Tag Archives: सांस शायरी

शायरी – मेरी आंखों में तेरी झलक की लकीर ही सही

meri aankhone me shayari

 

मेरी आंखों में तेरी झलक की लकीर ही सही
मेरे पास तू तो नहीं, तेरी एक तस्वीर ही सही

तेरी बाहों में मेरी खुशियों की धन दौलत है
तुझे पाने को भटकता दिल फकीर ही सही

इश्क की आखिरी सांसों की जिंदगी हो तुम
मरते रांझे के सीने में धड़कती हीर ही सही

तेरे जख्मों की किताब को पढ़ता है दीवाना
तेरी कहानी में जो मिले वो तकदीर ही सही

Written by Rajeev Singh

shayari – अहसासों को अपने दिल में न दबाया करो

shayari latest shayari new

चलती सांसों को शायरी इमेज

अहसासों को अपने दिल में न दबाया करो
जो भी कहना हो उसे खुलकर बताया करो

जिंदगी के दर्द को तुम छुपाते हो क्यों हमसे
मेरी सुनो और तुम अपनी भी सुनाया करो

ये वादा है तुमसे कि तेरा हर जख्म भर दूंगी
मेरी मोहब्बत पे ऐतबार कर आ जाया करो

साथ दो मेरा कि मैं अपने वजूद को पा सकूं
चलती सांसों को कोई मकसद दिलाया करो

shayari green pre shayari green next

शायरी – मिला अब तक किसी के पास इस दर्द का इलाज नहीं

love shayari hindi shayari

सांस और धड़कनों में रही अब तेरी भी याद नहीं
नसों में दौड़ती जिंदगी किसी की मोहताज नहीं

वो कौन सा मौसम था कि तेरा शोर था जीवन में
ये कौन सा मौसम है कि दूर तक कोई आवाज नहीं

बड़ी मशक्कत से मैंने ये तनहा दुनिया बसाई है
महफिल में बुलावे पर कहता हूं फिर कभी, आज नहीं

अपने जख्मों के लिए तलाशते रहे हसीं चारागर
मिला अब तक किसी के पास इस दर्द का इलाज नहीं

चारागर- डॉक्टर, इलाज करने वाला

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – जो भी खोया था वो याद आया

love shayari hindi shayari


जिसको पाया था उसे भूल गया
जो भी खोया था वो याद आया

मुझे जो बातें उनसे कहनी थी
उनके जाने के बाद याद आया

अपनी हर सांस की आहट पे
मुझे आठों पहर वो याद आया

ये गजल जब भी पढ़ी हमने
उनके आने का सबब याद आया


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी गजल- जख्म तो सब देते हैं मगर

love shayari hindi shayari


जिंदगी में इतने गम हैं
मरा नहीं, ये क्या कम है

तुझे अपने सीने में रखेंगे
जब तलक सांसों में दम है

जख्म तो सब देते हैं मगर
कोई नहीं मेरा मरहम है

तुमको खोकर मैंने जाना
हर खुशी एक वहम है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – उसे फिर से पा लिया जिसे खो चुका था मैं

love shayari hindi shayari

उसे फिर से पा लिया जिसे खो चुका था मैं
फिर से मिली सांस वरना मर चुका था मैं

अच्छा हुआ फिर रास्तों पर तुम मिल गए
तेरी यादों के हर जख्म से उबर चुका था मैं

कांटे जब दिल को फूल सा सुख देने लेगे
उससे पहले दर्द से बहुत गुजर चुका था मैं

इश्क की खामोशी में कहां तक सुकूं मिले
बेचैन रात में सन्नाटा सा पसर चुका था मैं

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – दुनिया को हम इस कदर दिल से ठुकराते हैं

love shayari hindi shayari

दुनिया को हम इस कदर दिल से ठुकराते हैं
इस खून की बस्ती में बस आंसू बहाते हैं

जिनके बगैर हमको आता नहीं चैन कभी
उनकी ही तरफ हम तो नजरें न उठाते हैं

जीने को आए हैं पर आखिर क्यूं आए हैं
ऐसे ही सवालों को हम सोचते रह जाते हैं

दम मेरा है घुटता इस भीड़ में अब रहके
बस चांद संग तन्हाई में हम सांस ले पाते हैं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जगती रातों में तू मेरे अंदर कहीं पे रहती है

love shayarihindi shayari

महकी सांसें, दुखता सीना, रोती आंखें कहती है
जगती रातों में तू मेरे अंदर कहीं पे रहती है

