Tag Archives: साहिल शायरी

शायरी – दर्द मिलता है इश्क के रहगुजर की कैद में

prevnext

जिंदगी की हर मंजिल मुकद्दर की कैद में
आज भी है मेरा साहिल समंदर की कैद में

कदम कदम पर चुभकर नश्तर ने ये कहा
दर्द मिलता है इश्क के रहगुजर की कैद में

जिस हसीं को देखकर गुम हो गया था मैं
खोया है तबसे दिल उसी मंजर की कैद में

रोते हुए बादल को है सदियों से ये खबर
जलती हुई चांदनी है एक पत्थर की कैद में

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

 

Advertisements

शायरी – दीवानगी में न जाने कल कहां पे रहूँगा

love shayari hindi shayari

ये दिल किसी मुकाम पर ठहर न सका
मीलों तलक चला मगर मंजिल पा न सका

दीवानगी में न जाने कल कहां पे रहूंगा
आवारगी में अपना घर भी बना न सका

सर पे कफन है और जलता हुआ दिल है
चाहा बहुत पर जिस्म को खुद जला न सका

तड़पती हुई लहरों को शायद नहीं मालूम
साहिल की प्यास को वो कभी बुझा न सका

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – जो भी दुनिया में मुहब्बत पे जाँनिसार करे

prevnext

जो भी दुनिया में मुहब्बत पे जाँनिसार करे
ऐसे दीवाने से आखिर क्यूँ कोई प्यार करे

रेत प्यासा सा तड़पता है हर साहिल पे
कितनी सदियों से वो लहरों का इंतजार करे

बाँटते रहते हैं वफा वो कई किश्तों में
बेवफाई का यहाँ जो भी कारोबार करे

चाहता हूँ, तेरे दामन का किनारा तो मिले
दिल भी आख़िर ये फरियाद कितनी बार करे

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – मुझसे वो खफा है और दिल मुझसे खफा है

prevnext

हालात ही कुछ ऐसे हैं, तो आंसू क्यूं न आए
जिसके खयालात में हम थे, वो अब तक न आए

रोने गए सागर किनारे, साहिल पे ही बैठ गए
ये सोचते डूब गए कि पानी सर तक न आए

मुझसे वो खफा है और दिल मुझसे खफा है
खंजर चुभे हैं दोनों तरफ से पर आह तक न आए

सबसे जुदा है मेरा गम, फूल की तरह नाजुक है
इतने जतन से संभाला है कि मुस्कान तक न आए

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari