Tag Archives: jazbat

जज्बात से हौसला मिला और हम दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली

मैं गुजरात से कैलाश हूं। मेरी स्टोरी जज्बात पेज पर पिछले सप्ताह पोस्ट हुई थी। मेरी जीएफ मेरे सामने वाले मकान में रहती है। गांव और बिरादरी के लोग हमारी शादी का विरोध कर रहे थे जबकि हमारे मां-बाप तैयार थे।

समाज धमकी दे रहा था कि अगर हमने शादी की तो वो हमें गांव से बाहर निकाल देंगे। हम एक ही गांव के हैं इसलिए सभी हमें ताना मारते थे। मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था तो जज्बात पर स्टोरी पोस्ट की। पेज एडमिन और अन्य लोगों ने हौसला दिया। फिर मैंने जीएफ से शादी कर ली।

पुलिस हमारे साथ थी। शादी के बाद लोग हमें कुछ कह नहीं पाए। हमारे पास शादी के कागज थे। शुक्रिया जज्बात।

court marriage

कैलाश की यह स्टोरी पोस्ट हुई थी –

मैं गुजरात से कैलाश। मेरा गांव है जिसमें मैं एक लड़की से प्यार करता हूं। वो मेरे पड़ोस में रहती है। बचपन से ही हम साथ पढ़े। पहली क्लास से ग्रेजुएशन तक हम दोनों सच्चे दोस्त की तरह साथ चले और हमारी दोस्ती बढ़ती ही गई। वो मुझे बहुत प्यार करती थी पर मुझे इसका अहसास नहीं था। लगता था कि वो मेरी अच्छी और सच्ची दोस्त है। मैं ये भी सोचता था दोस्ती में प्यार नहीं हो सकता। मुझे इस बात का भी डर था कि हम दोनों पड़ोसी हैं तो हमारा रिश्ता कोई स्वीकार नहीं करेगा।

जब हम 11वीं में गए तब उसने मुझे प्रपोज किया था। मैंने उस वक्त उसका जवाब नहीं दिया और मैं हंसने भी लगा। हम दोनों एक ही बस से कॉलेज जाते थे। वो मुझे प्रपोज करने के बाद जवाब के लिए रोज पूछती थी तो मैंने एक दिन उसको बस के अंदर ही थप्पड़ मार दिया। मैंने उससे बात करना ही छोड़ दिया। हम दोनों दोस्त थे इसलिए ये सब मुझे अच्छा नहीं लग रहा था। फिर एक ही बस स्टैंड पर हम दोनों रोज खड़े होते थे लेकिन बात नहीं करते थे। वो मुझे सॉरी बोलना चाहती थी या मैं भी उसको सॉरी बोलना चाहता था लेकिन हम एक-दूसरे से कह नहीं पाए।

इसके बाद मुझे उसकी याद आने लगी क्योंकि ग्रेजुएशन में वो दूसरे कॉलेज में जाने लगी थी। मैं अकेला पड़ गया था। उसे लग गया था कि मैं उससे अब कभी बात नहीं करूंगा। मुझसे खाना नहीं खाया जाता था, वो मेरा कॉल भी रिसीव नहीं करती थी। उसने मैसेज किया था कि मुझे अकेला छोड़ दो। फिर एक दिन मेरे कॉलेज में एनुअल फंक्शन था जिसमें मैंने ड्रामा में एक्टिंग की थी। वो देखने आई थी तो मुझे लगा था कि वो मेरी एक्टिंग के बारे में कुछ कहेगी। हुआ भी वैसा ही। ड्रामा के बाद उसने मिलने के लिए बुलाया।

उसका मैसेज आया तो मैं उससे कॉलेज गेट पर मिला। मैंने उसको गले लगा लिया और वो भी बहुत खुश हुई। मुझे पता चला कि उसके पापा शादी के लिए लड़का खोज रहे थे। मैंने उससे कहा कि तुम शादी से मना कर देना चाहे कोई भी लड़का देखने आए। हम दोनों ने अपने मम्मी पापा से हमारी शादी के बारे में बात की। थोड़े दिनों में दोनों के मम्मी पापा तो मान गए लेकिन हमारे गांव समाज के लोगों ने विरोध कर दिया। कहा कि अगर यह शादी हुई तो हुक्का पानी बंद कर देंगे और गांव से निकलना पड़ेगा।

हम दोनों कोर्ट मैरिज कर सकते हैं लेकिन हम एरेंज मैरिज करना चाहते हैं जिसके लिए हमारी बिरादरी तैयार नहीं है क्योंकि हम एक ही गांव के हैं। रोज लोगों के ताने सुन-सुनकर मैं परेशान हूं। हम दोनों कहीं साथ नहीं जा सकते क्योंकि रास्ते में लोग टीका-टिप्पणी करते हैं। हमें क्या करना चाहिए?

Advertisements