हमसे अपने लबों को शायरी फोटो

लब प्यार शायरी ईमेज

मेरी कमजोर जुबां ने तुमसे कुछ न कहा
हमसे अपने ही लबों को हिलाया न गया

तुम्हारे दिल तक कोई राह न थी, तुमको शायद हमारी चाह न थी, मोहब्बत की मंजिल कैसे मिलती, अपने कदमों तले हम तेरी राह उम्रभर तलाशते रहे। शायरी ईमेज ।

Leave a Reply