दरिया के आंसू में डूबा एक चिराग बुझ गया
लेकिन दिल में डूबके भी तेरी शम्मा जलती है

देखकर मैं रूक गया था, दूर तू जाती रही
ऐसा अक्सर ही होता है जब राहों पे तू मिलती है

लिखते-लिखते सो गया था आज भी तुमपे गजल
पर मेरे ख्वाबों में आकर ये गजल तू गाती है

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – आईना ये बता कि और हम क्या-क्या देखें

love shayari hindi shayari

आंख में अश्क और सूरत पे उदासी देखें
आईना ये बता कि और हम क्या-क्या देखें

ढल रही शाम में उठती हैं अंधेरी लपटें
रात की आग में रोज चांद को जलता देखें

सुन रही हो तुम, मैं तुमको सदा देता हूं
मौत तक हम तेरे आने का रास्ता देखें

जिंदगी का कोई कोना अब कहीं न बचा
वज़ूद को अब हर सांस पे टूटता देखें

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – मैं न जानूं कि ये किसकी दास्तां है

love shayari hindi shayari

न रिश्ता है कोई, न नाता है कोई
मगर मेरे दिल को सताता है कोई

मैं न जानूं कि ये किसकी दास्तां है
जिसे मेरा कहकर लिखाता है कोई

सीने को गम की पायल पहनाकर
मेरी जिंदगी को नचाता है कोई

यही राह दिल तक उसे ले गई है
इसी सांस में आता-जाता है कोई

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – तस्वीर के मानिंद ही आँखों में आ जरा

love shayari hindi shayari

घूंघट उठा ऐ अजनबी, सूरत दिखा जरा
पर्दे की ओट में न छिप, बाहर निकल जरा

दिल के सफ़र में कट गई रातें जगी हुई
मुद्दत हुए सोया नहीं, लोरी सुना जरा

बढ़ती हुई ये धड़कनें, होती हुई तेज सांस
पसीने-पसीने हो गया, आंचल डुला जरा

राहत मिलेगी चंद पल तुझको निहारकर
तस्वीर के मानिंद ही आंखों में आ जरा

©RajeevSingh # love shayari

शायरी – दिल बता दे कि मेरी प्यास कितनी है बची

love shayari hindi shayari

जान कितनी है बची, सांस कितनी है बची
दिल बता दे कि मेरी प्यास कितनी है बची

क्या जरूरत है तुझे गर्दिशों के जुगनू की
हुस्न की ये रोशनी तेरे पास कितनी है बची

जब भी तुम याद करोगे मैं चला आऊंगा
मेरे अंदर तेरी ये तलाश कितनी है बची

कभी शायद मेरी भी गमे-दुनिया संवर जाए
मेरी जां, तेरे आने की आस कितनी है बची

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – गम की तन्हाई में तेरी याद मेरे चारों तरफ है

prevnext

मैं अंधेरे में हूं लेकिन ये सितारों की चमक है
गम की तन्हाई में तेरी याद मेरे चारों तरफ है

नजरअंदाज मैं करता रहा हूं इस जमाने को
मेरी आंखों में बसा एक सुनसान फलक है

तेरे सैलाबे-मुहब्बत का वो दरिया ना रहा
रेत में ताक रही अब मेरी तस्वीरे-पलक है

सांस की डोर से बांधी है ये उम्र तन्हा
भीड़ की राह पे मेरी सांसों का अंदाज अलग है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari