखों में कितना पानी है

फूल भी और चुभन भी है
हुस्न की भी क्या जवानी है

चांदनी रात है सुलगती हुई
आज दिल में आग तो लगानी है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तुम जिस मोड़ पे दिखती हो जानेजां

new prev new shayari pic

जिंदगी की मंजिल मिल जाती है वहां
तुम जिस मोड़ पे दिखती हो जानेजां

मुद्दत से एक प्यास समंदर में कैद है
मेरी आंखों में खुद को पाओगी यहां

कितनी अंधेरी रातें तेरी याद में कटी
मेरी चांद हो जाओ अब हमपे मेहरबां

तुम मिल गई हो तो अब सोच रहा हूं
इस मुकाम से हम दोनों जाएंगे कहां

©rajeevsingh              शायरी

prev shayari green next shayari green