Tag Archives: सिला शायरी

shayari – नहीं थी खबर कि इस तरह रुसवा करोगे हमें

shayari latest shayari new

मोहब्बत कर बैठी शायरी इमेज

नहीं थी खबर कि इस तरह रुसवा करोगे हमें
बस्ती में जाकर सबसे तुम बेवफा कहोगे हमें

एक ऐतबार पर खा चुकी अब तक इतने धोखे
देखती हूं कि कब तक ठोकरें लगाओगे हमें

मेरी जिंदगी में ये कैसी आग लगा गए हो तुम
खाक हो चुकी हूं और कितना जलाओगे हमें

दिल नादान था जो तुमसे मोहब्बत कर बैठी
कहां सोचा कि आखिर में ये सिला दोगे हमें

©rajeevsingh                                    shayari

shayari green pre shayari green next

Advertisements

शायरी – दिल लगाना भी सजा होता है

love shayari hindi shayari


दिल लगाना भी सजा होता है
तेरे दर पे ये सिला मिलता है

मैंने क्या-क्या ना किए तेरे लिए
तुझे खोजूं तो गिला मिलता है

जब गुजरता हूं गली से तेरी
तेरा घर बंद किला मिलता है

बुत तो जिंदा रही खामोशी से
कोई मंदिर में जला मिलता है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – कांटें मिले हैं जिसको उसे मैं दिलजला लिखूं

love shayari hindi shayari

इस दर्द की तारीफ में अब क्या गिला लिखूं
दिन-रात के फिराक का क्या सिला लिखूं

बस्ती में खिला फूल भी औरों का हो चुका
कांटे मिले हैं जिसको उसे दिलजला लिखूं

घर लौटते हैं किसलिए अपनों से लड़ते लोग
नहीं जानता उन्हें तो क्यूं बुरा भला लिखूं

मेरे सफर में रह सका न कोई मेरे साथ
तन्हाइयों को ही मैं अब सिलसिला लिखूं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – मैं आईना बनके उसका इंतजार करता हूं

love shayari hindi shayari

सबको इतना मैं दिल के करीब लगता हूं
इसलिए दुनिया को थोड़ा अजीब लगता हूं

आंधियां चलती हैं इश्क के जंगल में
मैं नशेमन की तरह गिरके टूट जाता हूं

हर घड़ी मुद्दत बढ़ती रही जुदाई की
धड़कनों को खामोश रहके मैं गिनता हूं

अभी सिला न मिला है मुझे पत्थर से
मैं आईना बनके उसका इंतजार करता हूं

(नशेमन- घोंसला)

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari